भारत

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने कांग्रेसी नेताओं पर लगाया झूठ बोलने का आरोप, जानें मामला

Admin1
26 Nov 2021 9:49 AM GMT
लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने कांग्रेसी नेताओं पर लगाया झूठ बोलने का आरोप, जानें मामला
x

नई दिल्ली: आजादी के अमृत महोत्सव के तहत आज संविधान दिवस मनाया जा रहा है। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने शुक्रवार को कहा कि भारत का संविधान गीता की तरह है, जो नागरिकों को देश के लिए काम करने की प्रेरणा देती है। इस मौके पर उन्होंने विपक्षी दलों के संविधान समारोह में भाग न लेने पर भी बोला। ओम बिरला ने कहा कि उनका कहना था कि उनके लिए बैठने की व्यवस्था नहीं थी, ये झूठ है।

इससे पहले संसद के सेंट्रल हॉल में संविधान दिवस समारोह के उद्घाटन के अवसर पर निचले सदन के ओम बिरला अध्यक्ष ने कहा, "यदि हम में से प्रत्येक देश के लिए काम करने के लिए प्रतिबद्ध है, तो हम 'एक भारत, श्रेष्ठ भारत' का निर्माण कर सकते हैं।" ओम बिरला ने भारत के संविधान की तुलना श्रीमदभगवत गीता से की। उन्होंने कहा कि ये सिर्फ पुस्तक नहीं देश के नागरिकों को देश के लिए काम करने की प्रेरणा देती है।
इस समारोह के दौरान विपक्षी दल कांग्रेस ने हिस्सा नहीं लिया। कांग्रेस के संविधान दिवस कार्यक्रम में न पहुंचने पर ओम बिरला ने विपक्षी पार्टी को निशाने पर लिया। ओम बिरला ने कहा, "उनका कहना था कि उनके लिए बैठने की व्यवस्था नहीं थी इसलिए वे नहीं पहुंचे। लेकिन ये झूठ है।"
ओम बिरला ने आगे कहा, "मल्लिकार्जुन खड़गे और कांग्रेस पार्टी के नेता अधीर रंजन चौधरी दोनों के मंच पर बैठने की व्यवस्था की गई थी। संसदीय कार्य मंत्री और मेरे कार्यालय द्वारा उन्हें इसकी सूचना दी गई थी"।
गौरतलब है कि हर वर्ष 26 नवंबर का दिन संविधान दिवस के रूप में मनाया जाता है। हालांकि इस साल आजादी का अमृत महोत्सव के तहत संविधान दिवस मनाया जा रहा है। इस अवसर पर देशभर में कई कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं। कार्यक्रम के दौरान संसद के सेंट्रल हॉल से राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने राष्ट्र को संबोधित किया। कार्यक्रम में इसके अलावा उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू, प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी और अन्य नेताओं ने हिस्सा लिया।
Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it