भारत

भाभी के एकतरफा प्यार में सनक गया था देवर, फिर हुआ ये...

jantaserishta.com
24 April 2022 10:52 AM GMT
भाभी के एकतरफा प्यार में सनक गया था देवर, फिर हुआ ये...
x

DEMO PIC

हत्या का मामला दर्ज कर लिया.

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के चिनहट इलाके में एक न्यायिक सेवा अधिकारी के घर में केयर टेकर के रूप में रहने वाले युवक की निर्मम हत्या कर दी गई. उसका शव खून से लथपथ उसके ही कमरे में बिस्तर पर मिला. सुबह पत्नी ने घटना की जानकारी पुलिस को दी. मौके पर पहुंची चिनहट पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है. मृतक की पत्नी ने अपने देवर पर हत्या का आरोप लगाया है.

मृतक की पत्नी की तहरीर पर पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपी की तलाश शुरू की ही थी कि कुछ ही घंटों में पुलिस ने आरोपी छोटे भाई भूपेंद्र साहू को ढूंढ निकाला. इसके बाद पुलिस भूपेंद्र साहू से पूछताछ कर घटना का खुलासा कर दिया. मृतक मोहित की पत्नी चंद्रिका ने अपने देवर पर हत्या का आरोप लगाया था जिस पर पुलिस ने मृतक के छोटे भाई भूपेंद्र साहू के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया.
चंद्रिका के मुताबिक अक्सर उसकी उसके देवर भूपेंद्र की लड़ाई और बहस हुआ करती थी. कभी पैसों को लेकर तो कभी किसी बात को लेकर. मृतक की बेटी पिंकी ने बताया कि कल (शनिवार) को चाचा भूपेंद्र आए थे और उसकी मां से कह रहा था कि उसे कुछ पैसे दिला दें और इस पर मेरी मां ने कहा कि पैसे नहीं है. पिंकी ने यह भी बताया कि उसका चाचा फोन लेने आया था क्योंकि गुस्से में कुछ दिन पहले फोन छोड़कर यहीं चला गया था. पिंकी का कहना है कि उसे शक है कि उसके पापा की हत्या उसके चाचा ने ही की है.
एडीसीपी कासिम आब्दी ने बताया कि रविवार सुबह लगभग 6 बजकर 30 मिनट पर चिनहट पुलिस को कंट्रोल रूम के माध्यम से सूचना प्राप्त होती है कि ए ब्लॉक मकान नंबर 284 दयाल रेजिडेंसी में एक युवक का शव मिला है जिसकी हत्या चाकू से कर दी गई है जिसके चलते मौके पर पुलिस पहुंचती है. उसके बाद फोरेंसिक टीम को भी बुलाया जाता है और देखा जाता है कि मृतक के गले पर एक गहरा घाव है और उसकी हत्या की गई है. शव को पोस्टमॉर्टम के लिए पंचायत नामा करा कर भेज दिया जाता है.
एडीसीपी कासिम आब्दी ने आगे बताया कि मोहित की पत्नी ने थाने में तहरीर दी है. उसमें जिक्र किया गया कि पुरानी रंजिश के कारण मोहित की हत्या उसके ही भाई भूपेंद्र साहू ने की है. इसके बाद उसे गिरफ्तार कर लिया जाता है. जब भूपेंद्र साहू से कड़ाई से पूछताछ की जाती है, तो पता चलता है कि वह अपने भाई मोहित साहू की पत्नी यानी अपनी भाभी से एक तरफा प्रेम करता था. इसी के चलते कई बार मोहित ने अपने भाई भूपेंद्र को चेतावनी भी दी थी और दोनों में कई बार बहस भी हो चुकी थी जिसके कारण से मोहित ने अपने घर से भूपेंद्र को निकाल दिया था. इसी रंजिश को लेकर भूपेंद्र साहू ने अपने भाई मोहित साहू की हत्या कर दी.
एडीसीपी कासिम आब्दी के मुताबिक, वारदात में जिस कुल्हाड़ी का इस्तेमाल किया गया था. भूपेंद्र साहू की निशानदेही पर उसे कब्जे में ले लिया गया है. वहीं, भूपेंद्र साहू को ज्यूडिशल कस्टडी में लेकर जेल भेजा जा रहा है. मामले में वैधानिक तरीके कार्रवाई से की जाएगी. यह लोग छत्तीसगढ़ के रहने वाले हैं.
बता दें कि मृतक मोहित साहू मूल रूप से बेमितरा जिले के छत्तीसगढ़ का रहने वाला था. वह अपनी पत्नी चंद्रिका और बच्चों के साथ लगभग 5 साल से लखनऊ के चिनहट इलाके के दयाल रेजिडेंसी के A ब्लॉक स्तिथ एक न्यायिक सेवा अधिकारी के घर में रहता था. मोहित साहू की उम्र 34 साल थी. उसकी पत्नी चंद्रिका यहां केयरटेकर का काम करती थी. मृतक मोहित लेबर गिरी का काम करता था. मोहित साहू के तीन बच्चे भी हैं, जिनके नाम पिंकी (15 वर्षीय), दामिनी (7 साल) और 4 साल का बेटा तरन है.
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta