पश्चिम बंगाल

49 लाख की विदेशी मुद्रा के साथ बांग्लादेशी ट्रक ड्राइवर गिरफ्तार

Kunti Dhruw
7 Feb 2022 6:26 PM GMT
49 लाख की विदेशी मुद्रा के साथ बांग्लादेशी ट्रक ड्राइवर गिरफ्तार
x
रविवार को SSB ने उत्तर 24 परगना जिले में एक बांग्लादेशी (Bangladesh) ट्रक ड्राइवर भारी मात्रा में विदेशी मुद्रा के साथ गिरफ्तार किया है.

पश्चिम बंगाल: रविवार को SSB ने उत्तर 24 परगना जिले में एक बांग्लादेशी (Bangladesh) ट्रक ड्राइवर भारी मात्रा में विदेशी मुद्रा के साथ गिरफ्तार किया है. रविवार को दोपहर डेढ़ बजे के करीब दक्षिण बंगाल फ्रंटियर के तहत, आईसीपी पेट्रापोल, 179 वीं वाहिनी के जवानों ने विश्वसनीय खबर के आधार पर एक बांग्लादेशी ट्रक चालक को रंगे हाथ पकड़ा, जिसके पास भारी मात्रा में विदेशी मुद्रा थी.

जब वह एक बांग्लादेशी ट्रक के पास खड़ा था, बीएसएफ के जवानों ने उसे कार्गो कॉम्प्लेक्स, आईसीपी पेट्रापोल के आयात पार्किंग क्षेत्र में रोका. जब उसकी तलाशी ली तो उसकी पतलून की जेब में भूरे रंग के टेप में लिपटे तीन पैकेट छिपे हुए मिले. भागने से रोकने के लिए उसे तुरंत हिरासत में ले लिया गया. पूछताछ करने पर उसने बताया कि वह बांग्लादेश का ट्रक ड्राइवर है. बीएसएफ के राजपत्रित अधिकारी, कंपनी कमांडर और अन्य लोगों की मौजूदगी में व्यक्ति के साथ-साथ ट्रक की तलाशी ली गई. वहीं 3 भूरे रंग के पैकेट खोलने पर, 20,000 कनाडाई डॉलर और 30,000 अमेरिकी डॉलर की विदेशी मुद्रा बरामद की गई. साथ ही उसके पास से 2,600 बांग्लादेशी टका और एक मोबाइल फोन भी बरामद किया गया है. जब्त की गई विदेशी मुद्रा और ट्रक की कुल कीमत 49,16,763 रुपए आंकी गई.
भारतीय नागरिक ने दिए थे पैसे
पकड़े गए ट्रक चालक से पूछताछ करने पर उसने अपनी पहचान रफीकुल इस्लाम (44), पुत्र स्वर्गीय सोयद सरदार, ग्राम मोलिकपुर, झिकरगाचा, जिला जशोर, बांग्लादेश के रूप में बताई. उसने आगे खुलासा किया कि वह एक बांग्लादेशी नागरिक है और वह एक ट्रक चालक के रूप में काम करता है और नियमित रूप से निर्यात सामान लेकर पेट्रापोल (भारत) आता है.
उसने खुलासा किया कि आज वह सुबह 9.45 बजे बांग्लादेश से आईसीपी पेट्रापोल निर्यात सामान (केमिकल) लेकर आया था. उसने आगे खुलासा किया कि लगभग डेढ़ बजे, आयात पार्किंग क्षेत्र के अंदर एक भारतीय नागरिक ने उसे तीन पैकेट दिए थे जो बेनापोल में सजल नाम के एक बांग्लादेशी नागरिक को दिए जाने थे. इस काम के लिए उसे 500 बांग्लादेशी टका मिलना था.
वहीं, बीएसएफ ने सूत्रो के जरिए बांग्लादेशी ड्राइवर को विदेशी मुद्रा सौंपने वाले भारतीय नागरिक की पहचान कर ली है. वह आईसीपी परिसर तक पहुंचने के लिए एक क्लियरिंग एजेंट है. उसे पेट्रापोल क्लियरिंग एजेंट स्टाफ वेलफेयर एसोसिएशन द्वारा पहचान पत्र जारी किया गया है. गिरफ्तार ट्रक चालक को जब्त सामग्री के साथ आगे की कानूनी कार्यवाही के लिए सीमा शुल्क कार्यालय पेट्रापोल को सौंप दिया गया है.


Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta