भारत

लॉकरों से जेवर चोरी का मामला, 35 दिन बाद बैंक अधिकारी ने शुरू की कार्रवाई

jantaserishta.com
18 April 2022 2:38 PM GMT
लॉकरों से जेवर चोरी का मामला, 35 दिन बाद बैंक अधिकारी ने शुरू की कार्रवाई
x
पढ़े पूरी खबर

कानपुर: यूपी के कानपुर में सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया के लॉकरों से जेवर चोरी के मामलों में 35 दिन बाद बैंक अधिकारी एक्शन में आए हैं. बैंक के लॉकरों से एक महीने में 11 लोगों के लॉकरों से लगभग 3.5 करोड़ की जेवर चोरी हो चुके है. पुलिस ने बैंक मैनेजर समेत पांच लोगों को जेल भी भेजा है. अभी तक सिर्फ 450 ग्राम जेवर ही बरामद की गई. उसमें भी कोई जेवरों की पहचान नहीं कर पाए. लॉकर पीड़ित तबसे लगातार अपने जेवरों के लिए बैंक अधिकारियों के खिलाफ प्रद्रशन कर रहे हैं, लेकिन बैंक की तरफ से कोई अधिकारी उनके दर्द को सुनने सामने नहीं आया था.

दरअसल, सेन्ट्रल बैंक के लॉकर से चोरी का मामला 14 मार्च को आया था. कानपुर में सेंट्रल बैंक की कराची खाना ब्रांच से एक महीने में अब तक नौ लोगों के लॉकरों से करोड़ों के जेवर चोरी हो चुके हैं. अभी बैंक के आधे लॉकर चेक होने बाकी हैं. पुलिस ने क्राइम ब्रांच के साथ मिलकर मामले का खुलासा करते हुए बताया कि जांच के दौरान इस मामले में बैंककर्मियों की भूमिका संदिग्ध है.
आखिरकार 35 दिन बाद बैंक अधिकारी एकाएक जाग उठे. आज कानपुर के रीजनल मैनेजर दयाशंकर पांडे ने खुद ब्रांच आकर लॉकर पीड़ितों से उनके चोरी हुए जेवरों की लिस्ट ली. उन्होंने दावा किया कि इतने लोग कह रहे हैं तो उनकी चोरी की बात माननी ही पड़ेगी. हम पीड़ितों से उनकी लिखित लिस्ट ले रहे हैं. इसके साथ-साथ दो दिन में बैंक के सभी कर्मचारियों को इस ब्रांच से ट्रांसफर हो जाएगा. हम पीड़ितों की लिस्ट ऊपर मुख्यालय भेज देंगे. इनको जल्दी कुछ न कुछ राहत मिलेगी.
वहीं, पीड़िता मीना यादव ने कहा कि हमें आज बैंक ने बुलाया था. हम उनको जेवरों की लिस्ट दे रहे हैं. हमारा तो सब कुछ चला गया. क्या बचा है अभी कुछ समझ नहीं आ रहा है.
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta