भारत

बजरंग दल के कार्यकर्ता की हत्या को लेकर बवाल, 3 लोग गिरफ्तार, 5 लोगों के शामिल होने का किया दावा

Rani Sahu
21 Feb 2022 12:06 PM GMT
बजरंग दल के कार्यकर्ता की हत्या को लेकर बवाल, 3 लोग गिरफ्तार, 5 लोगों के शामिल होने का किया दावा
x
कर्नाटक (Karnataka) के शिवमोगा में रविवार की रात को बजरंग दल के 23 साल के एक कार्यकर्ता (Bajrang Dal Activist) की चाकुओं से गोदकर हत्याकर दी गई है

कर्नाटक (Karnataka) के शिवमोगा में रविवार की रात को बजरंग दल के 23 साल के एक कार्यकर्ता (Bajrang Dal Activist) की चाकुओं से गोदकर हत्याकर दी गई है. पुलिस (Karnataka Police) ने घटना के बाद एहतियातन शहर में धारा 144 लागू कर दी है. युवक का नाम हर्षा है. उसकी हत्या भारती कॉलोनी की रवि वर्मा गली में हुई है. यह शहर बेंगलुरू से करीब 250 किलोमीटर दूर है, जहां हिजाब का मुद्दा गरमाया हुई है. हालांकि युवक की हत्या के कारणों का पता नहीं चल सका है, लेकिन राज्य में इस पर राजनीति गरमा गई है. ग्रामीण विकास एवं पंचायत राज मंत्री एवं शिवमोगा से विधायक केएस ईश्वरप्पा ((KS Eshwarappa)) ने जिले के ''गुंडों'' पर हत्या का आरोप लगाया है. आइए आपको 10 बातों के जरिए बताते हैं कि इस घटना में अब तक क्या-क्या हुआ है…

हर्षा की हत्या के बाद मृतक के समर्थक सड़कों पर उतर आए और अपना आक्रोश जाहिर किया. टेलीविजन पर प्रसारित वीडियो में वे पथराव करते नजर आ रहे हैं, लेकिन उनका निशाना कौन था यह अभी स्पष्ट नहीं हो पाया है.
मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने बेंगलुरू में कहा, 'जांच शुरू हो गई है और कुछ पुख्ता सबूत मिले हैं. हमें उम्मीद है कि हत्यारों को जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा. मैं शिवमोगा के लोगों से कहना चाहूंगा कि हमने हत्यारों को जल्द गिरफ्तार करने के लिए कदम उठाए हैं. अफवाहों पर ध्यान ना दें. कानून एवं व्यवस्था बनाए रखें.'
कर्नाटक के गृह मंत्री अर्गा ज्ञानेंद्र शिवमोगा पहुंचे और कार्यकर्ता के परिवार से मुलाकात की. उन्होंने बताया कि पुलिस को कुछ पुख्ता सबूत मिले हैं और घटना में शामिल लोगों को जल्द गिरफ्तार किया जाएगा. 23 वर्षीय एक युवक की हत्या की गई है. ऐसी घटनाएं नहीं होनी चाहिए. पुलिस को सबूत मिले हैं और घटना में शामिल लोगों को जल्द गिरफ्तार किया जाएगा. मैं लोगों से शांति बनाए रखने की अपील करता हूं.'
गृह मंत्री अर्गा ज्ञानेंद्र ने कहा, 'हमने 3 लोगों को गिरफ्तार किया है. मेरी जानकारी के अनुसार, इस हत्या में 5 लोग शामिल हैं. पूछताछ चल रही है. बहुत जल्द हम हत्या से संबंधित जानकारी प्राप्त करेंगे और जांच के बाद ही कुछ कहा जा सकता है.'
बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव सीटी रवि ने कहा, 'बजरंग दल के कार्यकर्ता हर्षा की कल (कर्नाटक में) हत्या कर दी गई थी. मुझे लगता है कि यह एक साजिश है, उसकी हत्या एक साजिश के तहत की गई है. इसकी गंभीरता से जांच होनी चाहिए. सरकार इस मामले को गंभीरता से लेगी. जरूरत पड़ी तो केस एनआईए को सौंपा जाए.
मंत्री ईश्वरप्पा ने आरोप लगाया, 'मुसलमान गुंडों ने हमारे कार्यकर्ता की हत्या कर दी है, वह केवल 23 वर्ष का था और उसकी शादी भी नहीं हुई थी. इन मुसलमानों ने कभी शिवमोगा में इतनी हिम्मत नहीं की थी.' ईश्वरप्पा ने कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष डीके शिवकुमार पर भी आरोप लगाया कि उनके बयान ने अल्पसंख्यक समुदाय में असामाजिक तत्वों को उकसाया.
उनके बयान पर डीके शिवकुमार ने कहा, 'ईश्वरप्पा पगल आदमी हैं, वह बकवास बातें बोलते हैं. उनके खिलाफ देशद्रोह का मामला दर्ज किया जाना चाहिए और बीजेपी को उन्हें बर्खास्त करना चाहिए. उन्हें देश में कोई माफ नहीं कर सकता. उन्होंने कहा था कि लाल किले पर राष्ट्रीय ध्वज के स्थान पर भगवा ध्वज लगाना चाहिए. मुझे पता नहीं बीजेपी चुप क्यों है?'
कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने इस घटना को लेकर गृह मंत्री अरागा ज्ञानेंद्र के इस्तीफे की मांग की. उन्होंने कहा, 'मैं इस हत्या की निंदा करता हूं. कांग्रेस अहिंसा में विश्वास करती है. दोषियों को तुरंत सजा मिलनी चाहिए.' वहीं, श्री राम सेना के संयोजक प्रमोद मुतालिक ने पीपुल्स फ्रंट ऑफ इंडिया और सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ इंडिया पर प्रतिबंध लगाने की मांग की.
उपायुक्त आर सेल्वामणि ने कहा, 'पुलिस मामले की जांच कर रही है और अपराधियों का पता लगाने की कोशिश जारी है. शहर में धारा 144 लागू की गई है इसलिए स्कूल और कॉलेज में एक दिन की छुट्टी रहेगी.'
पुलिस अधीक्षक बीएम लक्ष्मी प्रसाद ने पत्रकारों को बताया कि घटना में शामिल अपराधियों का पता लगाने के लिए एक कार्यबल का गठन किया गया है. प्रसाद ने कहा, 'हमारी प्राथमिकता उनका (घटना में शामिल अपराधियों का) पता लगाना और उन्हें सजा दिलवाना है. हम लोगों से सहयोग करने और कोई भावनात्मक कदम नहीं उठाने की अपील करते हैं.'


Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta