भारत

देश में पहली बार इलेक्ट्रिक इंटरसिटी बस सर्विस शुरू, यात्रियों के मिलेंगी ये सुविधाएं

Kunti
13 Oct 2021 3:04 PM GMT
देश में पहली बार इलेक्ट्रिक इंटरसिटी बस सर्विस शुरू, यात्रियों के मिलेंगी ये सुविधाएं
x
देश में इलेक्ट्रिक बस ऑपरेटर मेघा इंजीनियरिंग एंड इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड (MEIL) ग्रुप की कंपनी ईवे ट्रांस प्राइवेट लिमिटेड ने बुधवार को पुणे से मुंबई इंटर-सिटी बस सर्विस शुरू की है.

देश में इलेक्ट्रिक बस ऑपरेटर मेघा इंजीनियरिंग एंड इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड (MEIL) ग्रुप की कंपनी ईवे ट्रांस प्राइवेट लिमिटेड ने बुधवार को पुणे से मुंबई इंटर-सिटी बस सर्विस शुरू की है. बस सर्विस का नाम "पुरीबस" रखा गया है. यह ई-इंटर-सिटी सर्विस देश में पहली बार शुरू की गई है. 15 अक्टूबर को यानि विजयादशमी (दशहरा) के अवसर पर संचालन शुरू किया जाएगा. लंबी दूरी की यात्रा जीरो-एमिशन के साथ प्रदूषण रहित और आरामदायक होगी.

केंद्र सरकार और राज्य सरकारें फेम 1 और फेम 2 नीतिगत पहलों के तहत सार्वजनिक परिवहन प्रणाली में इलेक्ट्रिक बसों को अपनाने को लगातार प्रोत्साहित कर रही हैं. ईवीट्रांस के जनरल मैनेजर संदीप रायजादा ने पुरीबस के कई फायदे गिनाए हैं. उन्होंने कहा, "हम भारत में इंटर-सिटी ई-बस सर्विस को लॉन्च करने वाले पहले व्यक्ति होने पर गर्व महसूस कर रहे हैं. पुरीबस 350 किलो मीटर तक का सफर तय कर सकती है. जीरो-एमिशन के साथ सिंगल चार्ज पर यह बस सर्विस इंटर-सिटी यात्रा ऑपरेटरों के लिए एक विकल्प बन गई है, जिससे लंबे समय की बचत होती है.'

12 मीटर लंबी पुरीबस, और ये है खासियत
इलेक्ट्रिक इंटर-सिटी कोच बस में ड्राइवर और कंडेक्टर सीट के अलावा 45 सवारियों के बैठने की क्षमता है. बस को बेहद खूबसूरती से डिजाइन किया गया है और यात्रियों के आरामदायक सफर का अधिक ध्यान रखा गया है. यही वजह है कि एसी ई-बस में पुश-बैक सीटें लगाई गई हैं ताकि यात्रियों को सफर के दौरान कोई परेशानी न हो. इसके अलावा मनोरंजन से भरपूर यात्रा सुनिश्चित करने के लिए बस में वाई-फाई के साथ स्मार्ट टीवी और इंफोटेनमेंट सिस्टम है. हर सीट में एक इन-बिल्ट यूएसबी चार्जर दिया गया है. पांच घन मीटर लगेज स्पेस दिया गया है.
इलेक्ट्रिक इंटर-सिटी बस के फायदे
इलेक्ट्रिक बस का डीजल बस की तुलना में रखरखाव कम है और चलने वाली लागत भी बेहद कम है. इसके चलते यह इलेक्ट्रिक बस इंटर-सिटी बस ऑपरेटरों के लिए एक महत्वपूर्ण बस है, जिससे उन्हें खासा वित्तीय लाभ होने के बात कही गई है. देश में ओलेक्ट्रा ग्रीनटेक लिमिटेड इन बसों को बनाती है. ये बसें ली-आयन फॉस्फेट बैटरी से संचालित होती हैं.
इस बस में तमाम सुरक्षा विशेषताएं हैं, जिनमें टीयूवी प्रमाणीकरण के साथ ईयू मानक एफडीएसएस सिस्टम, एडीएएस सिस्टम (उन्नत चालक सहायता प्रणाली) और भारतीय नियामक आवश्यकता के अनुसार आईटीएस सिस्टम शामिल हैं. संकट की स्थिति में पैनिक अलार्म सिस्टम और इमरजेंसी लाइटिंग सिस्टम होता है. ईवे ट्रांस सूरत, सिलवासा, गोवा, हैदराबाद, देहरादून जैसे कई शहरों में सफलतापूर्वक ई-बसों का संचालन कर रहा है. उसके पोर्टफोलियो में पुरीबस को शामिल करने के साथ उसने एक बार फिर अपनी मजबूत परिचालन क्षमताओं को साबित किया है.
MEIL कंपनी के बारे में
ईवी ट्रांस प्राइवेट लिमिटेड एक एमईआईएल समूह की कंपनी है और एमईआईएल होल्डिंग्स लिमिटेड की 100 फीसदी सहायक कंपनी है. यह देशा का सबसे बड़ा इलेक्ट्रिक बस ऑपरेटर/एग्रीगेटर है. यह देश के तमाम शहरों में 400 से अधिक बसों का संचालन करती है. कंपनी सकल लागत अनुबंध (जीसीसी) के आधार पर राज्य परिवहन उपक्रमों (एसटीयू) को लीज पर देती है और संचालित करती है. ईवी अपने दम पर चार्जिंग स्टेशन भी विकसित करती है.


Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it