भारत

निर्मला सीतारमण ने कहा- कांग्रेस के पास एक परिवार को फायदा पहुंचाने के अलावा कोई विजन नहीं

jantaserishta.com
11 Feb 2022 6:26 AM GMT
निर्मला सीतारमण ने कहा- कांग्रेस के पास एक परिवार को फायदा पहुंचाने के अलावा कोई विजन नहीं
x

नई दिल्ली: राज्यसभा में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आज कहा कि अगर हमारे पास भारत की आज़ादी के 100 साल पूरे होने पर कोई विजन नहीं होगा तो हमें उसी तरह से भुगतना पड़ेगा जैसे हमें 70 सालों में भुगतना पड़ा जिसमें एक परिवार को बनाने और फायदा पहुंचाने के अलावा देश में और कोई विजन नहीं था.

MGNREGA का दुरुपयोग हुआः वित्त मंत्री
वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आज राज्यसभा में कहा कि MGNREGA उनकी (कांग्रेस) की वजह से एक अधिनियम था, लेकिन MGNREGA का दुरुपयोग भी उनके कारण हुआ. यह घोस्ट अकाउंट से प्रभावित था. MGNREGA के दुरुपयोग का पूरा श्रेय भी ले लो. हम इस योजना का पारदर्शी और सही तरीके से उपयोग करते हैं.
कोरोना संकट में भी 6.2% सीपीआई मुद्रास्फीतिः वित्त मंत्री
राज्यसभा में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आज कहा कि कोरोना महामारी की वजह से जीडीपी में 9.57 लाख करोड़ रुपये का नुकसान हुआ लेकिन सप्लाई साइड में हुए अवरोध के बावजूद भी भारत की सीपीआई मुद्रास्फीति अब 6.2% है.
बजट स्थिरता की बात करता हैः वित्त मंत्री
राज्यसभा में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आज कहा कि अगर हमारे पास भारत की आज़ादी के 100 साल पूरे होने पर कोई विजन नहीं होगा तो हमें उसी तरह से भुगतना पड़ेगा जैसे हमें 70 सालों में भुगतना पड़ा जिसमें एक परिवार को बनाने, उसका समर्थन करने और उसको फायदा पहुंचाने के अलावा देश में और कोई विजन नहीं था. उन्होंने आगे कहा कि बजट स्थिरता की बात करता है, इस बजट में पिछले साल की कुछ योजनाओं को आगे बढ़ाया गया है और वो योजनाएं आने वाले 25 सालों में हमारा मार्गदर्शन करेंगी.
बजट में तकनीक को प्राथमिकताः निर्मला सीतारमण
राज्यसभा में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आज कहा कि इस बजट में तकनीक को प्राथमिकता दी गई है, इसका एक उदाहरण कृषि में सुधार करने और उसको मॉडर्न बनाने के लिए ड्रोन को लाना है. स्टॉर्टअप को प्रोत्साहन दिया जा रहा है, हमने देखा कि देश में जिस मजबूती के साथ स्टॉर्टअप आ रहे हैं ऐसा विश्व में कहीं नहीं हुआ.
कृषि सुधार में ड्रोन की अहम भूमिकाः निर्मला सीतारमण
वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आज राज्यसभा में कहा कि भारत की कृषि में सुधार और आधुनिकीकरण के लिए ड्रोन को एक उपकरण के रूप में बहुत ही प्रभावी रूप से इस्तेमाल में लाया जा सकता है. जब आप ड्रोन लाते हैं, तो इसके कई फायदे होते हैं. ड्रोन के जरिए हम उर्वरकों, कीटनाशकों के उपयोग में दक्षता लाने में सक्षम हुए हैं और फसल घनत्व का एक अच्छा प्रौद्योगिकी-संचालित मूल्यांकन भी कर सकते हैं और संभवतः उत्पादन के आकार की भविष्यवाणी भी कर सकते हैं.

Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta