भारत

एक पिता 21 दिन से कलेक्टर कैंपस में भूख हड़ताल पर, ये है वजह

jantaserishta.com
29 March 2022 2:10 PM GMT
एक पिता 21 दिन से कलेक्टर कैंपस में भूख हड़ताल पर, ये है वजह
x
पढ़े पूरी खबर

मध्यप्रदेश के नीमचमें एक पिता करीब 21 दिन से कलेक्टर कैंपस में भूख हड़ताल पर है. उनकी बेटी 14 महीने से लापता है. पिता का आरोप है कि पुलिस अब तक बेटी का कोई सुराग नहीं लगा सकी है. अब पुलिस ने इस मामले में एसआईटी का गठन किया है.

नीमच जिले के मनासा में 14 महीने से लापता नेहा जोशी के मामले में अब पुलिस हरकत में आयी है. पुलिस अधीक्षक सूरज कुमार वर्मा ने एक एसआईटी गठित की है. लापता युवती के बारे सूचना देने पर इनाम की राशि को दस हजार से बढ़ाकर तीस हजार रुपए का रिपोर्ट आईजी उज्जैन को भेजा है. लापता नेहा जोशी के पिता राकेश जोशी 21 दिनों से कलेक्ट्रेट कैंपस में भूख हड़ताल पर हैं. उनकी मांग है कि मेरी बेटी जिंदा है या मर गई है, पुलिस इस बात का खुलासा कर दें. इसके बाद घर चला जाऊंगा. भूख हड़ताल से लापता युवती के पिता राकेश जोशी की तबीयत बिगड़ गई है. जिसके बाद डॉक्टरों की टीम ने उनका चेकअप किया.
लापता नेहा जोशी की मामले में पुलिस चार आरोपियों को गिरफ्तार किया है. लेकिन युवती का अब तक पता नहीं चला है. नेहा के पिता को न्याय दिलाने के लिए विभिन्न सामाजिक, राजनीतिक संगठनों के अलावा आम नागरिक और महिलाएं उनसे रोजाना मिलने पहुंच रहे हैं. जिससे प्रशासन पर दबाव बनाया जा सके.
लापता नेहा जोशी मामले में अब पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने भी ट्वीट किया है. दिग्विजय सिंह ने लिखा है कि 'राकेश जोशी जो कि संघ से जुड़ा हुआ है. उसकी बेटी महीनों से लापता है. राकेश लगभग एक महीने से भूख हड़ताल पर है. प्रशासन निष्क्रिय है. हिंदू धर्म राजनीति करने वाले मौन हैं. आरोपियों को गिरफ्तार कर भाजपा नेताओं के दबाव में छोड़ दिया. जब जनता में नाराजगी बढ़ी तब फिर आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया. पहले पकड़ा क्यों और फिर छोड़ा क्यों? और जब चारों को निर्दोष मान कर छोड़ दिया तो फिर पकड़ा क्यों? क्या नीमच पुलिस से कोई पूछने वाला है?
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta