त्रिपुरा

त्रिपुरा : सरकार ने कोरोना वायरस कोविड-19 की चौथी लहर की आशंका, सार्वजनिक स्थानों पर मास्क पहनना अनिवार्य

Nidhi Singh
12 July 2022 9:59 AM GMT
त्रिपुरा : सरकार ने कोरोना वायरस कोविड-19 की चौथी लहर की आशंका, सार्वजनिक स्थानों पर मास्क पहनना अनिवार्य
x

त्रिपुरा सरकार ने कोरोना वायरस (कोविड-19) की चौथी लहर की आशंका को देखते हुए इसके प्रसार को रोकने के लिए अन्य सभी एहतियाती उपायों के साथ-साथ मंगलवार से सार्वजनिक स्थानों पर मास्क पहनना अनिवार्य कर दिया।

त्रिपुरा टास्क फोर्स की हुई बैठक में राज्य में कोविड-19 के बढ़ते मामलों पर चिंता व्यक्त की और शैक्षणिक संस्थानों, बाजार और सरकारी कार्यालयों सहित सार्वजनिक स्थान पर मास्क पहनना अनिवार्य कर दिया है। राज्य निगरानी अधिकारी डॉ दीप कुमार देबबर्मा ने कहा कि राज्य में कोरोना वायरस की चौथी लहर के प्रसार को रोकने के लिए विभाग की ओर से शुरुआत में कार्यालयों और बाजारों में सामूहिक परीक्षण किया जाएगा और एक सप्ताह के बाद स्थिति की समीक्षा करके निर्णय लिया जाएगा।
देबवर्मा ने राज्यवासियों से कोविड के नियमों का सख्ती से पालन करने का आग्रह किया। पिछले एक सप्ताह में 131 व्यक्ति कोविड से संक्रमित हुए हैं और पश्चिम त्रिपुरा जिले में कुल 82 मामले सामने आए हैं। देबबर्मा के अनुसार, पिछले 24 घंटे में 309 लोगों का कोविड परिक्षण किया गया जिसमें से 22 लोग संक्रमित पाए गए। राज्य में कोरोना संक्रमण दर 7.12 प्रतिशत है। जीबीपी अस्पताल में कोविड संक्रमित आठ मरीजों का उपचार किया जा रहा है। यह अस्पताल करीब 221 बिस्तर वाला अस्पताल है। उन्होंने कहा कि अन्य मरीज होम आइसोलेशन में हैं।
उन्होंने कहा, राज्य में सितंबर 2021 में कोविड के मामले घटने के बाद, अब फिर कोरोना मामलों में तेजी देखी गयी है। अगरतला नगर निगम क्षेत्र प्रसार का केंद्र बना है। इस बीच, त्रिपुरा सरकार ने भी केंद्र सरकार से संपर्क करने का फैसला किया है और पात्र आबादी के लिए 18 और उससे अधिक उम्र के लिए बूस्टर खुराक में छूट देने की मांग की है। फिलहाल राज्य में 60-वर्ष की आयु वर्ग को छोडक़र, सरकारी अस्पतालों में वैक्सीन की बूस्टर डोज उपलब्ध नहीं है और राज्य में बड़ी संख्या में लोगों को अभी तक वैक्सीन की बूस्टर डोज नहीं लग पाई है।


Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta