भारत

अपहरण कर जबरन शादी कराने की कोशिश, लड़की पर लगा ये आरोप

jantaserishta.com
8 July 2022 6:36 AM GMT
अपहरण कर जबरन शादी कराने की कोशिश, लड़की पर लगा ये आरोप
x
न्यूज़ क्रेडिट: आजतक

बिजनौर: उत्तर प्रदेश के बिजनौर के चांदपुर में ज्यूडिशियल मजिस्ट्रेट के स्टेनो का फिल्मी स्टाइल में ऑफिस जाते समय अपहरण कर लिया गया. इस घटना के बाद पुलिस विभाग में हड़कंप मच गया. चार घंटे बाद पुलिस ने अपहृत हुए युवक को बरामद कर लिया. पुलिस ने युवक का अपहरण करने वाली लड़की और उसके भाई के साथी को भी गिरफ्तार कर लिया.

पुलिस के अनुसार, शादी से इनकार करने की बात पर नाराज लड़की ने अपने भाई और उसके दोस्तों संग मिलकर युवक का अपहरण कर लिया. युवक को जबरन नजीबाबाद स्थित आर्य समाज मंदिर में ले जाया गया. इसी दौरान अपहृत के मोबाइल की लोकेशन के आधार पर पुलिस पहुंच गई और अपहरण करने वाले तीनों आरोपियों को मौके से पकड़ लिया. वहीं, युवक को सकुशल बरामद कर लिया गया.
पुलिस अधीक्षक दिनेश सिंह ने बताया कि चांदपुर के जुडिशल मजिस्ट्रेट के स्टेनो अंकुर का ऑफिस जाते समय कुछ लोगों ने अपहरण कर लिया और कार में डालकर अपने साथ ले गए. अंकुर अपने एक साथी के साथ ऑफिस जा रहे थे.
घटना की सूचना मिलते ही पुलिस अलर्ट हो गई. पुलिस और एसओजी की टीम ने अंकुर के मोबाइल की लोकेशन ट्रेस की और उसका पीछा करना शुरू कर दिया. लोकेशन के आधार पर पुलिस नजीबाबाद के आर्य समाज मंदिर पहुंच गई. वहां से युवक अंकुर को सकुशल बरामद कर लिया.
अपहरण करने वाली युवती और उसका रिश्ते का भाई और भाई का दोस्त मौके पर पकड़े गए, जबकि चार अन्य फरार हो गए, जिनकी तलाश की जा रही है. पकड़े गए दो युवकों के पास से दो तमंचे और शादी का लाल जोड़ा बरामद हुआ.
पूछताछ में आरोपियों ने पुलिस को बताया कि कि स्टेनो अंकुर का रिश्ता 14 मई 2021 को युवती के साथ से हुआ था और रिश्ता करने के दौरान ही दान दहेज में काफी सामान और गाड़ी दी गई थी, लेकिन बाद में अंकुर ने युवती से शादी करने से इनकार कर दिया.
आरोपियों ने कहा कि युवक को शादी के लिए कई बार समझाया, लेकिन वह तैयार नहीं हुआ. इसलिए आज उसको युवती के साथ शादी कराने के उद्देश्य से उठाया गया और शादी कराने के लिए आर्य समाज मंदिर लेकर आए थे. मंदिर में आरोपी युवती और अंकुर की जबरदस्ती शादी कराई जानी थी. अगर वह शादी के लिए तैयार नहीं होता तो उसकी हत्या कर दी जाती.
पुलिस ने लड़की सहित तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. इनके खिलाफ अपहरण की धाराओं में केस दर्ज कर जेल भेजा जा रहा है. अन्य 4 आरोपियों की तलाश की जा रही है.
वहीं, स्टेनो अंकुर का कहना है कि उसकी शादी युवती के साथ तय हुई थी, लेकिन फोन पर बात करने के कारण उसका मंगेतर से विवाद हो गया था. इसके बाद उसने शादी से इनकार कर दिया. इस दौरान दोनों पक्षों के बीच कई पंचायतें भी हुईं, जिसमें फैसला भी हो गया और दहेज में लिया गया सामान वापस करने का ऑफर भी दिया. लड़की पक्ष ने फैसला मान भी लिया, लेकिन घर जाकर मना कर देते थे और आरोपी जबरदस्ती शादी करने का दबाव बना रहे थे.
शादी न करने पर जान से मारने या अपहरण करने की धमकी दी जा रही थी. इसी के तहत गुरुवार को ऑफिस जाते समय बाइक रोक ली और पीछे से आई कार में डालकर उसे नजीबाद के आर्य समाज मंदिर में ले गए थे, जहां जबरदस्ती शादी कराने का प्रयास कर रहे थे.
बिजनौर के पुलिस अधीक्षक दिनेश सिंह का कहना है कि अंकुर की शादी आरोपी युवती से तय हुई थी, लेकिन किन्हीं कारणवश अंकुर ने शादी से इनकार कर दिया. इसके चलते जबरन शादी कराने के लिए अपहरण कर लिया.



Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta