उत्तराखंड

पटियाला से फरार गैंगस्टर हरवीर सिंह गिरफ्तार

Kunti Dhruw
15 April 2022 3:42 PM GMT
पटियाला से फरार गैंगस्टर हरवीर सिंह गिरफ्तार
x
पटियाला से फरार चल रहे हत्यारोपी हरवीर सिंह निवासी गुण कलान को पुलिस ने देहरादून से गिरफ्तार किया।

पटियाला से फरार चल रहे हत्यारोपी हरवीर सिंह निवासी गुण कलान को पुलिस ने देहरादून से गिरफ्तार किया। हरवीन ने पांच अप्रैल को अपने छह साथियों के साथ मिलकर पटियाला में तरकेन्द्र सिंह बिंद्रा की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। जिस पर थाना अर्बन स्टेट, जनपद पटियाला, पंजाब में मुकदमा दर्ज किया गया था।

घटना के बाद से ही सभी अभियुक्त फरार चल रहे थे। इनकी तलाश के लिए एसटीएफ पंजाब द्वारा 14 अप्रैल की शाम को एसटीएफ देहरादून से संपर्क किया गया। एसटीएफ देहरादून द्वारा मामले में अपने मुखबिर तंत्र को सक्रिय किया गया । विगत तीन-चार दिन में बाहर से आने वाले व्यक्तियों की तलाश के लिए सभी होटलों एवं हॉस्टल के बारे में जानकारी ली गई। पता चला कि दो दिन पूर्व हीमांडूवाला, प्रेमनगर में एक लड़का बाहर से आकर रुका है । इस पर एसटीएफ देहरादून एवं एसटीएफ पंजाब द्वारा मांडूवाला में दबिश दी गई तो उपरोक्त घटना में शामिल मुख्य आरोपी हरविंदर पकड़ा गया। जिसने पूछने पर बताया कि उसकी जुगनू निवासी पटियाला से रंजिश चल रही थी ।
पांच अप्रैल को जुगनू ने अपने अन्य साथियों को बुला लिया तो अभियुक्त ने भी अपने छह-सात साथियों को बुला लिया था और ताबड़तोड़ फायरिंग की गई। इस घटना में तरकेन्द्र सिंह बिंद्रा को गोली लग गई और उसकी मौत हो गई।यह मुठभेड़ देर तक चलती रही।
मांडूवाला में रह रहा था आरोपी
घटना के बाद सभी आरोपी अलग-अलग निकल गए। इनमें से अभियुक्त हरवीर गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई देहरादून आया और मांडूवाला में आकर रुक गया। हरवीर को एसटीएफ पंजाब के सुपुर्द कर दिया गया है। बता दें कि जनवरी में पंजाब के पठानकोट बम ब्लास्ट के आतंकी साजिशकर्ता को शरण देने पर ऊधम सिंह नगर के चार आरोपियों को उत्तराखण्ड एसटीएफ ने गिरफ्तार किया था। साथ ही इस साल जनवरी में पाकिस्तान बॉर्डर से 40 किलोमीटर डोगरा फरीदकोट (पंजाब) में उत्तराखंड एसटीएफ के द्वारा अरबों के मनी लॉन्ड्रिंग मामले में रोहित कुमार को गिरफ्तार किया गया था। प्रभारी एसटीएफ ने बताया कि उत्तराखंड स्पेशल टास्क फोर्स संगठित अपराध पर लगातार नजर रखे हुए है | हम लगातार पड़ोसी और अन्य राज्य पुलिस के संपर्क में हैं। क्योंकि अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए हमारा संयुक्त अभियान जारी है। हमने उत्तराखंड में पंजाब पुलिस के साथ संयुक्त अभियान चलाया था।
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta