भारत

खाकी वाले बने लूटेरे, व्यापारी की शिकायत पर एसपी ने किया सस्पेंड

Janta Se Rishta Admin
20 Jan 2022 5:49 AM GMT
खाकी वाले बने लूटेरे, व्यापारी की शिकायत पर एसपी ने किया सस्पेंड
x
बड़ी कार्रवाई

पश्चिम बंगाल। पश्चिम बंगाल में अपराध (West Bengal Crime) की अजीबों गरीब घटना घटी है. राज्य के मालदा जिले (West Bengal Malda) में बुधवार तड़के पुलिसकर्मियों के एक दल ने कथित तौर पर एक व्यापारी के घर में लूटपाट की. घटना की जानकारी मिलते ही हड़कंप मच गया. पुलिस अधिकारियों ने उच्च स्तरीय जांच के आदेश दिए. अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) अनीश सरकार ने कहा कि घटना की प्रारंभिक जांच के बाद कालियाचक पुलिस थाने के एक सहायक उप निरीक्षक समेत तीन पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है. पुलिस ने बताया कि 52 बीघा इलाके में रात को छापा मारने के नाम पर पुलिसकर्मियों का एक दल मजदूरों के ठेकेदार इसरूल शेख के घर में घुसा था. शेख ने कहा कि पुलिसकर्मी छापे की वजह नहीं बता पाए और कथित तौर पर उससे 25 लाख रुपये लूट लिए. सरकार ने कहा कि घटना की जांच के आदेश दे दिए गए हैं.

आरोप है कि मालदा के कालियाचक थाने से पुलिस की एक टीम ने मंगलवार देर रात 52 बीघा इलाके के इसरूल शेख के घर में कथित तौर पर लूटपाट की. उसका आरोप है कि कालियाचक थाने के पुलिसकर्मियों ने घर के लोगों से करीब 25 लाख सोना और करीब 25 लाख रुपये लूट लिए. इतना ही नहीं सभी को अभद्र भाषा में गाली दी गई. घर की महिलाओं के साथ मारपीट की गई. इसरूल शेख ने आगे आरोप लगाया कि उसके खिलाफ पुलिस स्टेशन में कोई शिकायत दर्ज नहीं की गई थी. उसके बाद भी पुलिस की एक टीम उसके घर में घुस गई. उन्होंने लूटपाट की. इस बीच इस घटना के बाद से इसरूल शेख का परिवार दहशत में है. पुलिस की कार्रवाई से पूरे गांव में हड़कंप मच गया है. व्यापारी ने शिकायत की कि रात के ग्यारह बजे होंगे. वह सो गये थे. कुछ लोग उसका नाम लेकर पुकारा. कालियाचक थाने की पुलिस घर के अंदर से उससे पूछताछ करने आई थी. उसके बाद जैसे ही उसने गेट खोला, कुछ पुलिसकर्मी दौड़ पड़े. अंदर घुसते ही उन्हें बुरी तरह पीटा गया. इसके बाद पूरे घर को लूट लिया. उन्होंने कहा कि इस पूरी घटना से वह शारीरिक और भावनात्मक रूप से आहत हैं. उन्होंने पुलिस के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है.

इस बीच मालदा पुलिस के प्रशासनिक अधिकारी पूरी घटना को लेकर काफी असमंजस में हैं. अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) अनीश सरकार ने कहा कि घटना की प्रारंभिक जांच के बाद एक एएसआई समेत तीन पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है. हालांकि, उन्होंने दावा किया कि एक एएसआई को एक गुप्त स्रोत से सूचना मिली थी कि एक घर में आग्नेयास्त्र हैं।,लेकिन वह थाने के किसी वरिष्ठ अधिकारी को बताए बिना ही निकल गए. तलाशी लेने पर कोई हथियार नहीं मिला.

Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta