Top
भारत

गृह मंत्री के फर्जी पीए गिरफ्तार, नेताओं को कॉल करके कहते थे ये बात

Admin1
22 July 2021 4:50 AM GMT
गृह मंत्री के फर्जी पीए गिरफ्तार, नेताओं को कॉल करके कहते थे ये बात
x
पकड़े गए 4 जालसाज बरेली, बलिया और उत्तराखंड के रहने वाले हैं.

उत्तर प्रदेश के लखनऊ में क्राइम ब्रांच ने गृह मंत्री का पीए बनकर ठगी करने वाले गैंग का भंडाफोड़ किया है. ये ठग मंत्री, दर्जा प्राप्त मंत्री बनवाने और विधानसभा का टिकट दिलाने के नाम पर ठगी करते थे. इस गैंग को लखनऊ के हजरतगंज इलाके से पकड़ा गया है. पकड़े गए 4 जालसाज बरेली, बलिया और उत्तराखंड के रहने वाले हैं.

गृह मंत्री के नाम पर छोटे नेताओं को एमएलसी, मंत्री बनवाने और विधानसभा का टिकट बदलवाने का ये लोग झांसा देते थे. ये लोग खुद को पार्टी के बड़े नेताओं का पीए,ओएसडी बताते थे. लखनऊ क्राइम ब्रांच ने ठगी करने वाले गैंग के चार आरोपी शमीम अहमद, हिमांशु सिंह, हसनैन अहमद और जाने आलम को गिरफ्तार किया.
गैंग के दो अन्य सदस्य शाहिद और बबलू उर्फ विजय फरार हैं, जिनकी तलाश जारी है. जिस फंसाना होता, उसे पहले ये लोग विश्वास में लेते. फिर टोकन मनी लेकर फरार हो जाते थे.
एक नेता से ऐंठे 4 लाख, दूसरी नेता से ठगने वाले थे एक करोड़
मिली जानकारी के मुताबिक, ये लोग एमएलसी और मंत्री बनवाने के नाम पर एक महिला नेता को एक करोड़ रुपये की टोपी पहनाने की फिराक में थे. वहीं एक अन्य पार्टी के नेता से टिकट दिलाने के नाम पर 4 लाख रुपये ऐंठ लिए थे.
जानकारी के मुताबिक, लखनऊ की रहने वाली बीजेपी नेता रीता सिंह ने हजरतगंज थाने में एक एफआईआर दर्ज कराई थी, जिसमें एमलसी और उत्तर प्रदेश सरकार में मंत्री बनवाने के नाम पर उनसे 1 करोड़ रुपये की मांग की गई थी.
शिकायत के मुताबिक, शाहिद नाम के शख्स ने उनसे गृह मंत्री का पीए बन कर बात की थी. वह फिलहाल फरार है. इतना ही नहीं अभियुक्त हसनैन खुद गृह मंत्री बनकर उनसे बातचीत कर चुका था. जानकारी के मुताबिक, प्रगतिशील समाजवादी पार्टी का अध्यक्ष बनकर टिकट के नाम पर 4 लाख रुपये टोकन मनी ली गई थी.


Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it