उत्तर प्रदेश

मेरठ में ढेलेदार ने बरपाया कहर... 400 गायें संक्रमित, 1 की मौत, प्रशासन ने शुरू किया टीकाकरण

Bhumika Sahu
30 Aug 2022 8:09 AM GMT
मेरठ में ढेलेदार ने बरपाया कहर... 400 गायें संक्रमित, 1 की मौत, प्रशासन ने शुरू किया टीकाकरण
x
प्रशासन ने शुरू किया टीकाकरण

मेरठ. जिले में लंपी वायरस कहर ढाने लगा है. 400 गाय वायरल से संक्रमित हो गईं हैं. एक की मौत हो गई है. मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर अखिलेश गर्ग के अनुसार, संक्रमित गायों को अलग रखने की व्यवस्था की गई है. गायों को क्वारंटाइन किया गया है. डेडीकेटेज आईसोलेशन वार्ड तैयार फॉगिंग और सैनेटाइज़ेशन के भी निर्देश दिए गए हैं. निकाय और पंचायत घरों को लेटर जारी किया गया है.

जानकारी के अनुसार मेरठ में 24 गौशाला संचालित हैं इनमें 6 हजार गायें रहती हैँ. ऐसे में लंपी वायरस कहर से पशु चिकित्सा विभाग में हड़कंप मचा गया है. मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी का कहना है कि जल्द कंट्रोल रुम स्थापित कर हेल्पलाइऩ नंबर जारी किया जाएगा. उनका कहना है कि लंपी की वैक्सीन IVRI तैयार कर रही है. जल्द सभी गायों का वैक्सीनेशन किया जाएगा.
जांच के लिए भेजे गए संक्रमित गायों के सैंपल
मेरठ जिले के कई इलाकों में लंपी वायरस के कई सामने आ रहे हैं. लंपी को लेकर पशु पालकों में भी हड़कंप है. मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर अखिलेश गर्ग की मानें तो संक्रमित मवेशियों के सैंपल जांच के लिए भेज दिए गए हैं. बढ़ती बीमारी को लेकर शासन ने जांच टीम मेरठ भेजी है.
लंपी वायरस को जानें
लंपी वायरस पशुओं को प्रभावित करता है. यह वायरल डिसीज है. आमतौर पर यह खून चूसने वाले कीड़ों, मच्छर की कुछ प्रजातियों और पशुओं के कीड़े के काटने से फैलती है. यह बीमारी संक्रमित पशु से दूसरे पशुओं में तेजी से फैलती है. लंपी की चपेट में आने वाले पशुओं की चपेट में आने से पशुओं को बुखार आता है और उनकी स्किन पर जगह-जगह निशान बन जाते हैं . बाद में ये घाव के रूप में बदल जाते हैं.


Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta