भारत

CBI बलात्कार मामले में बना रही DNA जांच की योजना, घटनास्थल पर फिर पहुंची टीम

AJAY
15 April 2022 1:38 PM GMT
CBI बलात्कार मामले में बना रही DNA जांच की योजना, घटनास्थल पर फिर पहुंची टीम
x
पढ़े पूरी खबर

कोलकाता: केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) हंसखली बलात्कार मामले में डीएनए जांच करने की योजना बना रहा है, ताकि यह पता लगाया जा सके कि अपराध स्थल से एकत्र किये गये नमूने गिरफ्तार आरोपी के नमूने से मिलते हैं या नहीं. जांच एजेंसी के एक अधिकारी ने शुक्रवार को यह जानकारी दी.

पश्चिम बंगाल के नदिया जिला स्थित हंसखली में चार अप्रैल को नौवीं कक्षा की एक छात्रा से मुख्य आरोपी के घर जन्म दिन की एक पार्टी के दौरान कथित तौर पर बलात्कार किया गया था. मामले का मुख्य आरोपी तृणमूल कांग्रेस के एक स्थानीय नेता का बेटा है. घटना के बाद छात्रा की मौत हो गई थी. उसके पिता ने 10 अप्रैल को पुलिस में एक शिकायत दर्ज कराई थी और आरोप लगाया था कि आरोपी ने हथियार का भय दिखा कर शव को छीन लिया और उसकी अंत्येष्टि कर दी.
सीबीआई अधिकारी और अधिक साक्ष्य एकत्र करने के लिए शुक्रवार को फिर से घटनास्थल पर गये. इससे पहले, उन्होंने बृहस्पतिवार रात घटनास्थल से नमूने एकत्र किये थे. उनकी योजना गिरफ्तार आरोपी से नमूने एकत्र करने की है. अधिकारी ने बताया, ''हम गिरफ्तार आरेापी से डीएनए नमूने एकत्र करेंगे और उसका घटनास्थल से जुटाये गये नमूनों से मिलान करेंगे. यह हमारी जांच में एक अहम कदम होगा. हम हंसखली में विभिन्न स्थानों पर अपना खोजबीन अभियान जारी रखेंगे. ''
सीबीआई अधिकारियों ने बृहस्पतिवार को मुख्य आरोपी के घर का ताला तोड़ कर अंदर प्रवेश किया और अपराध स्थल की तलाशी ली. पूरे तलाशी अभियान के दौरान उनके साथ केंद्रीय फोरेंसिक विज्ञान प्रयोगशाला के कर्मी भी थे और साक्ष्य एकत्र करने के कार्य की वीडियोग्राफी की गई. तलाशी बृहस्पतिवार देर रात तक जारी रही और इलाके में बिजली गुल होने के चलते इसमें देर हुई. केंद्रीय जांच एजेंसी को कलकत्ता उच्च न्यायालय ने घटना की जांच करने का निर्देश दिया है. मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने छात्रा की मौत के कारण के बारे में संदेह जताया है और हैरानगी जताई कि क्या नौवीं कक्षा की छात्रा की मौत किसी व्यक्ति द्वारा थप्पड़ मारने पर गिरने के बाद हुई.
ममता ने दावा किया था कि मृतका का मुख्य आरोपी से प्रेम संबंध था. उन्होंने यह भी सवाल किया कि पीड़िता के परिवार ने शव की अंत्येष्टि होने के पांच दिन बाद पुलिस में शिकायत क्यों दर्ज कराई. विपक्षी दलों ने उनके बयान को स्तब्ध कर देने वाला बताया है और आरोप लगाया कि वह आरोपी को बचाने की कोशिश कर रही हैं क्योंकि वह उनकी पार्टी के एक नेता का बेटा है.
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta