भारत

कांग्रेस का सरकार पर हमला, राहुल गांधी बोले- कमाई पर बहुत ज्यादा ध्यान दे रहा सरकार, लोगों का दर्द पर नहीं

Chandravati Verma
31 Jan 2022 5:15 PM GMT
कांग्रेस का सरकार पर हमला, राहुल गांधी बोले- कमाई पर बहुत ज्यादा ध्यान दे रहा सरकार, लोगों का दर्द पर नहीं
x
वित्त मंत्री द्वारा पेश आर्थिक सर्वेक्षण में साल दर साल सकल कर संग्रह में 50 प्रतिशत की वृद्धि की बात कही गई है। इसको लेकर कांग्रेस और वामदलों ने सरकार पर हमला किया है।

नई दिल्ली। वित्त मंत्री द्वारा पेश आर्थिक सर्वेक्षण में साल दर साल सकल कर संग्रह में 50 प्रतिशत की वृद्धि की बात कही गई है। इसको लेकर कांग्रेस और वामदलों ने सरकार पर हमला किया है। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा कि सरकार सिर्फ अपनी कमाई देखती है उसे लोगों का दर्द नजर नहीं आता। वहीं वामदलों ने आर्थिक सर्वेक्षण में किए गए दावों को हकीकत से दूर बताया है।

कर के बोझ से जनता परेशान : राहुल
राहुल गांधी ने ट्वीट किया, 'कर संग्रह के बोझ से देश की जनता परेशान है जबकि मोदी सरकार के लिए कर से कमाई एक बड़ी उपलब्धि है। यह नजरिये का अंतर है-वे सिर्फ अपनी कमाई देखते हैं लोगों का दर्द नहीं।'
चिदंबरम बोले- पुरानी बात दोहराई
वहीं कांग्रेस नेता व पूर्व वित्त मंत्री चिदंबरम ने ट्वीट किया, 'आर्थिक समीक्षा में वही पुरानी बात दोहराई गई है कि 2021-22 के आखिर में अर्थव्यवस्था सुधार के साथ महामारी के पूर्व (2019-20) के स्तर पर पहुंच जाएगी। दो वर्षों में करोड़ों नौकरियां चली गईं, 84 प्रतिशत परिवारों की आय घट गई, 4.6 करोड़ लोग गरीबी की गिरफ्त में चले गए और भारत वैश्विक भूख सूचकांक में 116 देशों में 104 स्थान पर है।' उन्होंने कहा, 'यह पश्चाताप और रवैया में बदलाव का समय है, ढीगें हांकने और यथावत बने रहने का समय नहीं है।'
भाकपा ने कही यह बात
भाकपा नेता बिनय विस्वास ने ट्वीट किया, 'किसानों को न न्यूनतम समर्थन मूल्य मिला है और न बिजली बिल ही माफ हुआ है। मृतक किसानों के परिजनों को मुआवजे का इंतजार है। किसानों की मेहनत से कृषि क्षेत्र में विकास हुआ है। देश में अभी 30 प्रतिशत लोगों को कोरोना रोधी वैक्सीन नहीं लगी है।'
दावे हकीकत से दूर : येचुरी
माकपा महासचिव सीताराम येचुरी ने आर्थिक सर्वेक्षण को सरकार का जन संपर्क अभियान और झूठा प्रचार बताया। उन्होंने कहा कि आर्थिक सर्वेक्षण में जो भी दावे किए गए हैं वो हकीकत से दूर हैं। लाखों नौकरियां चली गई हैं और लोगों की आय घटी है।
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta