उत्तर प्रदेश

अखिलेश यादव के करीबी रिश्तेदार 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजे गए, छोटे भाई जुगेंद्र सिंह यादव की हो रही तलाश

Tulsi Rao
10 Jun 2022 4:02 PM GMT
अखिलेश यादव के करीबी रिश्तेदार 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजे गए, छोटे भाई जुगेंद्र सिंह यादव की हो रही तलाश
x
पढ़े पूरी खबर

लखनऊ: सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव के करीबी रिश्तेदार और सपा से तीन बार विधायक रहे रामेश्वर सिंह यादव को पुलिस ने शुक्रवार को कोर्ट में पेश किया. कोर्ट ने उन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है. वहीं पुलिस अभी रामेश्वर सिंह के छोटे भाई जुगेंद्र सिंह यादव पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष की तलाश कर रही है. एटा, अलीगंज और जैथरा थाने में पूर्व सपा विधायक पर गैंगस्टर सहित 77 मुकद्दमे दर्ज हैं.

पूर्व एमएलए को आगरा से किया था अरेस्ट
लंबे समय से फरार चल रहे पूर्व विधायक रामेश्वर सिंह यादव को आगरा और एटा पुलिस ने संयुक्त कार्रवाई करते हुए गुरुवार रात आगरा से गिरफ्तार किया था. बताया जा रहा है कि रामेश्वर सिंह आगरा से दिल्ली भागने की कोशिश कर रहे थे लेकिन जिला छोड़ने से पहले ही उन्हें पकड़ लिया गया. पुलिस गिरफ्तार करने के लिए रामेश्वर सिंह को एटा ले आई थी. इसके बाद पूछताछ कर शुक्रवार को उन्हें कोर्ट में पेश किया.
भूमाफिया, गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई
योगी सरकार के सत्ता में वापसी के बाद जिला प्रशासन ने पूर्व सपा विधायक रामेश्वर सिंह यादव और पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष जुगेंद्र सिंह यादव और उनकी पत्नी रेखा यादव, वर्तमान जिला पंचायत अध्यक्ष के खिलाफ एंटी भू माफिया और गैंगस्टर लएक्ट के तहत कार्रवाई करते हुए अवैध कब्जों को ढहाते हुए उन्हें गिरफ्तारी करने की कोशिश की लेकिन दोनों भाई फरार हो गए थे.
रामगोपाल के सगे रिश्तेदार हैं सपा नेता
रामेश्वर सिंह यादव और उनके भाई जुगेंद्र सिंह यादव सपा के राष्ट्रीय महासचिव प्रो. रामगोपाल यादव के सगे रिश्तेदार हैं. सपा मुखिया से रिश्तेदारी होने के कारण एटा और आस-पास के जनपदों की रजनीती में दोनों भाइयों की तूती बोलती थी. रामेश्वर सिंह यादव अलीगंज विधानसभा से तीन बार सपा विधायक रहे हैं. वहीं जुगेंद्र सिंह यादव दो बार सपा से जिला पंचायत अध्यक्ष और वर्तमान में उनकी पत्नी रेखा यादव जिला पंचायत अध्यक्ष हैं.
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta