भारत

यूपी में हुंकार भरने वाले ओवैसी की पार्टी को मिले कितने वोट? जानें वो सीटें जहां खिल गया कमल

jantaserishta.com
13 March 2022 5:51 AM GMT
यूपी में हुंकार भरने वाले ओवैसी की पार्टी को मिले कितने वोट? जानें वो सीटें जहां खिल गया कमल
x

लखनऊ: उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में असदुद्दीन ओवैसी की ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) भले ही बिहार जैसा सियासी करिश्मा नहीं दोहरा सकी है, लेकिन आधा दर्जन से ज्यादा सीटों पर सपा गठबंधन के जीत का खेल जरूर बिगाड़ दिया है. सूबे में मुस्लिम मतदाताओं की पहली पसंद सपा जरूर बनी है, लेकिन एआईएमआईएम उम्मीदवारों ने इतना वोट जरूर हासिल किया, जिससे कई सीटों पर बीजेपी की जीत की राह आसान बन गई है. यूपी में एआईएमआईएम वोट कटवा पार्टी बनकर उभरी है.

यूपी की कुल 403 विधानसभा सीटों में असदुद्दीन ओवैसी ने 100 से ज्यादा प्रत्याशी उतारे थे. एआईएमआईएम ने ज्यादातर मुस्लिम बहुल सीटों पर मुस्लिम कैंडिडेट उतार रखे थे तो कुछ सीटों पर हिंदू प्रत्याशी भी दिए थे. एआईएमआईएम को एक फीसदी से भी कम वोट मिले हैं और आजमगढ़ की मुबारकपुर सीट को छोड़कर किसी भी सीट पर उसकी जमानत नहीं बच सकी है.
हालांकि, सपा और बीजेपी के बीच सीधा मुकाबला होने के चलते मुस्लिम बहुल सीटों पर असदुद्दीन ओवैसी के कैंडिडेटों ने इतने वोट जरूर हासिल किए, जिससे बीजेपी उम्मीदवारों की जीत की राह आसान बन गई. बिजनौर, नकुड़, फिरोजाबाद, मुरादाबाद, कुर्सी, जौनपुर जैसी मुस्लिम बहुल सीटों पर बीजेपी कमल खिलाने में कामयाब रही. इसके अलावा कांग्रेस और बसपा से उतरे मुस्लिम कैंडिडेट ने भी कई सीटों पर सपा गठबंधन का खेल कम नहीं बिगाड़ा है.
AIMIM ने बिगाड़ा गठबंधन का खेल
बिजनौर सीट: मुस्लिम बहुल बिजनौर विधानसभा सीट पर बीजेपी जीतने में कामयाब रही. बिजनौर सदर सीट पर बीजेपी कैंडिडेट सुची मौसम चौधरी को 97165 वोट मिले और सपा-आरएलडी प्रत्याशी नीरज चौधरी को 95720 वोट मिले जबकि AIMIM के मुनीर अहमद को 2290 वोट मिले हैं. सपा-गठबंधन को 1445 वोटों से बीजेपी के हाथों हार का सामान करना पड़ा है. ओवैसी के उम्मीदवार को मिले वोटों को अगर सपा-गठबंधन में जोड़ देते हैं तो बीजेपी 845 वोटों से हार जाती.
नकुड़: सहारनपुर जिले की नकुड़ विधानसभा सीट, मुस्लिम बहुल मानी जाती है. नकुड़ से बीजेपी प्रत्याशी मुकेश चौधरी को 104114 वोट और सपा कैंडिडेट धर्म सिंह सैनी को 103799 वोट मिले हैं. वहीं, एआइएमआइएम प्रत्याशी रिजवाना को 3593 वोट मिले हैं. यहां पर सपा को बीजेपी से महज 315 वोटों से हार का सामना करना पड़ा है. नकुड़ सीट पर ओवैसी सपा गठबंधन के जीत की राह में रोड़ बने.
कुर्सी सीट: बाराबंकी जिले की कुर्सी विधानसभा सीट पर सपा गठबंधन का खेल AIMIM ने बिगाड़ दिया. यहां पर बीजेपी प्रत्याशी सकेंद्र प्रताप को 118720 वोट मिले तो सपा उम्मीदवार राकेश वर्मा को 118503 वोट मिले. AIMIM प्रत्याशी कामिल अशरफ खान को 8541 वोट मिले. सपा गठबंधन को 217 वोटों से बीजेपी से हार मिली. वहीं, ओवैसी के प्रत्याशी को मिले वोट अगर सपा गठबंधन के पक्ष में जोड़ देते हैं तो बीजेपी की राह मुश्किल हो जाती.
शाहगंज: जौनपुर जिले की शाहगंज विधानसभा सीट पर बीजेपी गठबंधन पहली बार जीत दर्ज कर सका. बीजेपी गठबंधन के तहत निषाद पार्टी के उम्मीदवार रमेश सिंह को 86980 वोट मिल जबकि सपा गठबंधन के उम्मीदवार शैलेंद्र यादव ललई को 86514 वोट मिले हैं. वहीं, ओवैसी की पार्टी AIMIM के उम्मीदवार नयाब अहमद खान को 8128 वोट मिले हैं. इस सीट पर सपा को 468 वोटों से हार मिली है.
सुल्तानपुर: अवध क्षेत्र की सुल्तानपुर विधानसभा सीट पर बीजेपी उम्मीदवार विनोद सिंह को 92715 वोट तो सपा प्रत्याशी अनूप सांडा को 91706 वोट मिले. वहीं, ओवैसी की पार्टी के उम्मीदवार मिर्जा अकरम बेग को 5251 वोट मिले. सपा गठबंधन को महज 1009 वोटों से बीजेपी से हार मिली है.
औराई सीट: औराई विधानसभा सीट पर बीजेपी और सपा के बीच कांटे की टक्कर रही. बीजेपी प्रत्याशी दीनानाथ भाष्कर को 93691 वोट मिले तो सपा उम्मीदवार अंजनी को 92044 वोट मिले जबकि ओवैसी की पार्टी से उतरे टेड़ाई को 2190 वोट मिले. बीजेपी ने 1647 वोटों के मार्जिन से सपा को हराया.
फिरोजाबाद: बीजेपी फिरोजाबाद सीट पर भी कमल खिलाने में कामयाब रही. बीजेपी प्रत्याशी मनीष असीजा को 112509 वोट मिले और सपा प्रत्याशी सफीउर्रहमान को 79554 वोट मिले. वहीं AIMIM के बब्लू सिंह उर्फ गोल्डी को 18898 वोट मिले. बसपा से उतरी साजिया हसन को 37643 वोट मिले. बीजेपी यह सीट करीब 33 हजार वोटों से जीती है.
जौनपुर: पूर्वांचल की जौनपुर सदर विधानसभा सीट पर मुस्लिम कैंडिडेट के आमने-सामने उतरने का खामियाजा सपा को उठाना पड़ा है. बीजेपी प्रत्याशी गिरीश चंद्र यादव को 97760 वोट मिले तो सपा प्रत्याशी मो. अरशद खान को 89708 वोट मिले. AIMIM प्रत्याशी अभय राज को 6228 वोट मिले हैं. इस सीट पर कांग्रेस से नदीम जावेद और बसपा से सलीम खान मैदान में थे. इस तरह से बीजेपी जौनपुर में कमल खिलाने में कामयाब रही.
मुरादाबाद नगर: बीजेपी प्रत्याशी रत्नेश कुमार गुप्ता को 148384 वोट मिले हैं तो सपा कैंडिडेट युसुफ अंसारी को 147602 वोट मिले. AIMIM प्रत्याशी वकी रशीद को 2661 वोट मिले और कांग्रेस उम्मीदवार रिजवान कुरैशी को 5351 वोट मिले. सपा गठबंधन को इस सीट पर 782 वोटों से बीजेपी से हार मिली है.
ऐसे ही देवबंद की बात की जाए तो मुस्लिम बहुल इस सीट पर बीजेपी के प्रत्याशी ने जीत दर्ज की है और यहां पर एआईएमआईएम प्रत्याशी उमैर मदनी को 3500 वोट मिले हैं. जबकि दूसरे स्थान पर समाजवादी पार्टी का प्रत्याशी आया है. गाजियाबाद की लोनी सीट पर महताब को 3214 वोट मिले हैं, जहां पर आरएलडी प्रत्याशी मदन भैया को हार का मुंह देखना पड़ा. मुस्लिम आबादी का गढ़ कहे जाने वाले मेरठ में एआईएमआईएम के प्रत्याशी इमरान अहमद को 3038 वोट मिले हैं.
यूपी में एआईएमआईएम को 0.49 फीसदी वोट मिले हैं. वहीं अपनी रणनीति के तहत ओवैसी ने उन्हीं सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे थे जो मुस्लिम बहुल थीं.
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta