भारत

विधानसभा के सामने आत्मदाह करने का किया प्रयास, बीजेपी की प्रचंड जीत से हुआ दुखी ये कार्यकर्ता

jantaserishta.com
10 March 2022 11:21 AM GMT
विधानसभा के सामने आत्मदाह करने का किया प्रयास, बीजेपी की प्रचंड जीत से हुआ दुखी ये कार्यकर्ता
x
देखें वीडियो।

UP Election Result 2022 : उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की जीत से आहत समाजवादी पार्टी (सपा) के एक कार्यकर्ता ने गुरुवार को यूपी विधानसभा के सामने आत्मदाह का प्रयास किया। हालांकि, वहां मौजूद पुलिस कर्मियों ने समय रहते उसे बचा लिया। उत्तर प्रदेश विधानसभा की 403 सीटों के लिए मतगणना चल रही है। अब तक के रुझानों में भाजपा सुबह से ही मजबूत बढ़त बनाए हुए है, जबकि सपा दूसरे नंबर पर चल रही है। वहीं, कांग्रेस भी बसपा से आगे निकल गई है।



मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गोरखपुर सदर सीट से और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव करहल सीट से लगातार मजबूत बढ़त बनाए हुए हैं जबकि उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य सिराथू सीट से पीछे चल रहे हैं।
पहली बार विधानसभा का चुनाव लड़ रहे योगी आदित्यनाथ लखनऊ में अपने सरकारी आवास से चुनाव नतीजों पर टेलीविजन के जरिए नजर रख रहे हैं। वहीं, गोरखपुर में गोरक्षनाथ पीठ के साथ-साथ प्रदेश भाजपा कार्यालय पर जीत का जश्न मनाने का सिलसिला शुरू हो चुका है। बड़ी संख्या में पार्टी कार्यकर्ता गोरखपुर के बेनीगंज स्थित भाजपा कार्यालय में इकट्ठा हो गए हैं और 'जय श्री राम' तथा 'मोदी योगी जिंदाबाद' के नारे लगाते हुए पटाखे जलाकर अपनी खुशी का इजहार कर रहे हैं। इसके अलावा बड़ी संख्या में लोग गोरखनाथ मंदिर के हिंदू सेवा आश्रम में भी एकत्र हुए हैं, जहां वे बड़े स्क्रीन पर चुनाव के नतीजे देख रहे हैं। वहीं, दूसरी ओर समाजवादी पार्टी के जिला कार्यालय पर कोई खास हलचल नहीं दिखाई दे रही है।
यूपी की सभी 403 विधानसभा सीटों के लिए सोमवार को चुनाव संपन्न होने के बाद विभिन्न एजेंसियों की ओर से किए गए एग्जिट पोल के मुताबिक, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को प्रदेश में बहुमत मिलने के आसार हैं। उत्तर प्रदेश में इस बार कुल 7 चरण में मतदान हुआ था।
बता दें कि, 2012 से 2017 तक उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे अखिलेश यादव की समाजवादी पार्टी को 2017 के विधानसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश विधानसभा की 403 सीटों में सिर्फ 47 सीटों पर जीत मिली थी, जबकि भारतीय जनता पार्टी ने अकेले 312 और उसके सहयोगियों ने 13 सीटें जीती थीं। वहीं, BSP को 19, कांग्रेस को 07 सीट और अन्य को 5 सीटें मिली थीं। 2014 और 2019 के लोकसभा चुनाव में भी भाजपा को भारी जीत मिली थी।
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta