त्रिपुरा

विशालगढ़ थाने की पुलिस ने चलाया गांजा विरोधी अभियान

Khushboo Dhruw
2 Dec 2023 4:28 PM GMT
विशालगढ़ थाने की पुलिस ने चलाया गांजा विरोधी अभियान
x

त्रिपुरा : विशालगढ़ थाने की पुलिस को गांजा विरोधी अभियान में बड़ी सफलता मिली। विशालगढ़ थाने के ओसी तापस दास ने इस अभियान का नेतृत्व किया. शनिवार सुबह 9 बजे विशालगढ़ पुलिस स्टेशन ओसी तापस दास की देखरेख में गोपनीय सूत्रों से मिली जानकारी के आधार पर विशालगढ़ पुलिस स्टेशन एडीसी क्षेत्र के अंतर्गत बटांगमुरा, रामचरा और रंगमाटी क्षेत्रों में कुल 24 स्थानों की तलाशी ली गई। 48 स्थानों पर हजारों गांजे के पेड़ काटकर नष्ट कर दिये गये। मौके पर विशालगढ़ पुलिस के अलावा 71 सीआरपीएफ के जवान और 11 टीएसआर के जवान भी मौजूद थे.

इससे पहले भी जब इंस्पेक्टर तापस दास मधुपुर थाने के ओसी थे, तब उन्होंने नशे के खिलाफ जंग का एलान किया था. पिछले दिनों देखा गया था कि गांजा सीजन के दौरान मधुपुर थाना क्षेत्र के विभिन्न हिस्सों में लगभग लगातार गांजा विरोधी अभियान चलाया जाता था, जिससे मधुपुर थाना क्षेत्र के गांजा उत्पादकों में हड़कंप मच गया था. इसी तरह इंस्पेक्टर तापस दास ने विशालगढ़ थाने के ओसी की जिम्मेदारी के साथ नशे के खिलाफ लड़ाई जारी रखी है. जिस तरह वर्तमान सरकार ने राज्य को नशा मुक्त त्रिपुरा बनाने की योजना बनाई है, उसी तरह विशालगढ़ पुलिस स्टेशन ओसी तापस दास, कोमार बेडे सरकार के सपने को हकीकत में बदलने के लिए मैदान में उतर गए हैं।

पहले से ही विशालगढ़ के कुछ दवा विक्रेता विशालगढ़ थाने के ओसी तापस दास के नाम को आतंक का नाम मान रहे हैं क्योंकि विशालगढ़ के कुछ दवा विक्रेता तापस दास को एक बुरे सपने के रूप में उभरते हुए देख रहे हैं. ओसी तापस दास ने बताया कि उनके पास विशालगढ़ थाना क्षेत्र में कई और गांजा बागानों की गुप्त सूचना है और सही समय पर पुलिस सभी गांजा बागानों को नष्ट कर देगी. बहरहाल, शनिवार को चले इस एंटी गांजा ऑपरेशन में आम लोगों का पुलिस पर भरोसा बढ़ा है. क्योंकि वर्तमान में युवा समाज नशे की चपेट में आकर विनाश की ओर भाग रहा है।इस युवा समाज और स्वस्थ समाज के निर्माण के लिए पुलिस प्रशासन के साथ-साथ समाज के सभी प्रबुद्ध लोगों को आगे आना चाहिए।

Next Story