Top
भारत

हिमाचल में कोरोना मरीजों की पहचान के लिए डोर टू डोर सर्वे, सरकार ने 800 टीमों का किया गठन

Rishi kumar sahu
22 Nov 2020 12:59 PM GMT
हिमाचल में कोरोना मरीजों की पहचान के लिए डोर टू डोर सर्वे, सरकार ने 800 टीमों का किया गठन
x
कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के मद्देनजर प्रशासन ने शिमला जिले में रविवार को सभी बाजारों को बंद रखने के आदेश दिए हैं

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। हिमाचल प्रदेश में 25 नवंबर से 27 दिसंबर के बीच कोविड-19 के रोगियों की पहचान के लिए डोर टू डोर सर्वे होगा. इसके साथ ही टीबी, कुष्ट रोग, शुगर और हाई ब्लड प्रेशर के रोगियों की पहचान के लिए भी ये सर्वे होगा. राज्य सरकार ने जानकारी देते हुए बताया कि हर टीम में दो सदस्य होंगे और ऐसी आठ सौ टीमों का गठन किया गया है.


रविवार को शिमला जिले के सभी बाजार बंद

कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के मद्देनजर प्रशासन ने शिमला जिले में रविवार को सभी बाजारों को बंद रखने के आदेश दिए हैं. शिमला के जिलाधिकारी अपूर्व देवगन द्वारा शनिवार को जारी एक आदेश में कहा गया है कि आवश्यक वस्तुओं की बिक्री करने वाली दुकानों जैसे किराना, मेडिकल स्टोर, रेस्तरां को छोड़कर अन्य सभी दुकाने अगले आदेश तक रविवार को बंद रहेंगी. एक अधिकारी ने बताया कि कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों पर नियंत्रण के लिए यह कदम उठाया गया है.


इस गांव में एक को छोड़कर सभी कोरोना संक्रमित

हिमाचल प्रदेश के लाहौल-स्पीति जिले के थोरांग गांव के 42 निवासियों में से एक को छोड़कर सभी कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं. बेहद कम आबादी वाले इस जनजातीय जिले में 2.83 प्रतिशत लोग कोरोना वायरस से संक्रमित पाए जा चुके हैं. राज्य के स्वास्थ्य विभाग की ओर से शुक्रवार को जारी आंकड़ों के अनुसार थोरांग गाव में 41 लोगों के कोरोना वायरस की चपेट में आने के बाद 31 हजार 500 की आबादी वाले लाहौल-स्पीति में कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए लोगों की संख्या बढ़कर 890 हो गई है, जो कुल आबादी का 2.83 प्रतिशत है.

Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it