भारत

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एम्बुलेंस के लिए रोका अपना काफिला

jantaserishta.com
9 Nov 2022 8:15 AM GMT
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एम्बुलेंस के लिए रोका अपना काफिला
x

न्यूज़ क्रेडिट: आजतक

देखें वीडियो।

नई दिल्ली: हिमाचल प्रदेश में विधानसभा चुनाव के आखिरी दो दिन सियासत खूब गरमाने वाली है. लेकिन इस बीच अब कांगड़ा में रैली के लिये पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक एम्बुलेंस के लिये अपना काफिला रोक दिया है.

हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा में प्रधानमंत्री नरेंद्री मोदी ने चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कांग्रेस पार्टी पर हमला बोला. पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस कभी हिमाचल प्रदेश को स्थिर सरकार नहीं दे सकती हैं. पीएम मोदी ने चंबी में एम्बुलेंस को रास्ता देने के लिए कुछ देर के लिए अपना काफिला रोक लिया था. पीएम के इस कदम की सराहना की जा रही है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि कांग्रेस की सरकारें जिन राज्यों में बची हैं. यानि राजस्थान और छत्तीसगढ़. उन राज्यों से कभी भी विकास की खबरें नहीं आती हैं. वहां से सिर्फ आपस में झगड़ों की ही खबरें आती हैं. इस तरह से राज्य का विकास नहीं हो सकता है. मोदी ने कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि कांग्रेस का मतलब है कि अस्थिरता, भ्रष्टाचार और घोटाले की गारंटी.
पीएम मोदी ने कहा कि बीजेपी के लिए विकास सर्वोच्च प्राथमिकता है. बीजेपी की पहचान सुशासन और गरीब कल्याण नीतियों से है. भाजपा वही बातें कहती है जो कर सकती है. कई राजनीतिक दल परिवारवाद, वोटबैंक के भरोसे चल रहे हैं.
हिमाचल में चुनावी रैली में बोलते हुए पीएम मोदी ने कहा कि जनता को जैसे-जैसे बीजेपी सरकारों का अनुभव मिलता है, वैसे-वैसे लोगों का विश्वास और बढ़ता जाता है. इसीलिए एमपी, गुजरात, हरियाणा, गोवा जैसे राज्यों में कई बार बीजेपी सत्ता में वापस आई. उत्तराखंड में लोगों ने पुरानी परंपरा बदली, यूपी में 40 साल बाद कोई पार्टी लगातार सरकार में वापस आई. मणिपुर में बीजेपी सरकार ने इतिहास बनाया.
वहीं कांग्रेस के प्रति लोगों में गुस्सा है. एक बार सरकार से गई तो वापस लौटना मुश्किल है. तमिलनाडु में वहां के लोगों ने 60 साल पहले कांग्रेस को निकाल दिया और अबतक वापस नहीं आई. बंगाल और त्रिपुरा के लोगों ने 50 साल से कांग्रेस की वापसी नहीं कराई. यूपी, बिहार, गुजरात में 40 साल पहले बाहर किया था. ओडिशा के लोगों ने 30 साल से सराकर में आने से रोक दिया. नागालैंड में 25 साल से कांग्रेस चुनाव हार रही है. दिल्ली समेत कई राज्यों में कांग्रेस का एक भी विधायक नहीं है.
कांग्रेस का आधार आज भी परिवारवाद ही है. ऐसी कांग्रेस पार्टी हिमाचल के लोगों की अपेक्षाओं, आकाक्षाओं को पूरा नहीं कर सकती. आपने 5 साल पहले कांग्रेस की विदाई कर दी थी अब घुसने मत दीजिए. आज मुझे खुशी है कि हिमाचल के लोगों को समझ आ गया है कि 5 साल बाद सरकार बदलने की परंपरा ने राज्य का नुकसान किया है. नौजवानों के सपनों को कुचल दिया. कांग्रेस जैसे दल सोचते हैं कि 5 साल बाद सरकार बदलेगी ही तो मौज करो. इसलिए पूरा ध्यान रुपये इकठ्ठे करने में लगे रहते हैं.
इस परंपरा को पूरे देश में बदलने का बीड़ा बीजेपी ने उठाया है. हम ऐसी परंपरा बनाना चाहते हैं कि सरकारें लगातार काम करती रहें. जब सरकार में निरंतरता होती है तो लोगों को हिसाब मांगने का मौका मिलता है. आप मेरे से हिसाब मांग सकते हैं, लेकिन अगर आपने मुझ सत्ता में नहीं लौटाया होता तो हिसाब नहीं ले सकते थे.
Next Story
© All Rights Reserved @ 2023 Janta Se Rishta