भारत

ममता सरकार ने UK से कोलकाता आने वाली फ्लाइट्स पर 3 जनवरी से लगाई रोक

jantaserishta.com
30 Dec 2021 12:29 PM GMT
ममता सरकार ने UK से कोलकाता आने वाली फ्लाइट्स पर 3 जनवरी से लगाई रोक
x

कोलकाता: ओमिक्रोन और कोरोना के बढ़ते मामलों के चलते पश्चिम बंगाल सरकार ने तीन जनवरी से यूके से कोलकाता हवाई अड्डे के लिए आने वाली सभी उड़ानों को निलंबित करने का फैसला किया है। प्रदेश में कोरोना और ओमिक्रों के मामले बढ़ रहे हैं। बंगाल में कोरोना के दैनिक मामले फिर से बढऩे शुरू हो गए हैं। रोजाना का आंकड़ा एक हजार को पार कर गया है। स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक पिछले 24 घंटे के दौरान सूबे में कोरोना के 1,089 नए मामले सामने आए हैं। इनमें अकेले कोलकाता के 540 मामले हैं। सूबे में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने राज्य सरकार को पत्र लिखकर इसकी रोकथाम के लिए कदम उठाने को कहा है।

स्वास्थ्य विशेषज्ञों का कहना है कि क्रिसमस पर उमड़ी भारी भीड़ के कारण कोरोना का संक्रमण तेजी से फैलना शुरू हो गया है। नए साल पर यह आंकड़ा और बढ़ सकता है। गौरतलब है कि क्रिसमस व नए साल के मद्देनजर बंगाल में फिलहाल नाइट कफ्र्यू में ढील दी गई है। स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने सावधान करते हुए कहा कि कोरोना के बढ़ते संक्रमण को रोकने के लिए अविलंब कड़े कदम उठाने की जरुरत है। कोलकाता से सटा उत्तर 24 परगना जिला 145 मामलों के साथ कोरोना संक्रमण के मामले में फिलहाल दूसरे स्थान पर है जबकि तीसरे स्थान पर हावड़ा (79) है। इसके बाद दक्षिण 24 परगना (60) और हुगली (59) का स्थान है। मुर्शिदाबाद, झारग्राम, पुरुलिया, अलीपुरदुआर, दक्षिण दिनाजपुर व कलिंपोंग में कोरोना अभी पूरी तरह नियंत्रण में है। वहीं पूर्व मेदिनीपुर, झारग्राम, दार्जिलिंग, दक्षिण दिनाजपुर, हुगली, मालदा, जलपाईगुड़ी, बांकुड़ा और पुरुलिया में कोरोना से मौत का सिलसिला थमा है। कोलकाता में कोराना से अब तक 3,04,720 लोग संक्रमित हुए हैं और 5,611 लोगों की मौत हुई है। उत्तर 24 परगना जिले में कोरोना से अब तक 5,012 लोगों की मौत हुई है। बंगाल में कोरोना से स्वस्थ होने वालों की संख्या बढ़कर 16,32,956 हो गई है। स्वस्थ होने वालों की दर 98.32 प्रतिशत है।
इस बीच, केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने राज्य सरकार को पत्र लिखकर इसकी रोकथाम के लिए कदम उठाने को कहा है। सूबे के स्वास्थ्य सचिव नारायण स्वरूप निगम को संबोधित इस पत्र में कहा गया है कि केंद्रीय स्वास्थ्य व परिवार कल्याण मंत्रालय ने गत 21 दिसंबर को राज्यों को सलाह दी थी कि वे नाइट कफ्र्यू व बड़े समारोहों को नियंत्रित करने जैसे प्रतिबंध लागू करें। बेड की क्षमता बढ़ाए और कोरोना से संबंधित स्वास्थ्य दिशानिर्देशों को कड़ाई से लागू करे। बंगाल, विशेषकर कोलकाता में पिछले दो सप्ताह में कोरोना के मामले तेजी से बढ़े हैं। इस पर तत्काल रोकथाम की जरूरत है। कोरोना संक्रमण बढऩे से रोकने लिए टेस्टिंग, आरटी-पीसीआर, आइसोलेशन और क्वारंटाइन पर विशेष ध्यान दिया जाए। इसके साथ ही जिन इलाकों में संक्रमण के अधिक मामले आ रहे हैं। एसओपी के अनुसार कंटेंनमेंट जोन और बफर जोन की संख्या में इजाफा किया जाए, अस्पतालों को तैयार रखा जाए और कोरोना वैक्सीन की खुराक बढाई जाए।


Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta