उत्तर प्रदेश

कोरोना का कॉल सेंटर बना सरकारी दफ्तर, वैक्सीनशन की रफ्तार बढ़ाने के लिए रोजाना 20 हजार कॉल कर रहे कर्मचारी

Renuka Sahu
21 Jan 2022 1:47 AM GMT
कोरोना का कॉल सेंटर बना सरकारी दफ्तर, वैक्सीनशन की रफ्तार बढ़ाने के लिए रोजाना 20 हजार कॉल कर रहे कर्मचारी
x

फाइल फोटो 

कन्नौज के गांवों में विकास के लिए खाका बनाने वाले विकास भवन में इन दिनों अलग ही नजारा है।

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। कन्नौज के गांवों में विकास के लिए खाका बनाने वाले विकास भवन में इन दिनों अलग ही नजारा है। यहां के मीटिंग हॉल, अलग-अलग महकमों के दफ्तर, पार्क, पार्किंग, गलियारा, छत सभी जगह पर प्रशासन से जुड़े लोग हाथ में लिस्ट और कान में फोन लगाए बात करते दिख रहे हैं। न सिर्फ विकास भवन के अलग-अलग महकमे के अफसर और उनके मातहत के अलावा दूसरे महकमों से जुड़े लोग भी ऐसे एक-दो नहीं 100 से ज्यादा लोग हैं।

दरअसल कोरोना टीकाकरण का एक साल पूरा हो चुका है। इस दौरान अब तक न तो पहला टीका लगवाने का लक्ष्य हासिल हो सका है, न ही दूसरा टीका लगवाने का अभियान ही रफ्तार पकड़ सका है। अब चुनाव भी होने को है। सरकार की ओर से भी जोर दिया जा रहा है। ऐसे में टीकाकरण की रफ्तार बढ़वाने के लिए प्रशासन ने पूरी टीम उतार रखी है। वजह साफ है अब तक न तो पहली खुराक का ही लक्ष्य पूरा हो सका है, न ही दूसरी खुराक लेने वालों की रफ्तार संतोषजनक है। इस पर राजधानी से बार-बार टोकाटाकी हो रही है।
ऐसे में शासन की ओर से बढ़ रहे दबाव के तहत लक्ष्य पूरा करने के लिए प्रशासन का अमला जुटा हुआ है। अलग-अलग कई विभागों के कई कर्मचारियों को इस काम में लगाया गया है। विकास भवन में हॉल से लेकर वहां के पार्क, पार्किंग एरिया, गेट, गलियारा, बाइक, कार सभी जगह पर कर्मचारी अपनी लिस्ट के हिसाब से फोन करके अपडेट ले रहे हैं।
हॉल में कम पड़ी जगह, पार्क में बैठने की मजबूरी
विकास भवन के मीटिंग हॉल में मौजूद कुर्सियां कम पड़ गई हैं। ऐसे में कर्मचारियों की टीम खुद ही अलग-अलग जगहों पर बैठकर अपनी जिम्मेदारी निभा रही है। विकास भवन के बाहर स्थित मनरेगा पार्क में अलग-अलग बेंच पर बैठकर लोगों को कॉल लगाया जा रहा है। कई लोग अलग-अलग दफ्तर में बैठे दिखे।
कार और बाइक पर बैठकर मिला रहे फोन
जगह नहीं मिलने पर कई लोग कार के बोनट पर लिस्ट रखकर कॉल करते दिखे तो कोई अपनी बाइक पर बैठकर या फिर सीढ़ियों पर बैठकर ही कॉल लगाता दिखा। कई लोग ऐसे हैं जो कड़ाके की सर्दी से बचने के लिए अपनी-अपनी कार में बैठकर ही फोन कर रहे हैं।
कन्नौज में वैक्सीनेशन रिपोर्ट
-18 लाख से ज्यादा है कन्नौज जिले की आबादी
-12 लाख 38 हजार 226 को टीका लगाने का है लक्ष्य
-18 वर्ष से ऊपर की उम्र के हैं इस लक्ष्य में
-12 लाख 93 हजार लोगों को लग चुका है पहला टीका (किशोर भी शामिल)
इस तरह लगा है टीका
-15 से 17 वर्ष: 54068
-18 से 44 वर्ष: 1313272
-45 से 60 वर्ष: 435023
-60 वर्ष से ऊपर: 240335
अब तक इस तरह लग चुका है टीका
-2042698 टीका लग चुका है अब तक (पहला और दूसरा टीका शामिल)
-1116772 पुरुषों को लग चुका है टीका(इसमें दूसरा टीका वाले भी शामिल)
-921833 महिलाओं को लग चुका है टीका (इसमें दूसरा टीका लगाने वाले भी शामिल)
-3588 लोगों को लग चुका है बूस्टर डोज
इस तरह लगा पहला और दूसरा टीका
-98 प्रतिशत लोगों को लगा है पहला टीका
-55 प्रतिशत लोगों को लगा है दूसरा टीका
Next Story
© All Rights Reserved @ 2023 Janta Se Rishta