उत्तर प्रदेश

नशे के सौदागारों को लेकर सीएम योगी ने अपनाया सख्त रुख, बोले- ड्रग माफियाओं पर छापेमारी शुरू करें डीएम-एसपी

Renuka Sahu
28 Aug 2022 2:06 AM GMT
CM Yogi adopted a tough stand regarding drug dealers, said DM-SP start raids on drug mafia
x

फाइल फोटो 

नशे के सौदागारों को लेकर सीएम योगी ने सख्त रुख अपनाया है। शनिवार को अफसरों संग हुई बैठक में सीएम योगी ने इनके खिलाफ सीधे कार्रवाई का आदेश दिया है।

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। नशे के सौदागारों को लेकर सीएम योगी ने सख्त रुख अपनाया है। शनिवार को अफसरों संग हुई बैठक में सीएम योगी ने इनके खिलाफ सीधे कार्रवाई का आदेश दिया है। यूपी के ड्रग माफिया के खिलाफ बड़े अभियान का आह्वान करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि डीएम व एसपी ड्रग माफिया के यहां छापेमारी का काम शुरू कर दें। इस मामले में लापरवाही बरतने पर जवाबदेही तय होगी। हर थाना क्षेत्र में अवैध कारोबारी चिन्हित किए जाएं।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को प्रशासनिक अधिकारियों, पुलिस के बड़े अधिकारियों, डीएम, एसपी तथा विकास प्रधिकरणों के उपाध्यक्षों के साथ बैठक में यह निर्देश दिए। वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए बैठक में कानून व्यवस्था, यातायात प्रबंधन और औद्योगिक निवेश के अलावा नशे के अवैध कारोबारियों के खिलाफ सघन अभियान चलाने पर चर्चा हुई।
सीएम ने कहा कि जहरीली शराब से असमय मृत्यु की कई दुःखद घटनाओं की पुनरावृत्ति नहीं होनी चाहिए। इसके लिए हर जिलाधिकारी, पुलिस कप्तान, डीएसपी, थानाध्यक्ष को अपनी जिम्मेदारी समझनी होगी। हुक्का बार का संचालन किसी भी दशा में नहीं होना चाहिए। बेहतर टीम वर्क के साथ ड्रग माफियाओं के खिलाफ यह प्रदेशव्यापी अतिमहत्वपूर्ण अभियान शनिवार रात से ही बड़े आंदोलन के रूप में आगे बढ़ाया जाए।
ऐसे समाजविरोधी तत्वों की सूक्ष्मता से पड़ताल करें। थाना स्तर पर ऐसे हर छोटे-बड़े अराजक तत्वों की सूची तैयार की जाए। इनके अड्डों पर औचक छापेमारी की जाए। प्रदेश को ड्रग माफिया से मुक्त कराने की कार्यवाही हो। गड़बड़ी की सूचना मिलने पर थानाध्यक्ष की प्राथमिक जवाबदेही होगी। इस अभियान में लापरवाही स्वीकार नहीं होगी।
युवाओं को नशे से दूर रखना होगा
युवाओं को नशे की लत से दूर रखने पर जोर देते हुए सीएम ने कहा कि नशे की चपेट में आ चुके युवाओं के चिकित्सकीय उपचार, काउंसिलिंग और पुनर्वास के लिए ठोस कार्ययोजना बनानी होगी।
अधिकारी को कोई दिक्क्त हो तो बिना संकोच मुझसे संपर्क करें
सीएम ने कहा कि फील्ड में तैनात किसी अधिकारी को यदि जनहित के कार्यों में कोई असुविधा हो रही हो, शासन स्तर से अपेक्षित सहयोग न मिल रहा हो, तो बेहिचक मुख्यमंत्री कार्यालय को सूचित करें। मैं स्वयं सातों दिन चौबीस घंटे आपकी समस्याओं को सुनने और समाधान करने के लिए उपलब्ध हूँ। बिना संकोच मुझसे संपर्क करें।
डीएम खुद हेल्थ एटीएम के लिए प्रयास करें
सीएम ने कहा कि जिलाधिकारी स्वयं पहल करते हुए किसी एक पीएचसी या सीएचसी पर हेल्थ एटीएम की स्थापना करायें। नजदीक के किसी अस्पताल से इसे सम्बद्ध करें। प्रशिक्षित पैरामेडिक्स की तैनाती करें। यदि धनाभाव है तो मुझसे बताएं मैं वित्तीय प्रबंधन करूँगा।
यूपी में दस लाख करोड़ के निवेश का लक्ष्य
मुख्यमंत्री ने कहा कि अगले वर्ष जनवरी में 'उत्तर प्रदेश ग्लोबल इन्वेस्टर समिट' का आयोजन प्रस्‍तावित है। इस बार हमारा लक्ष्य ₹10 लाख करोड़ के निवेश का है।
◆ ईज ऑफ डूइंग बिजनेस में उत्तर प्रदेश के प्रयासों की हर ओर सराहना हो रही है। किंतु हमें अब भी बहुत सुधार की आवश्यकता है। राजस्व संहिता में जरूरी बदलाव के लिए तत्काल निर्णय लेकर कार्यवाही की जाए। सीएम ने कहा कि इन्वेस्ट यूपी और विकास प्राधिकरणों को अपनी कार्यशैली को और बेहतर बनाना होगा। प्राधिकरण अपनी भावी कार्ययोजना तैयार कर ले। जल्द ही सभी विकास प्रधिकारणों की समीक्षा की जाएगी। अवैध टैक्सी स्टैंड, बस स्टैंड/रिक्शा स्टैंड तत्काल बंद कराया जाए।
बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में नोडल अधिकारी बनाएं जाएं
मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रयागराज, वाराणसी, बलिया इटावा, औरैया, कानपुर देहात, हमीरपुर, मिर्जापुर, बलिया आदि जिलों की स्थिति पर लगातार नजर रखी जाए। बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों के लिए नोडल अधिकारी नियुक्त किए जाएं। मंडलीय भ्रमण के लिए जा रहे मंत्री समूह को बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों की जानकारी दी जाए। मंत्रीगण इन क्षेत्रों में भी भ्रमण करेंगे।
लंपी वायरस के प्रसार को रोकना होगा
सीएम ने कहा कि गोवंश पर लंपी वायरस के प्रसार को रोकने के लिए हमें मिशन मोड में काम करना होगा।■ लंपी वायरस से सुरक्षा के लिए तत्काल पशु टीकाकरण का विशेष अभियान चलाया जाए। 17.50 लाख वैक्सीन उपलब्ध करा दी गई है। सभी गोवंश का टीकाकरण समय से हो जाए। पश्चिमी उत्तर प्रदेश में विशेष ध्यान दें। सभी निराश्रित गो-आश्रय स्थलों में 100% गोवंश टीकाकरण कराएं।
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta