उत्तर प्रदेश

एक और अवसर! 17 मई से होगी शेष रह गए 12वीं के एक लाख छात्रों का प्रैक्टिकल परीक्षा

Renuka Sahu
14 May 2022 5:55 AM GMT
another chance! Practical examination of one lakh students of 12th remaining will be held from May 17
x

फाइल फोटो 

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद ने प्रैक्टिकल न देने वाले करीब 1.05 छात्रों को एक और मौका देने का फैसला किया है।

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद ने प्रैक्टिकल न देने वाले करीब 1.05 छात्रों को एक और मौका देने का फैसला किया है। 12वीं की प्रैक्टिकल परीक्षा का आयोजन शेष छात्रों के लिए 17 मई से आयोजित किया जाएगा।

अब ऐसे सभी छात्र जो किसी कारणवश प्रैक्टिकल में भाग नहीं ले पाए वे 17 से 20 मई 2022 तक अपने स्कूल कॉलेज के माध्यम से प्रैक्टिकल परीक्षा में भाग ले सकते हैं।

उत्तर प्रदेश बोर्ड, उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद, प्रैक्टिकल परीक्षा, उत्तर प्रदेश बोर्ड 12वीं परीक्षा, उत्तर प्रदेश लेटेस्ट न्यूज़, उत्तर प्रदेश न्यूज़, जनता से रिश्ता हिंदी न्यूज़, हिंदी न्यूज़, jantaserishta hindi news, Uttar Pradesh Board, Uttar Pradesh Board of Secondary Education, Practical Examination, Uttar Pradesh Board 12th Exam, Uttar Pradesh Latest News, Uttar Pradesh News,

के सचिव दिव्यकांत शुक्ल ने इस संबंध में जानकारी दी है। उन्होंने बताया कि जो अभ्यर्थी प्रैक्टिकल परीक्षाओं में भाग लेना चाहते हों वे अपने स्कूल प्रिंसिपल से तत्काल संपर्क करें। जिससे कि निर्धारित तिथि में उनका प्रैक्टिकल हो सके।
इसके बाद ऐसे छात्रों को आगे प्रैक्टिकल में शामिल होने का मौका नहीं दिया जाएगा। जिन छात्रों ने अपनी प्रैक्टिकल परीक्षा छोड़ दी थी वे अब 17 मार्च से दे सकते हैं।
प्रैक्टिकल परीक्षाओं से जुड़ी सभी सूचनाएं और एग्जामिनर्स की नियुक्ति आदि की जानकारी संबंधित स्कूल के पोर्टल पर अपलोड की जा चुकी हैं। इसके साथ ही यूपी बोर्ड डीआईओएस के पोर्टल पर अलग से भी इस संबंध में सूचना अपलोड की जा चुकी है। इसके अलावा यूपी बोर्ड के क्षेत्रीय कार्यालयों मेरठ, वाराणसी, बरेली, प्रयागराज और गोरखपुर के पोर्टलों पर भी सूचना प्रकाशित की जा चुकी है।
आपको बता दें कि यूपी बोर्ड 12वीं की प्रैक्टिकल परीक्षाएं राज्यभर में करीब 7200 परीक्षा केद्रों में 20 अप्रैल से 27 अप्रैल 2022 तक और 27- 28 अप्रैल से 2 मई तक आयोजित किए गए थे।
पहली बार यूपी बोर्ड की प्रैक्टिकल परीक्षाएं छात्रों के स्कूल से बाहर आयोजित की गई थीं। करीब 20 लाख छात्रों ने पहली बार अपने स्कूल से बाहर किसी परीक्षा केंद्र में हुई प्रैक्टिकल परीक्षाओं में भाग लिया था। इस साल प्रैक्टिकल परीक्षाओं के लिए 10 हजार शिक्षकों की ड्यूटी लगाई गई थी।
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta