भारत

बाढ़ का खतरा: खतरे के निशान से ऊपर बह रही यमुना नदी, निचले इलाकों में खेतों की तरफ बढ़ा पानी

Kunti Dhruw
30 July 2021 9:14 AM GMT
बाढ़ का खतरा: खतरे के निशान से ऊपर बह रही यमुना नदी, निचले इलाकों में खेतों की तरफ बढ़ा पानी
x
बारिश के बाद और हथिनीकुंड बैराज से छोड़े गए पानी के चलते दिल्ली में शुक्रवार को यमुना नदी का जल स्तर 205.33 मीटर के ऊपर चला गया है।

बारिश के बाद और हथिनीकुंड बैराज से छोड़े गए पानी के चलते दिल्ली में शुक्रवार को यमुना नदी का जल स्तर 205.33 मीटर के ऊपर चला गया है। बता दें कि 205.33 मीटर दिल्ली में खतरे का निशान है, इसके ऊपर नदी बहे तो शहर के निचले इलाकों में बाढ़ का खतरा बढ़ जाता है। जलस्तर बढ़ने की वजह से गुरुवार को ही दिल्ली लोहे के पुल को बंद कर दिया गया था।

खतरे के निशान से ऊपर बह रही यमुना का पानी अब खेतों की ओर बढ़ रहा है। निचले इलाकों में रह रहे लोगों को सुरक्षित स्थान पर जाने के लिए कहा गया है।


विभाग की ओर से जारी आज का बाढ़ अलर्ट अपडेट-
हथिनीकुंड (समय) : छोड़ा गया पानी (क्यूसेक में)
06:00 बजे 20485
07:00 बजे 20485
08:00 बजे 19056
09:00 बजे 19056
10.00 बजे 19056
पुराने रेलवे ब्रिज पर पानी का स्तर
समय जलस्तर
06:00 बजे 205.10
07:00 बजे 205.17
08:00 बजे 205.22
09:00 बजे 205.26
10:00 बजे 205.32
11:00 बजे 205.34
12:00 बजे 205.37
इसके साथ ही बाढ़ के खतरे को देखते हुए प्रशासन ने नदी के डूब क्षेत्र के करीब के निचले इलाकों में अलर्ट जारी किया है। अधिकारियों द्वारा चौबीसों घंटे स्थिति की निगरानी की जा रही है। विभाग के मुताबिक, ऊपरी डूब वाले इलाकों में बारिश के कारण यमुना का जलस्तर बढ़ गया है।
हरियाणा के यमुनानगर जिले में हथिनीकुंड बैराज से नदी में और पानी छोड़ा जा रहा है। पिछले 24 घंटों में पानी की दर 1.60 लाख क्यूसेक पहुंच गई है जो इस साल सबसे अधिक है। हरियाणा से गुरुवार को सुबह दस बजे तक 85,879 क्यूसेक की दर से यमुना में पानी छोड़ा जा रहा था। ऐसे में अगले 24 घंटो में जल स्तर बढ़ सकता है।
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta