भारत

जेल में बंद शख्स से परिवार वालों ने नहीं की मुलाकात तो उठाया ये कदम, मची अफरा-तफरी

jantaserishta.com
7 Oct 2020 11:20 AM GMT
जेल में बंद शख्स से परिवार वालों ने नहीं की मुलाकात तो उठाया ये कदम, मची अफरा-तफरी
x
जिला कारागार में मची अफरा-तफरी.

बिहार के अररिया जिला कारागार में उस समय अफरा-तफरी मच गई, जब एक कैदी ने ब्लेड से अपना गला काट लिया. जेल कर्मचारियों ने उसे सदर अस्पताल में भर्ती कराया, जहां से उसे उपचार के लिए भागलपुर मेडिकल कॉलेज में रेफर कर दिया गया. कैदी की हालत अब खतरे से बाहर बताई जा रही है.

दरअसल, बरदाहा ओपी क्षेत्र के रहने वाले सुमन पासवान को पुलिस ने डकैती के आरोप में गिरफ्तार कर पूर्णिया सेंट्रल जेल भेजा था. सुमन को यहां कुछ दिन के लिए क्वारनटीन किया गया, जिसके बाद तीन दिन पूर्व ही उसे अररिया जिला कारागार भेज दिया गया. और यहीं उसने आत्महत्या की कोशिश की.

अस्पताल में भर्ती सुमन पासवान ने बताया कि 18 दिन बाद भी घर का कोई सदस्य उससे मिलने जेल में नहीं आया है. इसी कारण उसने आत्महत्या का प्रयास किया. जेल सूत्रों की मानें तो जेल की बैरक में आए नाई के द्वारा फेंका गया ब्लेड उसे मिल गया, जिससे उसने अपना गला काट लिया था.

वहीं इस मामले में जब जेल अधीक्षक जवाहर लाल प्रभाकर से फोन पर बात की गई, तो उन्होंने बताया कि कैदी ने टैबलेट के रैपर से गला काटने का प्रयास किया था. तीन अक्टूबर को उसे अररिया जेल में शिफ्ट किया गया था.

फिलहाल इस पूरे मामले की जांच की जा रही है. जेल अधीक्षक ने कैदी द्वारा ब्लेड से गला काटे जाने की बात को नकार दिया. हालांकि जेल अधीक्षक के अनुसार अब घायल कैदी खतरे से बाहर है.


Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta