Top
उत्तर प्रदेश

मुख्यमंत्री योगी का बड़ा कदम, अब किसी भी जिले का कार से अचानक करेंगे दौरा, अधिकारियों के फूले हाथ-पाव

Admin1
15 Dec 2020 5:16 AM GMT
मुख्यमंत्री योगी का बड़ा कदम, अब किसी भी जिले का कार से अचानक करेंगे दौरा, अधिकारियों के फूले हाथ-पाव
x

फाइल फोटो 

लखनऊ:- आईपैड से न केवल सरकारी योजनाओं का फीडबैक लेने और फाइलों के मूवमेंट की जांच करने वाले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अब नए तेवर में नजर आएंगे। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अब जनता का मिजाज और शहर की साफ-सफाई और अन्य सरकारी व्यवस्थाओं का हाल जानने के लिए अचानक ही किसी भी शहर में कार से पहुंच सकते हैं।

बीते शनिवार को मुख्यमंत्री ने अपनी सुरक्षा की परवाह किए बिना मुरादाबाद से गाजियाबाद तक कार से जाकर यह संकेत भी दे दिया है। हुआ यह कि मुरादाबाद से गाजियाबाद जाते हुए मुख्यमंत्री को कई जगहों पर गंदगी दिखी। तो उन्हें कई शहरों में कार्यरत अफसरों के लापरवाह मिजाज का पता भी चला। जिसके चलते सोमवार को मुख्यमंत्री ने लखनऊ में साफ-सफाई का कार्य देखने वाले उच्चाधिकारियों को तलब कर सूबे के कई शहरों की साफ-सफाई की व्यवस्था को चुस्त-दुरुस्त करने का निर्देश दिया।
मुरादाबाद से गाजियाबाद गए थे कार से
अब यह चर्चा है कि सूबे की चिकित्सा, शिक्षा और साफ-सफाई की हकीकत जानने के लिए मुख्यमंत्री राज्य के किसी भी जिले में अचानक कार से पहुंच सकते हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बीते शनिवार को मुरादाबाद गए थे। वहां से उन्हें गाजियाबाद में कैलास मानसरोवर यात्रा भवन का लोकार्पण करने जाना था। कैलास मानसरोवर भवन मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का ड्रीम प्रोजेक्ट है।
खराब मौसम के चलते उड़ान नहीं भर सका हेलिकॉप्टर
मुरादाबाद में कई कार्यक्रमों में शामिल होने के बाद जब मुख्यमंत्री गाजियाबाद के लिए चले तो पायलट ने कहा कि मौसम खराब होने के चलते हेलीकॉप्टर नहीं उड़ सकता। इस पर जेड प्लस सुरक्षा के घेरे में रहने वाले मुख्यमंत्री की सुरक्षा को लेकर सुरक्षाधिकारियों ने कैलास मानसरोवर भवन के लोकार्पण कार्यक्रम को स्थगित करने की सलाह दी। बताते हैं कि इस सुझाव को मुख्यमंत्री ने ठुकरा दिया और कहा कि मैं गाजियाबाद जाऊंगा और लोकार्पण करूंगा। इसके बाद मुख्यमंत्री सड़क मार्ग से गाजियाबाद पहुंचे।
कार से गाजियाबाद जाते वक्त दिखी जमीनी हकीकत
कार से गाजियाबाद जाते हुए मुख्यमंत्री को मेरठ शहर की सड़क किनारे साफ-सफाई की व्यवस्था ठीक नहीं दिखी। कई जगहों पर उन्हें सड़क किनारे कूड़े के ढेर दिखाई दिए। दूसरी तरफ मुरादाबाद से गाजियाबाद जाते हुए सड़क के किनारे खड़े लोगों ने मुख्यमंत्री के शहर आगमन पर हाथ हिलाकर उनका स्वागत भी किया। ऐसा माना जा रहा है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के प्रति जनता के उत्साही मिजाज को देखते हुए अन्य शहरों में भी कार से जाने का फैसला लिया जा रहा है।
सीएम योगी के अचानक पहुंचने का रहेगा 'खौफ'
कहा जा रहा है कि मुख्यमंत्री के ऐसे दौरों से अधिकारी लापरवाही बरतने की हिम्मत नहीं करेंगे और शहरों की साफ-सफाई से लेकर चिकित्सा व्यवस्था में सुधार होगा। ऐसा नहीं है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पहली बार किसी शहर में कार से अचानक पहुंचे हैं। इसके पहले भी वह कई जिलों में अस्पताल और मंडी स्थलों में धान और गेंहू खरीद की हकीकत जानने पहुंच चुके हैं।
कार से पहले भी जाते रहे हैं सीएम योगी
लॉकडाउन के दौरान जब बड़े-बड़े नेता घरों से बाहर नहीं निकल रहे थे, उस दौरान मुख्यमंत्री नोएडा और गाजियाबाद पहुंचे थे। तब उन्होंने अन्य राज्यों से आ रहे श्रमिकों को लेकर लापरवाही बरतने के प्रकरण में नोएडा के जिलाधिकारी को हटाने का आदेश दिया था। पूर्वांचल में दौरे के दौरान मुख्यमंत्री कार से बस्ती गए थे। बीते साढ़े तीन सालों में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सूबे के हर जिले का कम से कम दो बार दौरा कर चुके हैं। अब वह सीधे जनता से संवाद करने और जनता का मिजाज जानने और सरकारी कामकाज की हकीकत जानने के लिए अचानक किसी शहर में कार से निरीक्षण करने पहुंचेंगे। ऐसी चर्चा होने लगी है।
Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it