भारत

DSP घायल: पुलिस और ग्रामीणों के बीच हुई खूनी भिड़ंत

Janta Se Rishta Admin
17 Oct 2021 1:23 PM GMT
DSP घायल: पुलिस और ग्रामीणों के बीच हुई खूनी भिड़ंत
x
आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई जारी

झारखण्ड। रामगढ़ के रजरप्पा में रावण दहन के दौरान पुलिस और ग्रामीणों के बीच खूनी भिड़ंत हो गयी। घटना में पुलिस पदाधिकारी समेत कई पुलिस वाले घायल हो गये। बड़कीपोना गांव के लोग आनेवाले मुसीबत से बेखबर अपने परिवार साथ रावण दहन कार्यक्रम को लेकर उत्साहित थे। शाम से पहले सैकड़ों लोग कार्यक्रम स्थल में पहुंच गए। इसकी जानकारी जब पुलिस को लगी तो पुलिस सरकार की गाइडलाइन का पालन करवाने कार्यक्रम स्थल पर की गई। पुलिस ने आयोजकों से कहा कि आप सरकार के निर्देश का पालन करें। कहीं भी रावण दहन नहीं हुआ तो आप भी मत करें। पुलिस ने रावण दहन का आयोजन रोक दिया।

मौके पर मौजूद कई ग्रामीण पुलिस के बातों से सहमत थे पर भीड़ में मौजूद कुछ शरारती लोगों को कुछ और भी मंजूर था। अचानक कुछ लोग पुलिस पर पथराव करने लगे। भीड़ में मौजूद कुछ ग्रामीणों ने उन्हें रोकने का भी प्रयास किया। पर शरारती तत्वों ने पुलिस पर पथराव जारी रखा। इस घटना में पत्थर लगने से डीएसपी, थानेदार समेत कई पुलिसकर्मी घायल हो गए। डीएसपी संजीव मिश्रा, इंस्पेक्टर विपिन कुमार, नरेंद्र कुमार, देवनारायण ठाकुर सहित 5 लोग घायल हुए हैं। जिनका इलाज सदर अस्पताल में चल रहा है। इसके बाद पुलिस की जवाबी कार्रवाई की। पुलिस की कार्रवाई में में कई ग्रामीणों को चोट लगी है।

घटना की जानकारी पर एसपी प्रभात कुमार पहुंचे और पथराव में शामिल आरोपियों की धर पकड़ को लेकर सर्च अभियान चलाया। बताते चलें कि शनिवार को बड़कीपोना में ग्रामीण रावण दहन कर रहे थे। सूचना पर थाना प्रभारी पहुंचे और रावण दहन रोकने का निर्देश दिया। लेकिन ग्रामीणों ने कार्यक्रम रोकने से मना कर दिया। इसी बीच कुछ शरारती तत्वों ने पुलिस पर पथराव शुरू कर दिया। जिससे थानेदार समेत कई पुलिसकर्मी घायल हो गए। इसके बाद पुलिस ने जवाबी करवाई की। जिससे ग्रामीण भी घायल हो गए। घटना की सूचना मिलने के बाद रामगढ एसपी पहुंच गए और आरोपियो की धर पकड़ के लिए सर्च अभियान जारी है।

एसपी प्रभात कुमार ने बताया कि नियम विरुद्ध रावण दहन रोकने पर उपद्रवियों ने पत्थरबाजी की है, जिसमें पुलिस पदाधिकारी और जवान घायल हुए हैं। घटनास्थल में मौजूद दस लोगों को हिरासत में लिया गया है। और अन्य लोगों को भी पकड़ने के लिए अभियान अभी भी जारी रहेगा। घटना को जिन लोगों ने अंजाम दिया है, उनको किसी भी हाल में बक्सा नहीं जाएगा।

Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it