पश्चिम बंगाल

BJP प्रतिनिधिमंडल ने राज्यपाल से की मुलाकात, सुवेंदु अधिकारी ने की ये बड़ी मांग

jantaserishta.com
10 May 2022 4:20 PM GMT
BJP प्रतिनिधिमंडल ने राज्यपाल से की मुलाकात, सुवेंदु अधिकारी ने की ये बड़ी मांग
x
पढ़े पूरी खबर

पश्चिम बंगाल में आज राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने राजधानी कोलकाता में चुनाव बाद हुई हिंसा पीड़ितों के परिवार वालों से मुलाकात की. इस दौरान वहां बीजेपी प्रतिनिधिमंडल भी मौजूद था. इस प्रतिनिधिमंडल मेंनंदीग्राम से बीजेपी विधायक और नेता प्रतिपक्ष सुवेंदु अधिकारी, राज्य प्रमुख सुकांत मजूमदार, सांसद सौमित्र खान, सचिव अग्निमित्र पॉल और प्रियंका टिबरेवाल शामिल थीं. राज्यपाल धनखड़ से मुलाकात के बाद सुवेंदु अधिकारी ने ममता सरकार से मांगी की कि रामपुरहाट हिंसा मामले में मिला समान मुआवजा चुनाव के बाद हुई हिंसा के सभी पीड़ितों को दिया जाना चाहिए. उन्होंने दावा किया कि बंगाल में पिछले 18 सालों में बीजेपी के 204 कार्यकर्ताओं की मौत हुई है.

राज्यपाल धनखड़ से मिलने के बाद पश्चिम बंगाल बीजेपी प्रमुख सुकांत मजूमदार ने समाचार एजेंसी एएनआई से कहा, "एक साल बाद भी हिंसा के दोषियों को दंडित नहीं किया गया है और हिंसा से प्रभावितों को बंगाल सरकार से कोई मदद नहीं मिली है." उन्होंने कहा, "अगर उन्हें मुआवजा नहीं मिला तो ममता बनर्जी को यह स्वीकार कर लेना चाहिए कि वह पश्चिम बंगाल की नहीं बल्कि तृणमूल कांग्रेस की मुख्यमंत्री है." वहीं, बीजेपी महासचिव अग्निमित्र पॉल ने कहा, "सीबीआई हिंसा की जांच कर रही है और केंद्र सरकार ने कुछ लोगों के लिए नौकरी की व्यवस्था की है, लेकिन राज्य सरकार क्या कर रही है? घटना यहीं हुई, क्या यह सीएम की जिम्मेदारी नहीं है? हमें न्याय चाहिए."
हिंसा पीड़ितों और बीजेपी प्रतिनिधिमंडल के साथ मुलाकात के बाद राज्यपाल धनखड़ ने कहा, "मैं इन परिवारों के साथ सहानुभूति रखता हूं और आश्वासन देता हूं कि भारत के संविधान में बहुत शक्ति है. सीबीआई जांच कर रही है. मैं मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से चर्चा करूंगा और प्रभावित परिवारों की मदद के लिए संबंधित व्यवस्थाओं में हस्तक्षेप करूंगा. मुझे प्रदान की गई जानकारी को मैंने नोट कर लिया है. उस पर गौर करूंगा और आवश्यक कार्रवाई करूंगा."
राज्यपाल ने आगे कहा, "चुनाव के बाद हिंसा समाज के लिए शर्म की बात है और एक साल बाद भी पीड़ितों को मुआवजा और राहत नहीं मिलना चिंता का विषय है. मुझे सौंपे गए ज्ञापन में उन सभी परिवारों के लिए वित्तीय मुआवजे की मांग की गई है, जिनकी संपत्तियां नष्ट हो गईं. मैं इस ज्ञापन का अध्ययन करूंगा."
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta