Top
भारत

75 हजार में बेच रहे थे रेमडेसिविर इंजेक्शन, राजधानी के होटल से 2 आरोपी गिरफ्तार

Admin2
5 May 2021 7:05 AM GMT
75 हजार में बेच रहे थे रेमडेसिविर इंजेक्शन, राजधानी के होटल से 2 आरोपी गिरफ्तार
x
बड़ी कार्रवाई

रांची पुलिस ने रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबजारी की सूचना पर दो लोगों को बिरसा चौक के समीप एक प्रतिष्ठित होटल से हिरासत में लिया है। पकड़े गए संदिग्धों में जगन्नाथपुर थाना क्षेत्र के हवाई नगर निवासी अभिषेक कुमार और गुलशन कुमार हैं। दोनों रिश्ते में भाई हैं। इनके पास से पुलिस ने छह रेमडेसिविर इंजेक्शन जब्त किया है। पूछताछ में पुलिस को यह जानकारी मिली कि दोनों इंजेक्शन की कालाबजारी नहीं कर रहे थे। इन दोनों ने कोरोना संक्रमित अपने मरीज के लिए कोलकाता से रेमडेसिविर इंजेक्शन मंगवाए थे। बच जाने की वजह से दोनों एक व्यक्ति को ऊंची कीमत में इंजेक्शन बेच रहे थे। इसकी जानकारी मिलने के बाद पुलिस की विशेष टीम ने छापेमारी कर दोनों को पकड़ा है। पुलिस पकड़े गए दोनों आरोपी से पूछताछ कर रही है।

जानकारी के अनुसार पकड़े गए अभिषेक का मामा कोरोना संक्रमित है। नामकुम के द्वारिका अस्पताल में उसका इलाज चल रहा है। अस्पताल की ओर से हर हाल में इंजेक्शन देने की बात कही गई थी। इस पर अभिषेक ने 96 हजार ऑनलाइन पेमेंट कर कोलकाता से इंजेक्शन मंगवाया। जब तक अभिषेक द्वारा मंगवाया गया रेमडेसिविर इंजेक्शन उसके पास पहुंचा, तब तक उसके मामा को अस्पताल के द्वारा ही इंजेक्शन लगाया जा चुका था। ऐसे में उसका इंजेक्शन बच गया तो वह सोशल मीडिया पर जरूरतमंदों को देखकर उसे बेचने निकल गया। धुर्वा के ही रंजन नाम के एक युवक से 75 हजार में सभी छह इंजेक्शन बेचने की बात हुई थी। बातचीत के बाद खरीदार युवक ने इसकी सूचना पुलिस को दी।

जानकारी मिलने के बाद पुलिस की एक विशेष टीम सादे लिबास में मौके पर पहुंची और इंजेक्शन बेचने पहुंचे अभिषेक और गुलशन को हिरासत में ले लिया। उसकी कार (जेएच-01एएल-1326) भी जप्त कर ली गई है। महामारी के दौर में निर्धारित मूल्य से ऊंची कीमत पर बेचने की वजह से कालाबाजारी मामले में एफआइआर दर्ज करने की तैयारी चल रही है।

खरीदार युवक ने अभिषेक से फोन पर बातचीत के बाद उसे पहले मेन रोड बुलाया। बाद में दूसरे नंबर से कॉल कर उसे बिरसा चौक के समीप स्थित एक प्रतिष्ठित होटल के पास बुलाया। अभिषेक इंजेक्शन बेचने के लिए बिरसा चौक पहुंच गया। इस बीच वहां पहले से पुलिस की टीम सादे लिबास में मौजूद थी। जैसे अभिषेक वहां पहुंचा, खरीदार ने पुलिस को इशारा कर उसकी ओर भेजा। इस बीच सुखदेव नगर थाने के इंस्पेक्टर ममता कुमारी ने अभिषेक और उसके साथ मौजूद गुलशन को खदेड़ कर दबोच लिया। इसके बाद दोनों को जगन्नाथपुर थाने ले गई। कालाबाजारी की सूचना पर पहुंची टीम को कोतवाली एएसपी मुकेश कुमार लुनायत लीड कर रहे थे।

Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it