भारत

जहरखुरानी करने वाले गैंग का भंडाफोड़, 'खुशी के लड्डू' खिलाकर देते वारदात को अंजाम, 3 बदमाश गिरफ्तार

Admin2
8 Nov 2022 5:29 PM GMT
जहरखुरानी करने वाले गैंग का भंडाफोड़, खुशी के लड्डू खिलाकर देते वारदात को अंजाम, 3 बदमाश गिरफ्तार
x
पढ़े पूरी खबर

उत्तरी दिल्ली पुलिस ने CCTV कैमरों की फुटेज के आधार पर जहरखुरानी करने वाले गैंग का भंडाफोड़ किया है. पुलिस के मुताबिक, ये लोग सबसे पहले टारगेट सेट करते थे. फिर उसके आस-पास खुशी मनाने लगते और लोगों को लड्डू बांटने लगते थे. मौका देखकर बड़े ही शातिराना तरीके से अपने शिकार को नशे वाला लड्डू खिला देते.

लोगों पर जैसे ही नशे वाले लड्डू का असर होता था. उसका सारा सामान लेकर मौके से फरार हो जाते थे. पकड़ में आए आरोपियों के नाम कमल सिंह उर्फ लंगड़ा, पवन उर्फ टेढ़ा और गौरव उर्फ हड्डी है. इन तीनों ने अपने नाम में लुटेरा कोड लगा रखा था.
23 अक्टूबर को 'खुशी के लड्डू' खिलाकर लूटा था व्यापारी
ईश्वर दीन मिश्रा ने 23 अक्टूबर को दिल्ली पुलिस में शिकायत दी थी. बताया था कि वह 23 सीलिंग फैन और कुछ कॉपर वायर लेकर गुलाबी बाग के रास्ते नजफगढ़ जा रहे थे. रास्ते में अचानक वह बेहोश होने लगे. जब उन्हें होश आया तो, उन्होंने देखा कि उनका सारा सामान गायब था.
पुलिस ने जब उनसे पूरी जानकारी ली, तो पता लगा कि रास्ते में कुछ लोग लड्डू बांट रहे थे. उन्होंने भी एक लड्डू खाया था. इसके कुछ देर बाद वह बेहोश हो गए थे.
पुलिस ने खंगाले 100 CCTV फुटेज, तब खुला राज
शिकायत के बाद दिल्ली पुलिस ने एफआईआर दर्ज की और मामले की जांच शुरू की. पुलिस को अंदाजा था कि वारदात के पीछे जहरखुरानी गैंग का हाथ हो सकता है. पुलिस ने वारदात वाली जगह के आस-पास के इलाकों के सीसीटीवी कैमरे की फुटेज की जांच शुरू की.
करीब 100 सीसीटीवी कैमरों की फुटेज देखने के बाद पुलिस को एक सीसीटीवी कैमरे में 2 लोग व्यापारी का सामान ले जाते दिखे. फिर पुलिस ने उनमें से एक की पहचान करके उसे गिरफ्तार कर लिया. पूछताछ के बाद पुलिस ने उसके दो और साथियों के बारे में पता किया और उन दोनों को भी गिरफ्तार कर लिया.
गैंग के अपराधिक इतिहास
दिल्ली पुलिस के मुताबिक, कमल सिंह उर्फ लंगड़ा के खिलाफ अलग-अलग थानों में 18 मामले दर्ज हैं. पवन के खिलाफ आपराधिक मामले दिल्ली के अलग-अलग थानों में दर्ज है. गौरव हड्डी के खिलाफ 7 मामले दर्ज है. पुलिस ने बताया कि तीनों को जुए खेलने की लत है और ड्रग्स के आदी हैं.
अब दिल्ली पुलिस उस लोगों की तलाश कर रही है, जो इनसे चोरी के सामान खरीदते थे. इसके अलावा पुलिस ने नशीली दवा इन अपराधियों को देने वाले दुकानदार की भी पहचान कर ली है. वह बिना प्रिसक्रिप्शन के इन लोगों को दवा दे देता था.
Next Story
© All Rights Reserved @ 2023 Janta Se Rishta