भारत

बिग ब्रेकिंग: उद्धव ठाकरे को तगड़ा झटका? सांसद ने किया ये दावा

jantaserishta.com
5 Oct 2022 11:59 AM GMT
बिग ब्रेकिंग: उद्धव ठाकरे को तगड़ा झटका? सांसद ने किया ये दावा
x

न्यूज़ क्रेडिट: आजतक

नई दिल्ली: शिवसेना के दो फाड़ होने के बाद भी लग रहा है कि जैसे टूट अभी जारी है. पार्टी के लोकसभा सदस्य कृपाल तुमाणे ने बुधवार को दावा किया कि उद्धव ठाकरे गुट के 2 सांसद और 5 विधायक शाम को दशहरा रैली में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे की लीडरशिप वाली शिवसेना में शामिल हो जाएंगे.
दशहरा को लेकर दोनों गुटों के बीच शिवसेना पर अपने-अपने वर्चस्व को दिखाने की लड़ाई देखी जा रही है. जहां दोनों गुटों ने शक्ति प्रदर्शन के लिए अपनी-अपनी बिसात बिछा दी है. वहीं सड़क पर दोनों गुटों के समर्थकों के बीच सीधी झड़प देखी जा रही है. ऐसे में उद्धव गुट के कुछ और सांसद-विधायक के टूटने के दावे से शाम की रैली का कौतूहल और बढ़ गया है.
एजेंसी की खबर के मुताबिक शिवसेना के जो दो सांसद टूटकर शिंदे गुट में शामिल होने जा रहे हैं, उनमें एक के मुंबई और एक के मराठवाड़ा क्षेत्र से होने का दावा किया जा रहा है. तुमाणे ने ये जानकारी दी, जो खुद शिंदे गुट के सदस्य हैं.
रामटेक से सांसद तुमाणे ने कहा, 'आप को शाम में ये देखने को मिलेगा. जो लोग शिंदे गुट की विचारधारा में विश्वास रखते हैं, वो खुद से कॉल कर रहे हैं और साथ जुड़ रहे हैं.' मौजूदा वक्त में शिवसेना के शिंदे गुट के साथ 40 विधायक और 12 लोकसभा सांसद हैं. जबकि ठाकरे गुट के साथ 15 विधायक और 6 लोकसभा सदस्य बचे हुए हैं.
जून में शिवसेना उस वक्त दो फाड़ हो गई थी, जब एकनाथ शिंदे ने अपना अलग गुट बनाकर शिवसेना से बगावत कर दी थी. इसके बाद बीजेपी के साथ मिलकर महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी. इस टूट से पहले शिवेसना के महाराष्ट्र में 18 लोकसभा सदस्य और दादरा और नागर हवेली से एक सांसद था.
बागी हुए एकनाथ शिंदे और उद्धव ठाकरे के बीच शिवसेना की पारंपरिक 'दशहरा रैली' शक्ति प्रदर्शन का गढ़ बन गई है. बुधवार को शिंदे गुट कर रैली बांद्रा कुर्ला कॉम्प्लेक्स के एमएमआरडीए ग्राउंड में होने जा रही है. जबकि उद्धव ठाकरे की रैली ऐतिहासिक शिवाजी पार्क में होनी है. यही वह मैदान है जहां शिवसेना की शुरुआत यानी 1966 से अब तक पार्टी की दशहरा रैली होती आई है.
Next Story
© All Rights Reserved @ 2023 Janta Se Rishta