उत्तर प्रदेश

बिल्डिंग निर्माण को लेकर पड़ोसी ने की थी प्राधिकरण अधिकारियों से शिकायत, सचिव के आदेश पर भी नहीं रुका निर्माण कार्य

Admin Delhi 1
18 Oct 2022 11:00 AM GMT
बिल्डिंग निर्माण को लेकर पड़ोसी ने की थी प्राधिकरण अधिकारियों से शिकायत, सचिव के आदेश पर भी नहीं रुका निर्माण कार्य
x

मेरठ न्यूज़: बेगमपुल वीआईपी क्षेत्र और अति व्यस्त मार्केट भी हैं। यहां पर एक बिल्डिंग निर्माण को लेकर विवाद खड़ा हो गया है। विवाद भी ऐसा कि अब उसके पड़ोसी ने ही प्राधिकरण अधिकारियों से शिकायत कर दी, जिसके बाद प्राधिकरण सचिव तिवारी ने अवर अभियंता की टीम मौके पर जांच पड़ताल के लिए भेजी, लेकिन इसके बाद भी निर्माण नहीं रुका। इसको लेकर व्यापारियों ने फिर से प्राधिकरण सचिव के आॅफिस पर डेरा डाल दिया। आरोप है कि प्राधिकरण के अवर अभियंता की शह पर ही इस बिल्डिंग का निर्माण किया जा रहा है, जिसे रोका नहीं जा रहा है। दरअसल, दवाघर से बीस कदम पहले एक शोरूम का निर्माण चल रहा है। पहले यहां पर दुकान और एक मकान हुआ करता था, जिसे तोड़कर बिना मानचित्र स्वीकृत कराए ही निर्माण शुरू कर दिया। दुकानों और मकानों को तोड़ कर मानचित्र की स्वीकृति के लिए कोई अर्जी प्राधिकरण आॅफिस में नहीं दी गई।

बताया गया कि राजेंद्र जैन नामक व्यक्ति यह अवैध निर्माण करा रहे हैं, जिसको लेकर बखेड़ा खड़ा हो गया है। कई व्यापारियों का एक प्रतिनिधिमंडल भी सचिव से मिल चुका है तथा व्यापारियों ने अवैध निर्माण को बंद कराने की मांग की है। कहा है कि निर्माण से उनकी दुकानों को खतरा पैदा हो गया है। इस मामले में सचिव ने अवर अभियंता की एक टीम भी मौके पर भेजी थी तथा इसकी जानकारी मांगी गई थी। कहा गया है कि टीम अवैध निर्माण बंद कराने की बात कहकर मौके से चली आई, लेकिन अवैध निर्माण फिर भी नहीं रुका। अब इसको लेकर फिर से व्यापारी सचिव के पास पहुंचे तथा अवैध निर्माण को रुकवाने की मांग की। अब देखना यह है कि यह अवैध निर्माण रुकता है या फिर इसी तरह से चलता रहेगा। अवैध निर्माणकर्ता के खिलाफ एमडीए के इंजीनियर एफआईआर दर्ज कराते है या फिर सेटिंग का खेल चलता रहेगा। क्योंकि शिकायतकर्ता व्यापारियों ने आरोप लगाया है कि इंजीनियर ही इस निर्माण को करा रहे हैं।

Next Story
© All Rights Reserved @ 2023 Janta Se Rishta