Top
भारत

इंडियन मेडिकल एसोसिएशन का दावा, कोरोना की दूसरी लहर में 269 डॉक्टरों ने जान गंवाई, छत्तीसगढ़ से इतने

Admin1
18 May 2021 5:15 AM GMT
इंडियन मेडिकल एसोसिएशन का दावा, कोरोना की दूसरी लहर में 269 डॉक्टरों ने जान गंवाई, छत्तीसगढ़ से इतने
x

कोरोना की दूसरी लहर में अब तक 269 डॉक्टरों की मौत हो चुकी है. यह दावा इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) ने किया. आईएमए ने डॉक्टरों की मौत का राज्यवार आंकड़ा जारी किया है. हालांकि, पहली लहर की तुलना में दूसरी लहर में कम डॉक्टरों की मौत हुई है. कोरोना की पहली लहर में देश ने 748 डॉक्टरों को खो दिया था.

आईएमए की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक, दूसरी लहर के दौरान सबसे अधिक डॉक्टरों की जान बिहार में गई है. यहां 78 डॉक्टरों की मौत हुई. इसके बाद उत्तर प्रदेश का नंबर आता है. यहां 37 डॉक्टरों की मौत हुई. दिल्ली में दूसरी लहर के दौरान 28 डॉक्टरों की मौत हुई है. वहीं आंध्र प्रदेश में भी 22 डॉक्टरों की मौत हुई है.
हैरानी की बात है कि कोरोना की दूसरी लहर जिस महाराष्ट्र से शुरू हुई, वहां महज 14 डॉक्टरों की मौत हुई. वैक्सीनेशन के शुरू होते हुए सबसे पहले फ्रंटलाइन वर्कर्स को टीका लगाने का फायदा दिख रहा है. फ्रंटलाइन वर्कर्स में डॉक्टर और मेडिकल स्टाफ आते हैं. इन लोगों का सबसे पहली टीकाकरण किया गया था. यही वजह है कि मौत का आंकड़ा कम है.
कोरोना की दूसरी लहर के दौरान ही हार्ट केयर फाउंडेशन ऑफ इंडिया के प्रेसिडेंट और IMA (इंडियन मेडिकल एसोसिएशन) के पूर्व प्रेसिडेंट पद्मश्री डॉ केके अग्रवाल का सोमवार रात 11.30 बजे निधन हो गया. पिछले कई दिनों से डॉ. केके अग्रवाल कोरोना से जंग लड़ रहे थे.

Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it