भारत

महबूबा मुफ्ती ने फिर अलापा पाकिस्तान का राग, बीजेपी का हमला

jantaserishta.com
27 March 2022 10:22 AM GMT
महबूबा मुफ्ती ने फिर अलापा पाकिस्तान का राग, बीजेपी का हमला
x

नई दिल्ली: पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी की प्रमुख महबूबा मुफ्ती (Mehbooba Mufti) ने एक बार फिर मोदी सरकार से कश्मीर मुद्दे पर पाकिस्तान (Pakistan) से बातचीत करने के अपने आह्वान को दोहराया है. उन्होंने कहा है कि जब तक सरकार पाकिस्तान और जम्मू-कश्मीर के लोगों से बात करके कश्मीर मुद्दा नहीं सुलझाती, तब तक केंद्र शासित प्रदेश में शांति नहीं आएगी. मुफ्ती के इस बयान पर बिहार के उद्योग मंत्री और बीजेपी नेता शाहनवाज हुसैन (Shahnawaz Hussain) ने निशाना साधा है. उन्होंने कहा कि 'इस आह्वान के पीछे कौन सा दबाव है'.

शाहनवाज हुसैन ने कहा, 'महबूबा मुफ्ती बताएं कि पाकिस्तान से बात क्यों करनी चाहिए? इसके पीछे क्या दबाब है? पाकिस्तान में तो अभी सरकार का ही पता नहीं चल रहा. कब तक इमरान खान वहां प्रधानमंत्री रहेंगे इसका भी कुछ पता ही नहीं है. ऐसे में सरकार, कंगाल खान से क्या बात करेगी?' उन्होंने कहा, 'यह वही इमरान खान हैं जिन्होंने यूक्रेन और रूस के मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की विदेश नीति की तारीफ की है. इमरान खान अब बचने के लिए पीएम मोदी की तारीफ कर रहे हैं.'
शाहनवाज ने महबूबा मुफ्ती पर हमला बोलते हुए कहा, 'महबूबा मुफ्ती आखिर ऐसा क्यों कह रही हैं कि पाकिस्तान से बात करें. वह तो खुद आतंकवादियों के मरने पर आंसू बहाती हैं. 'द कश्मीर फाइल्स' के खिलाफ बयानबाजी करती हैं. उन्हे कश्मीरी पंडितों का कोई दुख दिखाई नहीं देता.' पीडीपी प्रमुख मुफ्ती के बयान पर शिवसेना सांसद संजय राउत ने भी निशाना साधा है. उन्होंने कहा कि पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (PDP) प्रमुख इस तरह की टिप्पणी कर सकती हैं, क्योंकि भारतीय जनता पार्टी ने उनकी पार्टी के साथ पूववर्ती जम्मू-कश्मीर में सरकार बनाकर उनके जैसे लोगों को मजबूत करने का काम किया है.
राउत ने पत्रकारों से कहा कि मुफ्ती के नेतृत्व वाली पीडीपी किसी समय बीजेपी की 'मित्र' थी. उन्होंने दावा किया कि पीडीपी शुरू से ही पाकिस्तान समर्थक रही है और आतंकवादियों के प्रति सहानुभूति रखती है. मालूम हो कि पीडीपी और बीजेपी साल 2015 में जम्मू-कश्मीर में सरकार बनाने के लिए एक साथ आए थे, लेकिन यह गठबंधन जून 2018 में टूट गया था. मुफ्ती ने शनिवार को केंद्र की बीजेपी नीत सरकार से पाकिस्तान और जम्मू-कश्मीर के लोगों के साथ बातचीत का अपना राग दोहराया था. राउत ने कहा कि मुफ्ती ने संसद हमले के दोषी अफजल गुरु का समर्थन किया था, फिर भी बीजेपी ने जम्मू-कश्मीर में उनकी पार्टी के साथ गठबंधन कर सरकार बनाई थी. राउत ने आरोप लगाते हुए कहा, 'अब वही महबूबा मुफ्ती कश्मीर मुद्दे को सुलझाने के लिए पाकिस्तान से बातचीत चाहती हैं. यह BJP का ही पाप है.'

Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta