Top
भारत

कोरोना: भारत में 187 लोगों में संक्रमित ब्रिटेन का मिला संस्करण, छह में दक्षिण अफ्रीका व एक में ब्राजील का मिला स्ट्रेन

Kunti
24 Feb 2021 2:32 AM GMT
कोरोना: भारत में 187 लोगों में संक्रमित ब्रिटेन का मिला संस्करण, छह में दक्षिण अफ्रीका व एक में ब्राजील का मिला स्ट्रेन
x
देश में कोरोना वायरस से संक्रमित 187 लोगों में ब्रिटेन, 6 लोगों में दक्षिण अफ्रीका और एक में ब्राजील का स्ट्रेन मिला है।

जनता से रिश्ता वेबडेस्क: देश में कोरोना वायरस से संक्रमित 187 लोगों में ब्रिटेन, 6 लोगों में दक्षिण अफ्रीका और एक में ब्राजील का स्ट्रेन मिला है। नीति आयोग के सदस्य डॉ वीके पॉल ने मंगलवार को कहा देश की 10 प्रयोगशालाओं में जीनोम सीक्वेंसिंग कराई जा रही है। इसके तहत अब तक 3500 सैंपल की सीक्वेंसिंग हुई है जिसमें यह जानकारी सामने आई हैं। इनके अलावा महाराष्ट्र, केरल और तेलंगाना में एन-440के और ई484-के वायरस के नए स्वरूप सामने आए हैं।

दरअसल, देश के जिन राज्यों में कोरोना वायरस का संक्रमण बढ़ रहा है वहां वायरस के नए स्वरूप भी दिखाई दे रहे हैं। इन राज्यों के कुछ जिलों में एक ही तरह के स्वरूप तेजी से कोरोना संक्रमित मरीजों में देखने को मिल रहे हैं।
तीन राज्यों में मिले कोरोना के नए स्वरूप
डॉ वीके पॉल ने बताया कि महाराष्ट्र, केरल और तेलंगाना में भले ही वायरस के नए-नए स्वरूप सामने आए हैं। लेकिन अभी तक यह साबित नहीं हुआ है कि इनकी वजह से ही संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं। कोरोना के नए स्वरूप सामने आने को लेकर डॉ पॉल ने कहा कोरोना का वायरस अभी भी हमें हैरान कर रहा है। इसे अभी और भी ज्यादा समझना जरूरी है।
केरल और महाराष्ट्र से 75 फीसदी मामले
75 फीसदी मामले केरल और महाराष्ट्र से आ रहे हैं। वहीं महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे ने इस संबंध में बैठक भी बुलाई है। मंगलवार को महाराष्ट्र से करीब 6 हजार मामले सामने आए। यहां कई जगहों पर दोबारा रात का लॉकडाउन लागू किया गया है।
मामले क्यों बढ़े, पता लगाएगी केंद्रीय टीमें
देश के जिन राज्यों में संक्रमण फिर से बढ़ रहा है वहां इसके कारणों का पता लगाने के लिए केंद्र की ओर से अलग-अलग टीमें रवाना हुई हैं। टीम में एम्स, आईसीएमआर सहित अन्य राष्ट्रीय संस्थानों के विशेषज्ञ शामिल हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने मंगलवार को बताया कि सभी टीम को जल्द से जल्द पर निरीक्षण पूरा करने और कोरोना संक्रमण बढ़ने के पीछे कारणों का पता लगाने के लिए कहा गया है।
Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it