उत्तर प्रदेश

आधार कार्ड पर दर्ज पता दिल्ली में निकला गलत, नेपाली नौकर निकला फर्जी

Admin Delhi 1
23 Nov 2022 12:24 PM GMT
आधार कार्ड पर दर्ज पता दिल्ली में निकला गलत, नेपाली नौकर निकला फर्जी
x

मेरठ क्राइम न्यूज़: ट्रांसपोर्टर और बिल्डर प्रदीप गुप्ता उर्फ पिंकी के घर हुई करोड़ों की चोरी में पुलिस अभी तक आरोपी नेपाली नौकर को नहीं पकड़ पाई है। नेपाली नौकर ने जो आधार कार्ड जमा कराया था, उसका दिल्ली का पता फर्जी निकला। नौकर के पते पर गई पुलिस टीम खाली हाथ लौट आई। वहीं, पुलिस ने बागपत के बालैनी में रहने वाले नेपाली समुदाय के लोगों को नौकर की फोटो भी दिखाई, लेकिन कोई भी नौकर को नहीं पहचान पाया। अब पुलिस की चार टीमें और लगा दी गई है। वहीं पुलिस की एक टीम नेपाल बार्डर के लिये रवाना कर दी गई है।

टीपी नगर थाने के नजदीक रहने वाले बिल्डर और ट्रांसपोर्टर प्रदीप गुप्ता उर्फ पिंकी रविवार को दिल्ली अपनी बेटी सांची गुप्ता की सगाई में गए थे। तभी आवास पर कार्यरत नेपाली नौकर वीर बहादुर दस लाख रुपये नकद और लाखों की कीमत के जेवरात लेकर फरार हो गया। हालांकि घटनास्थल पर हालात यह बता रहे थे कि चोरी करोड़ों में हुई है, लेकिन पीड़ित की तरफ से जेवरातों की जानकारी अभी पुलिस को नहीं दी गई है। पुलिस ने नौकरों की सप्लाई करने वाले व्यक्ति को पूछताछ के लिये हिरासत में लिया हुआ है। इसके अलावा भी कई लोग हिरासत में लिये गए हैं। एसएसपी ने चोरी की वारदात को खोलने के लिये क्राइम ब्रांच समेत चार टीमें और लगाई है। पुलिस की एक टीम नेपाली नौकर वीर बहादुर के दिल्ली के पते वाले आधार कार्ड के आधार पर दिल्ली गई तो उस पते पर रहने वाले लोगों ने बताया कि इस नाम का कोई भी व्यक्ति नहीं रहता है।

पुलिस ने नेपाल के रहने वाले लोगों की बस्ती में जाकर भी वीर बहादुर की फोटो दिखाई, लेकिन कोई भी इसे पहचानने में सफल नहीं हुआ। पुलिस का मानना है कि वीर बहादुर ने फर्जी तरीके से आधार कार्ड बनवाया और एजेंट के जरिये नौकरी हासिल की।

बालैनी में पुलिस टीम गई: बागपत के बालैनी में नेपाली समुदाय के काफी लोग रहते है। यहां के लोग आसपास के जनपदों में फैक्ट्रियों और घरों में काम करते हैं। इनकी महिलाएं घरों में सफाई और मेड का काम करती है। पुलिस की एक टीम बालैनी में नेपाली संगठन के अध्यक्ष से मिली और फोटो दिखाई तो बताया गया कि इस तरह का कोई भी इंसान न तो उनके संगठन से जुड़ा है और न ही कभी देखा गया है।

नेपाल बार्डर के लिये रवाना टीम: क्राइम ब्रांच की तरफ से पुलिस की एक टीम नेपाल के लिये रवाना कर दी गई है। इससे पहले दो नवंबर को जब फिजीशियन डा. अमिताभ गौतम के घर पचास लाख से अधिक की चोरी करने वाले नेपाली नौकर की तलाश में पुलिस की टीम को नेपाल भेजा गया था, तब पुलिस को खाली हाथ लौटना पड़ा था। इससे सबक लेते हुए पुलिस नेपाली लोगों के टच में रहने वालों से संपर्क बना रही है ताकि करोड़ों के जेवरात लेकर फरार होने वाली नेपाली नौकर को पकड़ा जा सके। पुलिस टीम को वाकायदा तमाम तरह के टिप्स दिये गए हैं और पुलिस अधिकारियों की पूरी निगरानी इस पूरे आपरेशन पर रखी जा रही है।

Next Story
© All Rights Reserved @ 2023 Janta Se Rishta