भारत

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा- 'रंगे हाथों पकड़े गए इसलिए हिल गए हैं पूर्व मुख्यमंत्री'

Gulabi
31 Dec 2021 1:19 PM GMT
वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा- रंगे हाथों पकड़े गए इसलिए हिल गए हैं पूर्व मुख्यमंत्री
x
इस पर सवाल उठाते हुए अखिलेश यादव ने कहा था कि कई दिनों से सूचना आ रही थी कि छापे पड़ेंगे
उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी के नेताओं के यहां हुई छापेमारी के बाद अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने केंद्र सरकार पर सवाल उठाया तो वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने इस पर पलटवार किया है. उन्होंने कहा है कि क्या एसपी प्रमुख अखिलेश यादव इन छापों से हिल गए हैं? क्या उन्हें डर लग रहा है?
दरअसल शुक्रवार को उत्तर प्रदेश के कानपुर, कन्नौज, लखनऊ और मुबंई में छापेमारी हुई. ये छापेमारी इत्र कारोबारी पुष्पराज जैन पम्पी और मोहम्मद याकूब के ठिकानों पर की गई. जानकारी के मुताबिक आईटी ने इत्र कारोबारी पुष्पराज जैन पम्पी के घर, दफ्तर समेत कई ठिकानों पर छापेमारी की. एसपी से एमएलसी पुष्पराज जैन उसी इलाके में रहते हैं जहां पीयूष जैन का पुश्तैनी घर है.
इस पर सवाल उठाते हुए अखिलेश यादव ने कहा था कि कई दिनों से सूचना आ रही थी कि छापे पड़ेंगे. सपा से जुड़े लोगों पर छापे. चुनाव में बीजेपी एजंसियों को भी बुलाती है. उन्होंने ये भी कहा था कि बीजेपी को पता चल गया है कि वह चुनाव हार रही है. इसलिए विपक्ष पर अब ये कार्रवाई की जा रही है.
वित्त मंत्री ने क्या कहा?

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने इन आऱोपों का जवाब देते हुए कहा, "लॉ इंफोर्सिंग एंजेसी कहीं छापा मारती है तो सूचना के आधार पर मारती है. कानपुर में इत्र कारोबारी के यहां GST की जानकारी के तहत छापा मारा गया. जिसे लेकर पिछले 2 दिनों में इतनी गलत जानकारी फैलाई गई, जिसे समझाने के लिए एक प्रेस नोट जारी किया गया."
उन्होंने कहा, "जो लोग इस पर टिप्पणी कर रहे हैं मैं उनसे पूछना चाहती हूं कि टीम गई तो वो खाली हाथ आई क्या? अगर गलत व्यक्ति के घर गए होते तो उसके घर में इतना पैसा मिलता क्या? आप किसे बचा रहे हैं? सपा प्रमुख अखिलेश यादव क्या इससे हिल गए हैं? क्या उन्हें डर लग रहा है?
निर्मला सीतारमण ने कहा, "एसपी प्रमुख को एजेंसियों के काम पर संदेह नहीं करना चाहिए. जब्तनकदी की ऊंचाई इस बात का प्रमाण है कि कानून प्रवर्तन एजेंसियां ​​ईमानदारी से काम कर रही हैं. उन्होंने इसे बीजेपी का पैसा बताने पर उन्होंने कहा, किसके घर किसका पैसा रखा गया है, उन्हें कैसे पता. ये उनके पार्टनर होंगे शायद इसलिए इतने यकीन के साथ बोल पा रहे हैं कि ये बीजेपी का पैसा है. निर्मला सीतारमण मे कहा, ये बीजेपी का पैसा नहीं है. ये लोग रंगे हाथों पकड़े गए हैं इसलिए हिल गए हैं.
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta