भारत

एएसआई सहित पांच पुलिसवाले सस्पेंड, युवकी की पिटाई मामले में गिरी गाज

Janta Se Rishta Admin
9 Jun 2022 1:37 AM GMT
एएसआई सहित पांच पुलिसवाले सस्पेंड, युवकी की पिटाई मामले में गिरी गाज
x
बड़ी कार्रवाई

मध्य प्रदेश। मध्य प्रदेश के राजगढ़ (MP Rajgarh) के बौड़ा थाने की पुलिस ने एक युवक के साथ पूछताछ के नाम पर बर्बर तरीके से मारपीट की. पुलिस ने युवक को पीट-पीटकर बेदम कर दिया. आरोप है कि पुलिस की पिटाई की वजह से युवक के एक कान का पर्दा तक फट गया. युवक का आरोप है कि पुलिसकर्मियों ने उसको बोडा व नरसिंहगढ़ थाने ले जाकर पहले जमकर पीटा और फिर बाद में टीआई ने उसे छोड़ने के लिए 50 हजार रुपए ले लिए. पीड़ित युवक ने इस मामले की शिकायत प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा व राजगढ़ एसपी प्रदीप शर्मा से की. इस घटना को लेकर एसपी ने बोडा थाने के एक एएसआई समेत 5 पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया है. इनमें एएसआई भंवरसिंह परमार, आरक्षक श्याम, आरक्षक प्रवीण, आरक्षक वीरेंद्र रावत और आरक्षक गौरव रघुवंशी शामिल हैं.

बोडा थाना क्षेत्र के कड़िया गांव निवासी युवक शुभम पुत्र लाडनू सांसी को के भेंसवामाता से बोड़ा थाने के पुलिसकर्मी थाने लेकर गए. पूछताछ के नाम पर पुलिस ने बुरी तरह से पीटा. पीड़िमत युवक शुभम का कहना है कि वह रिश्तेदारों के यहां भैंसवामाता गया था. वहां बोडा थाने के पुलिसकर्मी उसे बिना किसी अपराध के बंदी बनाकर ले गए. पुलिसकर्मियों ने बेरहमी से मारा पीटा, जिससे चोटों के निशान आ गए.

इसके बाद थाना प्रभारी रामनरेश राठौर ने 50 हजार रुपए लेकर छोड़ा. इस मामले की शिकायत मिलने पर राजगढ़ एडिशनल SP मनकामना प्रसाद ने कहा कि थाना बोडा में एक युवती ने शिकायत की थी कि उसकी फेक इंस्टाग्राम ID बनाकर अश्लील पोस्ट किए गए. इस पर बोड़ा थाने में केस दर्ज कर जांच की गई. साइबर सेल की मदद से पता चला कि शुभम सिसोदिया के नाम से सिम थी, जिसको लेकर शुभम को थाने लाया गया. उसके विरोध करने के चलते पुलिस कर्मियों ने उसकी पिटाई कर दी. इस मामले में एसपी ने 5 पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया है.

राजगढ़ के SP प्रदीप शर्मा ने कहा कि एक महिला ने शिकायत की है कि उसकी फर्जी इंस्टाग्राम आईडी बनाकर उसकी अश्लील फोटो अपलोड की गई. इस मामले में साइबर से जानकारी निकाली गई, जिसके बाद लड़के को थाने में तलब किया गया. कुछ पुलिस वालों ने उसके साथ मारपीट की. शिकायत मिलने पर उन पुलिसकर्मियों को निलंबित किया गया. मामले की विवेचना नरसिंहगढ़ एसडीओपी के द्वारा की जा रही है. जो तथ्य आएंगे, संबंधित के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.


Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta