पश्चिम बंगाल

शांतिपुर में बीजेपी कार्यकर्ता को दी जान से मारने की धमकी, माकपा के पूर्व विधायक के सिर पर मारी ईंट

Nidhi Singh
30 Oct 2021 7:22 AM GMT
शांतिपुर में बीजेपी कार्यकर्ता को दी जान से मारने की धमकी, माकपा के पूर्व विधायक के सिर पर मारी ईंट
x
बता दें कि तापस दास शांतिपुर विधानसभा के बेलघरिया नंबर 1 ग्राम पंचायत के बहनबीघा क्षेत्र के प्रभारी थे.

पश्चिम बंगाल विधानसभा (West Bengal Assembly By-Polls) की चार सीटों-दिनहाटा, नदिया की शांतिपुर, उत्तर 24 परगना की खड़दह और दक्षिण 24 परगना जिले की गोसाबा पर उपचुनाव को लेकर कोई बड़ी घटना नहीं घटी है, लेकिन छिटपुट झड़प, मारपीट और धमकी की घटनाएं घट रही हैं. शांतिपुर विधानसभा (Shantipur Assmbly By-Election) क्षेत्र में कथित रूप से बंगाल बीजेपी के एक कार्यकर्ता (BJP Workers) को जान से मारने और घर जलाने की धमकी दी गई. उसकी मां ने डर से अपने बेटे को नजरबंद कर दिया और उसे चुनाव बूथ पर जाने नहीं दी. दूसरी ओर, खड़दह में सीपीआई-एम के पूर्व विधायक तन्मय भट्टाचार्य (CPI-M Leader) को सिर पर ईंट से मारी गई. चुनाव आयोग से शिकायत की गई है.

हालांकि उपचुनाव के दौरान सुबह से कोई बड़ी गड़बड़ी नहीं हुई, लेकिन शांतिपुर में एक चौंकाने वाला आरोप लगा है. सत्ता पक्ष टीएमसी के डर से मां ने अपने बेटे को नजरबंद कर रखा था. बीजेपी कार्यकर्ता तापस दास को कथित तौर पर रात में धमकी दी गई थी. इसलिए आज बीजेपी एजेंट बनकर उनकी मां ने उन्हें बूथ तक नहीं जाने दी और घर में बंद कर दिया. इस घटना के चलते काफी देर तक बूथ संख्या 240 पर बीजेपी का कोई एजेंट नहीं रहा.
शांतिपुर में बीजेपी कार्यकर्ता को दी जान से मारने की धमकी
बता दें कि तापस दास शांतिपुर विधानसभा के बेलघरिया नंबर 1 ग्राम पंचायत के बहनबीघा क्षेत्र के प्रभारी थे. बीजेपी कार्यकर्ता तापस आज सुबह अपने घर से नहीं निकले. तापस दास ने कहा कि बदमाशों ने रात में धमकी दी कि अगर उन्होंने बूथ पर जाने की कोशिश की तो उनके घर जला दिए जाएंगे. आरोप है कि हमलावरों ने घर पर हमला किया और घर में तोड़फोड़ की. घर से बाहर जाने पर जान से मारने की धमकी भी दी. तापस दास की मां ने कहा, "आंखों के सामने सब कुछ देखकर मैं लड़के को घर से कैसे निकलने दे सकती हूं." परिवार का दावा है कि यह पहली बार नहीं है.उन्हें एक से अधिक बार धमकी दी गई है,. शांतिपुर उपचुनाव से बीजेपी प्रत्याशी निरंजन विश्वास घटना की खबर पाकर तापस दास के घर गए. उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल में तालिबान का शासन चल रहा है. बूथ एजेंटों को बैठने नहीं दिया जा रहा है.
माकपा के पूर्व विधायक के सिर पर मारी ईंट
दूसरी ओर, खड़दह में माकपा नेता तन्मय भट्टाचार्य पर 'हमला' करने का आरोप लगाया है. माकपा नेता ने आरोप लगाया कि पार्टी कार्यालय में आते समय ईंटें फेंकी गईं. ईंट उनके सिर पर लगी. तन्मय भट्टाचार्य ने कहा," मैं चल रहा था. जैसे ही मैं अपने पार्टी कार्यालय में दाखिल हुआ, पीछे से एक पत्थर या ईंट मेरी गर्दन पर लगी. मैं पीछे मुड़कर देखा तो एक लड़का काली पैंट पहने, काला मुखौटा पहने तेजी से चलता हुआ दिखाई देता है. मैंने किसी को नहीं देखा है, इसलिए मैं उसे दोष नहीं दे रहा हूं. बाकी सब सामने घूर रहे थे, उन्हें देखना कोई असामान्य बात नहीं थी." तृणमूल के उम्मीदवार शोभनदेव चटर्जी ने कहा, "मैं घटना की निंदा करता हूं. हमारी टीम किसी भी तरह से शामिल नहीं है. पार्टी ने सभी से विपक्ष को बाधित नहीं करने को कहा है."
Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it