उत्तर प्रदेश

एटा : राजनीति का केंद्र बना जीजीआईसी, आपसी मतभेदों से छात्राओं का भविष्य दांव पर

Bhumika Sahu
2 Aug 2022 11:45 AM GMT
एटा : राजनीति का केंद्र बना जीजीआईसी, आपसी मतभेदों से छात्राओं का भविष्य दांव पर
x
जिला प्रशासन से प्रकरण तो तत्काल सुलझाने की मांग उठाई है जिससे कि छात्राओं को दिए जाने बाली शिक्षा पर कोई प्रभाव ना पड़े.

एटा/जलेसर. जनपद में स्थित राजकीय बालिका इंटर कॉलेज में वर्तमान में शिक्षाध्ययन के लिए 1,000 से अधिक छात्राएं हैं. वहीं इन छात्राओं को शिक्षा दिए जाने के लिए मात्र 7 शिक्षिकाएं एवं शिक्षणेत्तर कर्मचारियों में एक लिपिक, एक चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी कर्मचारी की तैनाती हैं. वही इन 7 शिक्षिकाओं में से तीन शिक्षकाएं व्यवसायिक वर्ग के लिए संविदा पर तैनात हैं, जो इन एक हजार छात्राओं को शिक्षा दिए जाने के लिए कम संख्या में हैं. इसके बाद भी अभिभावकों द्वारा अपनी पुत्रियों को इस विद्यालय में इस उद्देश्य से प्रवेश दिलाया गया था कि राजकीय कालेज होने के चलते इस कालेज पर प्रशासनिक अधिकारियों का विशेष ध्यान रहेगा, लेकिन इस विषय बदलने को लेकर एक मामूली प्रकरण इतना बड़ बन जाऐगा कि उनकी पुत्रियों का भविष्य भी दाव पर लग जाएगा. अभिभावकों ने जिला प्रशासन से प्रकरण तो तत्काल सुलझाने की मांग उठाई है जिससे कि छात्राओं को दिए जाने बाली शिक्षा पर कोई प्रभाव ना पड़े.

शिक्षिकाओं के आरोप प्रत्यारोप में दोंनो पक्षों की हुई एफआईआर दर्ज
छात्राओं को विषय बदलने का प्रकरण एवं एक शिक्षिका द्वारा दूसरी पर आरोप प्रत्यारोप में बेहोश होने पर एंबुलेंस द्वारा स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती होने के बाद मचे बवाल पर पुलिस प्रशासन एवं जिला विद्यालय निरीक्षक, तहसीलदार के समक्ष प्रकरण संज्ञान में आने पर कोतवाली पुलिस ने दोनों पक्षों की प्राथमिकी दर्ज की है.
व्यवसायिक शिक्षिका का आरोप
राजकुमारी दिनकर उन्हें यह विषय नहीं लेने दे रहीं हैं. इसी को लेकर राजकुमारी दिनकर मेरे साथ मारपीट करनी चाही जब मैं स्टाफ रूम से भागी तो उन्होंने मुझे धक्का मार दिया जिससे मेरा सिर खंभे से टकरा गया और मैं बेहोश हो गई. जिससे मुझे चोटें भी लगी हैं.
प्रधानाचार्या ने भी शिक्षिका पर लगाए गंभीर आरोप
प्राचार्या अनीता यादव ने तहरीर में कहा है कि कक्षा 6 से 12 तक प्रवेश प्रक्रिया विधिवत जारी है 28 जुलाई को समय 12 बजे के लगभग तुर्रम सिंह राजपूत नामक व्यक्ति ने विद्यालय में अनाधिकृत प्रवेश किया जिसने अपना पूरा मुंह ढक रखा था तुर्रम सिंह राजपूत ने दो छात्राओं कुमारी वर्षा कुमारी अनामिका कक्षा 11 का अभिभावक बताया और कहा कि मैं छात्राओं का विषय परिवर्तन कराना चाहता हूं, मैंने छात्राओं का प्रार्थना पत्र कक्षा अध्यापिका को अग्रसारित करने का आश्वासन दे दिया इस बात पर तुर्रम सिंह राजपूत भड़क गए. तत्काल ही विषय बदलबाने को कहा. इस पर मैंने कहा कि टीचर अभी कक्षा में पढ़ा रही हैं, आप जाइए और अपना फोन नंबर दे दीजिए. सूचना पहुंचा दूंगी. इस पर राम सिंह राजपूत ने छात्राओं का वीडियो बनाकर वायरल किया गया है. 29 जुलाई को खाद्य एवं फल संरक्षण व्यवस्थित शिक्षा की शिक्षिका नीलम चक्रवर्ती विद्यालय में 8 बजे के करीब प्रवेश करते प्रार्थना सभा के पश्चात नीलम चक्रवर्ती एवं राजकुमारी की सामान्य वार्ता हुई एवं सभी शिक्षिकाएं अपनी.अपनी कक्षाओं में चली गई नीलम चक्रवर्ती ने इंटरमीडिएट के प्रथम बादन में ही रोना धोना शुरू कर दिया सिरदर्द बताया तो कार्यालय लिपिक ने उनके घर पर फोन किया उनके पति ने उनको ले जाने से मना कर दिया और कहा कि उनको अस्पताल भिजवा दीजिए नीलम चक्रवर्ती ने एंबुलेंस बुलाकर स्वयं ही अस्पताल जाकर भर्ती हो गई. विद्यालय में मारपीट तो दूर की बात किसी भी तरह की कोई घटना घटित नहीं हुई है विद्यालय में लगे सीसीटीवी फुटेज से सत्यापन किया जा सकता है.
प्रधानाचार्या ने डीआईओएस को लिखा पत्र
प्रधानाचार्य अनीता यादव ने जिला विद्यालय निरीक्षक को पत्र लिखकर उसमें वाद विवाद ना होने संबंधी जानकारी के साथ.साथ विषय बदलने के लिए शिकायत प्राप्त होने संबंधी जानकारी दी गई है.
क्या हुई कालेज प्रकरण में कार्रवाई
दोनों प्रकरण में कोतवाली पुलिस के द्वारा मामले की प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है एवं सीसीटीवी फुटेज के साथ.साथ अन्य शिक्षिकाओं के बयान भी दर्ज हो चुके हैं. जांच कमेटी के निर्णयानुसार ही कार्रवाई की जाऐगी.
प्रधानाचार्या ने शिक्षिका को जारी किया कारण बताओ नोटिस
राजकीय बालिका इंटर कॉलेज की प्रधानाचार्य अनीता यादव ने शिक्षिका को बिना किसी अनुमति के विद्यालय परिसर में पुरूष पत्रकार को नियम बिरूद्ध पत्रकार बुलाये जाने का आरोप लगाकर कारण बताओ नोटिस जारी किया है।
डीआईओएस एवं तहसीलदार ने की संयुक्त जांच
विषय बदलने संबंधी मामले को लेकर राजकीय बालिका इंटर कॉलेज में चल रहे विवाद को लेकर डीएम के निर्देश पर डीआईओएसए तहसीलदार कोतवाली के वरिष्ठ उप निरीक्षक सुरेंद्र बाबू तोहरे ने वीडियो फोटो एवं शिक्षिकाओं के बयान के साथ.साथ छात्राओं के बयान भी कलम बंद किए हैं। शीघ्र ही मामले का खुलासा कर दिया जाएगा.


Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta