भारत

रफ्तार से आगे बढ़ रहा चक्रवात असानी, खाली कराए जा रहे तटीय इलाके, अगले कुछ घंटे भारी

jantaserishta.com
10 May 2022 3:14 AM GMT
रफ्तार से आगे बढ़ रहा चक्रवात असानी, खाली कराए जा रहे तटीय इलाके, अगले कुछ घंटे भारी
x

Cyclone Asani Latest Updates Today 10th May: बंगाल की खाड़ी के ऊपर बना चक्रवाती तूफान असानी 12 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से तटीय आंध्र प्रदेश और ओडिशा की ओर बढ़ रहा है. मौसम विभाग के मुताबिक, चक्रवात असानी के असर से 120 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवाएं चलने और भारी बारिश होने की संभावना है. मौसम विभाग (IMD) की ओर से तूफान की चेतावानी को देखते हुए ओडिशा सरकार अलर्ट पर है.

मौसम विभाग के अनुमान के मुताबिक, चक्रवात असानी के 10 मई की रात तक उत्तर पश्चिम की ओर बढ़ने और उत्तरी आंध्र प्रदेश तथा ओडिशा के तटों से पश्चिम मध्य और इससे सटे उत्तर-पश्चिम बंगाल की खाड़ी तक पहुंचने की संभावना है. मौसम विभाग की ओर से जारी की गई बुलेटिन में बताया गया है कि चक्रवात उत्तर-उत्तर-पूर्व की ओर मुड़ सकता है और ओडिशा तट के पास बंगाल की खाड़ी के उत्तर पश्चिम की ओर बढ़ सकता है. वहीं, अगले 24 घंटों के दौरान इसके धीरे-धीरे कमजोर होने की संभावना है.
चक्रवात का असर ओडिशा के तटीय इलाके और उत्तरी आंध्र प्रदेश के तटीय इलाकों में दिखेगा. दोनों ही राज्यों में तेज हवाओं के साथ हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना है. आईएमडी ने ओडिशा के तटीय इलाकों के कुछ हिस्सों में सात से 11 सेंटीमीटर बारिश का अनुमान लगाया है.
ओडिशा के सभी बंदरगाहों पर दूरस्थ चेतावनी संकेत-2 जारी कर दिया गया है. इसके तहत जहाजों को तट के पास नहीं आने के लिए आगाह किया गया है. वहीं, मछुआरों को अगले कुछ दिनों तक पश्चिम-मध्य और उससे सटे दक्षिण बंगाल की खाड़ी में समुद्र में नहीं जाने की सलाह दी गई है.
चक्रवात के दौरान किसी भी तरह के नुकसान से बचने के लिए ओडिशा सरकार ने गंजाम, पुरी, जगतसिंहपुर और केंद्रपाड़ा जिलों में 15 ऐसे ब्लॉक की पहचान की है, जहां बारिश के कारण सामान्य जनजीवन प्रभावित हो सकता है. विशेष राहत आयुक्त पी. के. जेना ने जिलाधिकारियों को इन 15 ब्लॉक से लोगों को सुरक्षित बाहर निकालने को कहा है. भारी बारिश के कारण कच्चे घरों में रहने वाले लोगों को परेशानी हो सकती है. जेना ने कहा कि उन्होंने संबंधित अधिकारियों को उन गर्भवती महिलाओं को पहले ही अस्पताल में भर्ती कराने को कहा है, जो जल्द बच्चे को जन्म दे सकती हैं.
चक्रवाती तूफान के असर से तमिलनाडु और पुडुचेरी में भी तेज हवाएं चलने के साथ बारिश हो रही है. चेन्नई, कांचीपुरम, तिरुवल्लूर, चेंगलपट्टू, विल्लुपुरम, कुड्डालोर, नागपट्टिनम, तिरुवरूर, अरियालुर, पेरम्बलुर, तिरुचिरापल्ली, नमक्कल, पुदुकोट्टई, सलेम, धर्मपुरी में मौसम का मिजाज बदला है. स्थानीय मौसम विभाग के मुताबिक, इरोड, कृष्णागिरी, थिरुपत्तूर, वेल्लोर, रानीपेट, तिरुवन्नामलाई, थिरुपुर, थेनी, मदुरै, शिवगंगई, विरुधुनगर, रामनाथपुरम और आस-पास के इलाकों में अगले कुछ घंटे बारिश की गतिविधियां जारी रहेंगी.
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta