उत्तर प्रदेश

यूपी के पूर्वांचल एक्‍सप्रेस-वे पर गरजेंगे भारतीय सेना के लड़ाकू विमान, 16 नवंबर को पीएम मोदी करेंगे उद्घाटन

Kunti Dhruw
12 Nov 2021 4:18 PM GMT
यूपी के पूर्वांचल एक्‍सप्रेस-वे पर गरजेंगे भारतीय सेना के लड़ाकू विमान, 16 नवंबर को पीएम मोदी करेंगे उद्घाटन
x
भारत अपने दोनों पड़ोसी चीन और पाकिस्तान के साथ भविष्य की टू् फ्रंट वार की संभावनाओं के चलते अपनी तैयारियों पर बड़ी तेजी से काम कर रहा है.

भारत अपने दोनों पड़ोसी चीन और पाकिस्तान के साथ भविष्य की टू् फ्रंट वार की संभावनाओं के चलते अपनी तैयारियों पर बड़ी तेजी से काम कर रहा है. सरकार नए फाइटर, हथियार, एयरबेस, हेलीपैड और अन्य आधुनिक हथियारों और साजों-सामान से भारतीय सेना को मजबूत करने में जुटी है. उसी तर्ज पर भारतीय वायुसेना के विमानों की इमरजेंसी लैंडिंग के लिए स्टेट और नेशनल हाइवे पर एयर स्ट्रिप भी तैयार किया जा रहा है.

ऐसे ही एक एक्सप्रेस हाईवे और उस पर बने इमरजेंसी एयर स्ट्रिप का उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 16 नवंबर को करने वाले है. सूत्रों के मुताबिक 16 नवंबर को उत्तर प्रदेश के सुल्तानपुर के पास पूर्वांचल एक्सप्रेस वे पर पीएम नरेन्द्र मोदी C-130 j सुपर हरक्यूलिस से लैंड करेंगे और एक्सप्रेस हाइवे का उद्घाटन करेंगे.
हैरतअंगेज फ्लांइग स्किल पेश करेंगे भारतीय वायुसेना के विमान
खास बात तो ये है कि इस मौके पर भारतीय वायुसेना के विमान हैरतअंगेज फ्लांइग स्किल पेश करेंगे. सूत्रों के मुताबिक पीएम के लैंड करने के बाद एक मिराज 2000 उस हाईवे के लैंडिंग स्ट्रिप पर लैंड करेगा. एक C-130 j विमान के जरिए भारतीय वायुसेना के गरुड़ कमांडो और स्पेशल फ़ोर्स से कमाडों ग्रुप इंसर्शन ड्रिल को अंजाम देंगे. उसी दौरान हवा में लो लेवल फ़्लाई करते हुए सुखोई, जैगुआर और मिराज अपना फ्लांइग स्किल दिखाएंगे. सूर्य किरण एयरोबैटिक टीम के 3 विमान ट्राई कलर प्रेजेंटेशन के साथ दो सुखोई विमान आसमान में उड़ान भरते नजर आएंगे. कार्यक्रम की समाप्ति के बाद पीएम उस एक्सप्रेस वे से C-130 से रवाना हो जाएंगे.
उत्तर प्रदेश में ये तीसरा मौका होगा जब भारतीय वायुसेना के विमान हाइवे पर इमरजेंसी लैंडिंग और टचडाउन की ड्रिल को अंजाम देंगे. इससे पहले 2016 में दिल्ली आगरा और 2017 लखनऊ आगरा एक्सप्रेस हाइवे पर उन्नाव में ड्रिल को अंजाम दिया गया था. इसी की तरह नेशनल हाईवे पर इमरजेंसी लैंडिंग स्ट्रिप भी केंद्रीय सड़क एवं परिवहन मंत्रालय भी जुटा हुआ है. सितंबर महीने में ही राजस्थान में भारत पाकिस्तान सीमा के पास नेशनल हाईवे पर पहला इमरजेंसी एयर स्ट्रिप का उद्घाटन किया गया था.
देश भर के नेशनल हाईवे पर अलग-अलग राज्यों में 19 और इमरजेंसी लैंडिंग स्ट्रिप तैयार किए जाने हैं. जिनमें राजस्थान में 3, पश्चिम बंगाल में 3, तमिलनाडु में 1, आंध्र प्रदेश में 2, गुजरात में 2, हरियाणा में 1, पंजाब में 1, जम्मू कश्मीर में 1 और असम में 5 इमरजेंसी लैंडिंग शामिल है.
दरअसल, इन हाईवे पर इमरजेंसी लैंडिंग स्ट्रिप की ज़रूरत इसलिए भी होती है क्योंकि जंग की सूरत में दुश्मन का सबसे पहले निशान एयर बेस ही होते हैं और इसके चलते अन्य विकल्प भी तैयार किए जाते है. वहीं अगर कभी जंग के दौरान दुशमन के विमानों के साथ एयर इंगेजमेट के बाद एयरक्रफ्ट में फ़्यूल कम होने के चलते वो एयर बेस तक नहीं पहुंच सकें तो ऐसे ही लैंडिंग स्ट्रिप पर आसानी से फाइटर लैंड कर सकते हैं. तीसरा कभी किसी भी आपदा के दौरान राहत बचाव के काम के लिए ऐसे रनवे का इस्‍तेमाल किया जा सकता है.
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta