पश्चिम बंगाल

पश्चिम बंगाल में आज से मिनी लॉकडाउन लागू

Bhumika Sahu
3 Jan 2022 2:59 AM GMT
पश्चिम बंगाल में आज से मिनी लॉकडाउन लागू
x
Mini lockdown in West Bengal: पश्चिम बंगाल में पिछले सात दिन में कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में 12 गुना इजाफा होने के बीच राज्य सरकार ने प्रतिबंध लगाना शुरू किया है. राज्य के स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक, पश्चिम बंगाल में रविवार को संक्रमण के 6,153 नए मामले दर्ज किए गए.

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। पश्चिम बंगाल (West Bengal Lockdown) में कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमण के बढ़ते मामलों के कारण राज्य सरकार ने फिर से कोविड-19 से जुड़े सख्त प्रतिबंधों (Covid-19 Restrictions) को लागू किया है. मुख्य सचिव एच के द्विवेदी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में राज्य में लागू किए गए नये नियमों की जानकारी देते हुए कहा कि ये सभी प्रतिबंध 3 जवरी से 15 जनवरी तक प्रभावी रहेंगे. संक्रमण के मामलों में भारी वृद्धि के चलते सोमवार से सभी शैक्षणिक संस्थानों को बंद करने और कार्यालयों में कर्मियों की उपस्थिति 50 प्रतिशत तक सीमित करने के आदेश के साथ कोविड संबंधी प्रतिबंधों को फिर लागू कर दिया है. साथ ही मुंबई और नयी दिल्ली से उड़ानें सप्ताह में केवल दो बार (सोमवार और शुक्रवार) चलेंगी.

मुख्य सचिव एच के द्विवेदी ने कहा कि जोखिम रहित कैटेगरी वाले देशों से आने वाले यात्रियों के लिए रैपिड एंटीजेन टेस्ट अनिवार्य होगा, जबकि इनमें से 10 फीसदी मुसाफिरों का आरटी-पीसीआर टेस्ट भी किया जाएगा. 5 जनवरी से मुंबई और नई दिल्ली से सप्ताह में सिर्फ दो बार सोमवार और शुक्रवार को फ्लाइट्स को आने की इजाजत दी जाएगी. जबकि ब्रिटेन से किसी भी फ्लाइट को आने की अनुमति नहीं दी गई है.
प्रतिबंधों के बीच बंगाल में क्या छूट मिलेगी:
1. राज्य में रात 10 बजे से सुबह 5 बजे तक सिर्फ जरूरी सेवाओं की अनुमति होगी.
2. लोकल ट्रेन शाम 7 बजे तक 50 फीसदी क्षमता के साथ चलेंगी.
3. सभी शॉपिंग मॉल और मार्केट रात 10 बजे तक आधी क्षमता के साथ खुले रहेंगे.
4. कोलकाता में मेट्रो ट्रेन सेवाएं 50 फीसदी क्षमता के साथ जारी रहेगी.
5. सरकारी और प्राइवेट दोनों ऑफिस 50 फीसदी स्टाफ के साथ काम करते रहेंगे.
6. सिनेमा हॉल और थियेटर्स को भी 50 फीसदी क्षमता के साथ खोले जाने की अनुमति रहेगी.
7. एक समय में अधिकतम 200 व्यक्तियों के साथ मीटिंग और कॉन्फ्रेंस करने की इजाजत होगी.
7. बार और रेस्टोरेंट को 50 फीसदी की क्षमता के साथ रात 10 बजे तक खोलने की अनुमति रहेगी.
8. जबकि खाने और अन्य जरूरी सामानों की होम डिलीवरी पूर्व निर्धारित समय के अनुसार होगी.
इन गतिविधियों पर रहेगा प्रतिबंध
1. राज्य के सभी स्कूल, कॉलेज और यूनिवर्सिटी बंद रहेंगे. इन संस्थाओं में सिर्फ प्रशासनिक कार्यों के लिए 50 फीसदी क्षमता के साथ कर्मचारियों को काम करने की अनुमति रहेगी.
2. ब्रिटेन से आने वाली सभी फ्लाइट्स अस्थाई रूप से सस्पेंड रहेंगी.
3. 'द्वारे सरकार' से जुड़े सभी कार्यक्रम स्थगित कर दिए गए हैं और इन्हें 1 फरवरी से दोबारा शुरू किया जाएगा.
4. स्विमिंग पूल, स्पा, जिम, ब्यूटी पार्लर, सैलून और वेलनेस सेंटर्स बंद रहेंगे.
5. सभी एंटरटेनमेंट पार्क, चिड़ियाघर, पर्यटक स्थल बंद रहेंगे.
6. शादी समारोह में शामिल होने के लिए 50 लोगों से ज्यादा की अनुमति नहीं दी जाएगी और अंतिम संस्कार में सिर्फ 20 लोगों को शामिल इजाजत होगी.
7. स्टेट हेल्थ डिपार्टमेंट के अनुसार, पश्चिम बंगाल में शनिवार को कोविड-19 के 4512 नए मामले सामने आए थे, जबकि शुक्रवार को इनकी संख्या 1061 थी. कोलकाता में कोरोना संक्रमण के 2398 नए मामले मिले हैं.
सिर्फ दो दिन दिल्ली-मुंबई के लिए फ्लाइट्स
मुख्य सचिव एच के द्विवेदी ने रविवार को संवाददाता सम्मेलन में घोषणा की कि राज्य में 15 जनवरी तक रात 10 बजे से सुबह पांच बजे के बीच केवल आवश्यक सेवाओं की अनुमति होगी. पश्चिम बंगाल में पिछले सात दिन में कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में 12 गुना इजाफा होने के बीच राज्य सरकार ने प्रतिबंध लगाना शुरू किया है. राज्य के स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक, पश्चिम बंगाल में रविवार को संक्रमण के 6,153 नए मामले दर्ज किए गए. मुख्य सचिव ने कहा, "कल से सभी स्कूल, कॉलेज और विश्वविद्यालय में अकादमिक गतिविधियां बंद रहेंगी. 50 फीसदी क्षमता के साथ केवल प्रशासनिक गतिविधियों की अनुमति रहेगी. उन्होंने कहा कि बोर्ड परीक्षा को लेकर संबंधित बोर्ड द्वारा निर्णय लिया जाएगा."
द्विवेदी ने कहा कि मुंबई और नयी दिल्ली से उड़ानें सप्ताह में केवल दो बार (सोमवार और शुक्रवार) चलेंगी और ब्रिटेन से किसी भी उड़ान की अनुमति नहीं होगी. उन्होंने कहा कि दोनों शहरों में संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ने के मद्देनजर उड़ानों को सीमित किया गया है. द्विवेदी ने कहा कि पांच जनवरी से दिल्ली और मुंबई से आने वाली उड़ानों को सिर्फ सोमवार और शुक्रवार को ही अनुमति रहेगी और महामारी के हालात की समीक्षा किए जाने तक यह आदेश लागू रहेगा. द्विवेदी ने कहा, "हमने अस्थायी तौर पर ब्रिटेन से आने वाली उड़ानों पर रोक लगायी है. गैर-जोखिम वाली श्रेणी के देशों से आने वाले यात्रियों की रैपिड एंटीजन जांच अनिवार्य की गई है. अगर वे संक्रमित पाए जाते हैं तो आरटी-पीसीआर जांच से गुजरना होगा." हालांकि, मुख्य सचिव ने स्पष्ट किया कि ब्रिटेन से आने वाले यात्री किसी अन्य शहर में उतरकर घरेलू उड़ान या ट्रेन के जरिए पश्चिम बंगाल आ सकते हैं.
ट्रेनों के लिए भी निर्देश
द्विवेदी ने कहा कि लोकल रेलगाड़ियों को शाम सात बजे तक 50 प्रतिशत क्षमता के साथ चलने की अनुमति होगी, जबकि सभी शॉपिंग मॉल और बाजारों को रात 10 बजे तक खुले रहने की अनुमति होगी, लेकिन उनकी आधी क्षमता के साथ. उन्होंने कहा कि लंबी दूरी की ट्रेन अपने सामान्य समय के अनुसार चलेंगी. कोलकाता में मेट्रो ट्रेन भी 50 प्रतिशत क्षमता के साथ अपने सामान्य समय के अनुसार चलेंगी. उन्होंने कहा कि चिड़ियाघर सहित पर्यटक आकर्षण के सभी स्थल बंद रहेंगे तथा स्विमिंग पूल, पार्लर, स्पा, वेलनेस सेंटर और जिम को भी बंद करने के लिए कहा गया है. सिनेमा हॉल और थिएटर को 50 प्रतिशत क्षमता के साथ संचालित रखने की अनुमति दी गई है. एक बार में अधिकतम 200 लोगों या हॉल की 50 प्रतिशत क्षमता, जो भी कम हो, के साथ बैठक और सम्मेलन की अनुमति दी गई है.
बार और रेस्तरां को रात 10 बजे तक 50 प्रतिशत क्षमता के साथ खुले रहने की अनुमति दी गई है, जबकि भोजन एवं अन्य आवश्यक उत्पादों की होम डिलीवरी की अनुमति सामान्य परिचालन समय के अनुसार ही होगी. मुख्य सचिव ने कहा कि शादियों में 50 से अधिक व्यक्तियों को अनुमति नहीं दी जाएगी, और अंतिम संस्कार के दौरान केवल 20 व्यक्तियों को अनुमति दी जाएगी. राज्य सरकार ने उद्योगों, कारखानों, मिल, चाय बागानों और अन्य व्यावसायिक प्रतिष्ठानों के प्रबंधन से दिशा-निर्देशों का कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित करने को कहा. वहीं, दो जनवरी से शुरू होने वाले 'द्वारे सरकार' शिविरों को एक महीने के लिए टाल दिया गया है और ये एक फरवरी से शुरू होंगे.
नगर निगम चुनावों पर भी संशय
इस बीच, कोरोना वायरस की संभावित तीसरी लहर आने के खतरे के बीच पश्चिम बंगाल में चार नगर निगमों के आगामी चुनावों पर अनिश्चितता के बादल मंडराने लगे हैं. राजनीतिक दलों और राज्य निर्वाचन आयोग (एसईसी) ने अभी यह तय नहीं किया है कि क्या वे 22 जनवरी को निर्धारित तारीख पर चुनाव कराए जाएं या इन्हें टाल दिया जाए. राज्य सरकार ने संक्रमण के मामलों में वृद्धि के बीच रविवार को कोविड संबंधी पाबंदियां लगाते हुए सभी शैक्षणिक संस्थानों को तीन जनवरी से बंद कर दिया और कार्यालयों को 50 प्रतिशत क्षमता के साथ खुलने की अनुमति दी. एसईसी ने पिछले हफ्ते घोषणा की थी कि चार नगर निगमों – सिलीगुड़ी, चंदननगर, बिधाननगर और आसनसोल में चुनाव 22 जनवरी को होंगे. राज्य निर्वाचन आयुक्त सौरव दास से संपर्क करने पर उन्होंने कहा कि वह यह बताने की स्थिति में नहीं है कि क्या निर्धारित तारीख पर चुनाव कराए जाएंगे या स्थगित किए जाएंगे. उन्होंने कहा, "मैं अभी इस पर टिप्पणी नहीं कर सकता हूं. मुझे राज्य सरकार के साथ इस मामले पर चर्चा करनी होगी और फिर फैसला लिया जाएगा."
Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it