भारत

सरकार ने चलाई तबादला एक्सप्रेस, 10 आईएएस अफसरों के तबादले हुए

jantaserishta.com
28 Aug 2022 2:37 AM GMT
सरकार ने चलाई तबादला एक्सप्रेस, 10 आईएएस अफसरों के तबादले हुए
x

न्यूज़ क्रेडिट: हिंदुस्तान

देखें लिस्ट।

जयपुर: राजस्थान की गहलोत सरकार खाटूश्यामी मामले में लापरवाही बरतने पर सीकर के जिला कलेक्टर अविचल चतुर्वेदी कर दिया है। इसके साथ ही 10 आईएएस अफसरों के तबादले भी कर दिए है। अमित यादव का सीकर का नया कलेक्टर बनाया गया है। चतुर्वेदी का सीकर जिला कलेक्टर से संयुक्त शासन सचिव, जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग एवम् मिशन निदेशक जल जीवन मिशन जयपुर तबादला किया गया है। राजेंद्र सिंह कविया आईएएस आयुक्त नगर निगम जोधपुर उत्तर को आगामी आदेश तक के लिए एपीओ किया गया है। वहीं रिश्वत के आरोप में एपीओ चल रहे भारतीय डाक सेवा के प्रतीक झाझड़िया का भी ट्रांसफर कर दिया गया है।

आईएएस अजिताभ अब अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक जयपुर सिटी ट्रांसपोर्ट सर्विसेज लिमिटेड जयपुर में सेवाएं देंगे। जबकि आईएएस रोहित गुप्ता को शासन सचिव वित्त विभाग बजट, आईएएस सुधीर कुमार शर्मा को मिशन निदेशक राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन जयपुर , आईएएस कुमारी रेणु जयपाल को प्रबंध निदेशक राजस्थान कौशल एवं आजीविका विकास निगम जयपुर, आईएएस पुष्पा सैनी को आयुक्त महिला अधिकारिता विभाग पंचायती राज जयपुर, आईएएस पुखराज सेन को कार्यकारी निदेशक राजस्थान शहरी पेयजल सीवरेज कॉरपोरेशन लिमिटेड जयपुर, आईएएस मुकुल शर्मा को निदेशक सिविल एविएशन जयपुर, आईएएस अमित यादव को जिला कलेक्टर जिला मजिस्ट्रेट सीकर, आईएएस अतुल प्रकाश को आयुक्त नगर निगम जोधपुर उत्तर, जबकि घूसखोरी के आरोप में एपीओ चल रहे भारतीय डाक सेवा के अधिकारी आईएएस प्रतीक जाजड़िया को प्रबंध निदेशक राजस्थान राज्य बुनकर संघ लिमिटेड जयपुर पद पर तैनात किया गया है।
उल्लेखनीय है कि 9 अगस्त 2022 को राजस्थान की सीकर जिले में खाटूश्याम मंदिर में मची भगदड़ में 3 श्रद्धालुओं की मौत हो गई थी। जबकि कई लोग घायल हो गए थे। राज्य सरकार ने मामले की जांच के लिए संभागीय आयुक्त को जांच सौंपी थी। संभागीय आयुक्त के सरकार को जांच सौंपने से पहले ही राज्य सरकार ने सीकर के जिला कलेक्टर का तबादला कर दिया। इससे पहले सरकार ने डीएसपी और एसडीएम को निलंबित कर दिया था। सीएम गहलोत ने घटना पर कड़ा संज्ञान लेते हुए त्वरित कार्रवाई की और एसडीएम को निलंबित कर दिया। पुलिस ने मंदिर प्रबंधन समिति को भी इस मामले क्लीन चिट नहीं दी है।
Next Story
© All Rights Reserved @ 2023 Janta Se Rishta