भारत

नाबालिग लड़की से गैंगरेप, मौत के बाद तोड़फोड़-आगजनी, इलाके में तनाव का माहौल

Rounak
15 Sep 2021 5:15 PM GMT
नाबालिग लड़की से गैंगरेप, मौत के बाद तोड़फोड़-आगजनी, इलाके में तनाव का माहौल
x
पढ़े पूरी खबर

असम राज्य के कछार जिले के जिला मुख्यालय सिलचर में उस समय स्थिति तनावपूर्ण हो गई जब एक नाबालिग लड़की का शव मिला. शव मिलने के बाद लोगों ने रेप और हत्या का आरोप लगाते हुए जमकर प्रदर्शन किया. साथ ही कई गाड़ियों में आग लगा दी.

सिलचर के आश्रम रोड निवासी एक नाबालिग लड़की रविवार को लापता हो गई थी. शव सिलचर के मधुरा घाट से बरामद किया गया. स्थानीय लोगों ने आरोप लगाया कि नाबालिग के अपहरण, रेप और उसकी हत्या के पीछे आश्रम रोड निवासी रोनी दास का हाथ है.
प्रदर्शन के नाम पर अनियंत्रित भीड़ ने क्षेत्र में जमकर तोड़फोड़ की. इस हिंसा में आम लोगों की मोटरसाइकिलों में भी तोड़फोड़ की गई और आग लगा दी गई. भीड़ ने सुरक्षाकर्मियों पर पथराव किया. आरोपी रोनी दास के परिजनों की दो दुकानों को आग के हवाले कर दिया. भीड़ को खदेड़ने के लिए पुलिस को हवाई फायरिंग करनी पड़ी.
तोड़फोड़ में हमारी कोई भूमिका नहींः पीड़ित परिवार
आगजनी और तोड़फोड़ की घटना पर पुलिस अधिकारियों ने भीड़ को समझाने की कोशिश की कि आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है. हालांकि वे हंगामा करते रहे और दुकानें लूटते रहे. उनमें से कई शराब के नशे में थे. नाबालिग लड़की के पिता ने कहा कि उसने या उसके परिवार के सदस्यों ने इस तोड़फोड़ में कोई भूमिका नहीं निभाई.
दक्षिण असम के डीआईजी देवज्योति मुखर्जी, डीएसपी डॉक्टर कल्याण कुमार दास, ओसी सिलचर सदर, चंदन बोरा, आईसी तारापुर आनंद मेहदी घटनास्थल पर पहुंचे. स्थिति को नियंत्रण में करने के लिए 147 सीआरपीएफ, फायर ब्रिगेड की गाड़ियों को भी तैनात किया गया है. उपद्रवी भीड़ को हटा दिया गया है और स्थिति को नियंत्रण में लाया गया है.
इससे पहले रविवार को एक नाबालिग लड़की लापता हो गई थी और इस मामले में राष्ट्रीय राजमार्ग पुलिस पेट्रोल पोस्ट में एफआईआर दर्ज कराई गई थी. नाबालिग के पिता के मुताबिक 6 लोगों ने उसके साथ गैंगरेप किया. उनकी मांग है कि सभी 6 लोगों को मौत की सजा दी जाए.
Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it