पश्चिम बंगाल

राज्यपाल ने दिए अभिषेक बनर्जी के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश, जाने क्या है मामला

Nidhi Singh
30 May 2022 3:13 PM GMT
राज्यपाल ने दिए अभिषेक बनर्जी के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश,  जाने क्या है मामला
x
न्यायपालिका को लेकर दिए गए बयान के मामले में टीएमसी नेता की मुश्किलें बढ़ने वाली है

न्यायपालिका को लेकर दिए गए बयान के मामले में टीएमसी नेता की मुश्किलें बढ़ने वाली है। इस मामले में राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने मुख्य सचिव को टीएमसी नेता और सीएम ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी के खिलाफ कार्रवाई करने का निर्देश दिया है। वहीं, सीएम ममता बनर्जी के भतीजे और डायमंड हार्बर के सांसद अभिषेक बनर्जी ने भी पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। उन्होंने राज्यपाल पर भाजपा का पक्ष लेने के आरोप लगाए हैं। गौरतलब है कि राज्यपाल ने एक दिन पहले ही सिलीगुड़ी में कहा था कि टीएमसी सांसद ने न्यायपालिका की आलोचना करके रेड लाइन क्रास कर दी है।

राज्यपाल ने दिए अभिषेक बनर्जी के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश

अभिषेक बनर्जी की न्यायपालिका पर की गई टिप्पणी का संज्ञान लेते हुए राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने सोमवार को बयान जारी किया। उन्होंने कहा कि डायमंड हार्बर के सांसद की न्यायपालिका पर टिप्पणी को अनदेखा नहीं किया जा सकता। उन्होंने पश्चिम बंगाल के मुख्य सचिव हरि कृष्ण द्विवेदी और पुलिस आयुक्त को टीएमसी नेता के खिलाफ उचित कार्रवाई करने का निर्देश दिया है। साथ ही राज्यपाल ने छह जून तक कार्रवाई की रिपोर्ट भेजने के लिए भी कहा है।

अभिषेक बनर्जी ने राज्यपाल जगदीप धनखड़ पर निशाना साधा

टीएमसी नेता अभिषेक बनर्जी ने राज्यपाल जगदीप धनखड़ पर निशाना साधा है। उन्होंने राज्यपाल पर पलटवार करते हुए कहा कि वह चुप रहना पसंद करते हैं जब भाजपा सदस्य विवादास्पद टिप्पणी करते हैं और बंगाल की सीएम ममता बनर्जी का अपमान करते हैं। ममता बनर्जी के भतीजे और तृणमूल कांग्रेस के महासचिव अभिषेक बनर्जी ने आगे बोलते हुए गवर्नर जगदीप धनखड़ पर बंगाल की सीएम ममता बनर्जी का अपमान करने का आरोप लगाया।

क्या है मामला

दरअसल, कलकत्ता उच्च न्यायालय ने पिछले एक साल में कई मामलों में सीबीआई जांच के आदेश दिया है। इनमें चुनाव के बाद की हिंसा और स्कूल सेवा आयोग (एसएससी) द्वारा शिक्षकों की भर्ती में हुए घोटाले भी शामिल है। इसी को लेकर टीएमसी नेता अभिषेक बनर्जी ने कहा, 'मैं यह बात कह कर बहुत शर्मिंदा महसूस कर रहा हूं कि न्यायतंत्र में एक या दो लोग ऐसे हैं जो (पश्चिम बंगाल के) हर मामले में सीबीआई जांच का आदेश दे रहे हैं। यह न्यायतंत्र का केवल एक फीसदी है।' उन्होंने आगे कहा कि अगर आपको लगता है कि सच बोलने के लिए आप मेरे खिलाफ कार्रवाई करेंगे, तो मैं हजार बार सच बोलूंगा।

Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta