भारत

12वीं की छात्रा ने 17 साल की उम्र में की खुदकुशी, धर्म बदलने और वॉर्डन की प्रताड़ना का है पूरा मामला

jantaserishta.com
20 Jan 2022 12:18 PM GMT
12वीं की छात्रा ने 17 साल की उम्र में की खुदकुशी, धर्म बदलने और वॉर्डन की प्रताड़ना का है पूरा मामला
x
पढ़े पूरी स्टोरी।

चेन्नई: तमिलनाडु में धर्म बदलने से इनकार करने वाली छात्रा को कथित रूप से इतना प्रताड़ित किया गया कि अंत में उसने आत्महत्या कर ली. मामला तंजावुर शहर का है. पुलिस ने छात्रा को प्रताड़ित करने वाली हॉस्टल वॉर्डन को गिरफ्तार कर लिया है. छात्रा की उम्र 17 साल थी और वह सेंट माइकल गर्ल्स होम है रहकर 12 क्लास में पढ़ रही थी.

छात्रा का नाम लवन्या है. जिस बोर्डिंग स्कूल की वॉर्डन पर उसे प्रताड़ित करने का आरोप है. उस स्कूल में लवन्या को 8 साल पहले उसकी मां की मौत के बाद भर्ती कराया गया था. उसके पिता का नाम मुरुगनंदम है, जो अरियालुर में रहते हैं.
10 जनवरी को मुरुगनंदम के पास हॉस्टल से फोन आया था कि उनकी बेटी लवन्या को एक दिन पहले पेट में तेज दर्द हुआ और वह अस्पताल में भर्ती है. अस्पताल पहुंचकर मुरुगनंदम ने बेटी को तंजावुर मेडिकल कॉलेज में रेफर करवा लिया. वहां लवन्या ने डॉक्टरों के सामने कबूल किया कि वह हॉस्टल वॉर्डन की प्रताड़ना से तंग आ चुकी थी. उसने कीटनाशक पी लिया है. लवन्या ने यह भी कहा कि उसपर क्रिश्चन धर्म अपनाने के लिए लगातार दबाव डाला जा रहा था.
डॉक्टरों ने इसकी जानकारी फौरन पुलिस को दी. पुलिस ने लवन्या का बयान दर्ज कर 62 साल की वॉर्डन शाकायामारी को गिरफ्तार कर लिया. लवन्या में अफने बयान में सिस्टर मैरी नाम की महिला पर भी दबाव डालने का आरोप लगाया है.
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta